ग्रामीण क्षेत्र के स्कूली बच्चे भी प्राप्त कर सकेंगे उच्च स्तर की शिक्षा

ई-रूर्बन स्कूल पोर्टल लांच किया गया

ग्रामीण क्षेत्र के स्कूली बच्चे भी प्राप्त कर सकेंगे उच्च स्तर की शिक्षा

अब ग्रामीण क्षेत्र के स्कूली बच्चे भी उच्च स्तर की शिक्षा प्राप्त कर सकेंगे। इसी उद्देश्य से ई-रूर्बन स्कूल पोर्टल लांच किया गया। यह पोर्टल पर्पल पीपल लैब्स की ओर से लांच किया गया है।

जयपुर। अब ग्रामीण क्षेत्र के स्कूली बच्चे भी उच्च स्तर की शिक्षा प्राप्त कर सकेंगे। इसी उद्देश्य से ई-रूर्बन स्कूल पोर्टल लांच किया गया। यह पोर्टल पर्पल पीपल लैब्स की ओर से लांच किया गया है। इस पोर्टल के जरिये गांव व शहरों में बीच के सामाजिक अंतर को कम करने में मदद मिलेगी। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पदम डॉ. श्याम सुंदर पालीवाल, संयोजक और पर्पल पीपल लेब की निदेशक श्वेता पारख और स्वतंत्र राय रहे। उन्होंने बताया कि इस एजुकेशन पोर्टल के माध्यम से शहर के विधार्थियो व युवाओं को ग्रामीण विकास के प्रोजेक्ट्स पर स्कूली शिक्षा दी जायेगी, जिससे गांवों का शहरों की तरह विकसित किया जा सकेगा।

यह पोर्टल राजसमंद जिला स्थित आदर्श गांव पिपलांत्री से प्रेरित होकर बनाया गया है, जिस तरह से पिपलांत्री गांव में हर बच्चा शिक्षित है। हर व्यक्ति के पास रोजगार है। वह के स्कूलों में शिक्षा का स्तर शहरों की तरह है। इसी तरह राजस्थान के सभी गांवों को विकसित करना चाहती है। इस पोर्टल के तीन अहम उद्देश्य है, जिसमें पहला गांव को शहर से जोड़ा जाएगा। दूसरा ईको टूरिज्म को मद्देनजर रखते हुए ग्रामीण परिवेश व संसाधनों को विकसित किया जाएगा और तीसरा शहर के सारे स्कूलों में ग्रामीण विकास के प्रति जागरूकता बढ़ायी जायेगी।

Post Comment

Comment List

Latest News

प्रकाश राजपुरोहित ने संभाला जयपुर जिला कलेक्टर का कार्यभार, कहा, 'सरकार की योजनाओं को जनता तक पहुंचाना पहली प्राथमिकता' प्रकाश राजपुरोहित ने संभाला जयपुर जिला कलेक्टर का कार्यभार, कहा, 'सरकार की योजनाओं को जनता तक पहुंचाना पहली प्राथमिकता'
जयपुर। जयपुर जिला कलेक्टर प्रकाश राजपुरोहित ने मंगलवार को कार्यभार ग्रहण किया।
जापानी जलक्षेत्र में घुसे दो चीनी जहाज
काटली नदी के अतिक्रमियों को सुनवाई का मौका देकर करें कार्रवाई
एक बार फिर सलमान-शाहरुख दिखेंगे एक साथ
हिस्ट्रीशीटर के घर के बाहर आधा दर्जन लोगों ने किया हवाई फायर
ग्रैंड स्लैम सेमीफाइनल में पहुंचीं सानिया, पहली बार विम्बलडन के मिश्रित युगल में बनाई जगह
सिंगल यूज प्लास्टिक की रोकथाम के लिए टीम का गठन