जयपुर की अवनी ने देश को दिलाया पहला पैरालंपिक कोटा, वर्ल्ड रिकॉर्ड के साथ जीता सोना

10 मीटर एयर राइफल में वर्ल्ड रिकॉर्ड के साथ कटाया पेरिस का टिकट

जयपुर की अवनी ने देश को दिलाया पहला पैरालंपिक कोटा, वर्ल्ड रिकॉर्ड के साथ जीता सोना

टोक्यो ओलंपिक की स्वर्ण पदक विजेता जयपुर की अंतरराष्ट्रीय निशानेबाज अवनी लेखरा ने फ्रांस में पैरा शूटिंग वर्ल्ड कप में नये विश्व रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक जीता और भारत के लिए पेरिस पैरालंपिक का पहला कोटा हासिल कर लिया।

जयपुर। टोक्यो ओलंपिक की स्वर्ण पदक विजेता जयपुर की अंतरराष्ट्रीय निशानेबाज अवनी लेखरा ने फ्रांस में पैरा शूटिंग वर्ल्ड कप में नये विश्व रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक जीता और भारत के लिए पेरिस पैरालंपिक का पहला कोटा हासिल कर लिया। वीजा संबंध परेशानियों के कारण वर्ल्ड कप में देरी से पहुंची अवनी ने महिलाओं की एसएच1 दस मीटर एयर राइफल स्पर्धा में 250.6 अंकों के साथ स्वर्ण पदक पर कब्जा किया । पोलैंड की रजत पदक विजेता एमिलिया बाबस्का ने 247.6 अंक हासिल किए। स्वीडन की अन्ना नॉर्मन ने 225.6 अंकों के साथ कांस्य पदक जीता। अवनी लेखरा ने इससे पहले 2020 के टोक्यो पैरालंपिक में विश्व रिकॉर्ड की बराबरी की थी, जब उन्होंने फाइनल में 249.6 का स्कोर किया था और पैरालंपिक स्वर्ण जीतने वाली पहली भारतीय महिला बनी थीं।

आखिरी निशाने पर तोड़ा वर्ल्ड रिकॉर्ड

अवनी ने अपने 24वें और अंतिम निशाने के साथ विश्व रिकॉर्ड तोड़ा। रजत पदक विजेता बाबस्का से पहले ही 2.2 अंक की बढ़त बनाने के बाद अवनी ने बड़े शांत भाव से अपना आखिरी निशाना साधते हुए विश्व रिकॉर्ड तोड़ते हुए स्वर्ण पदक पर कब्जा कर लिया। अवनी ने आखिरी शॉट पर 10.8 का स्कोर किया।

Read More स्टब्स सबसे महंगे, नहीं बिके कप्तान बावुमा

पेरिस पैरालंपिक में स्थान पक्का

पेरिस में इस रिकॉर्ड तोड़ प्रदर्शन के साथ अवनी ने पेरिस में 2024 पैरालंपिक के लिए एक बर्थ भी बुक किया है। अवनी फ्रांस में चल रहे वर्ल्ड कप में कुल चार स्पर्धाओं में हिस्सा लेगी। भारतीय खेमा अभी अवनी से और गोल्ड की उम्मीद लगाए है।

मुख्यमंत्री ने दी बधाई

Read More आईपीएल का अगला सत्र 'होम एंड अवे' प्रारूप में खेला जाएगा

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने फ्रांस में खेली जा रही पैरा शूटिंग वर्ल्ड कप में नए विश्व रिकॉर्ड के साथ महिलाओं के 10 मीटर एयर राइफल एसएच-1 स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतने पर राजस्थान की अवनी लेखरा को हार्दिक बधाई दी। उन्होंने कहा आप ने शानदार प्रदर्शन कर पेरिस में होने वाले पैरालंपिक खेलों में भारत के लिए एक कोटा भी हासिल कर लिया। जो शानदार है, हमे आप पर बहुत गर्व है।

विश्व कप से बाहर होने का था खतरा

इससे पहले अवनी लेखरा की विश्व कप में भागीदारी पर खतरा हो गया था, जब उनके एस्कॉर्ट (मां) और कोच के वीजा को मंजूरी नहीं मिली। ऐसे में अवनी ने ट्वीटर के जरिए अधिकारियों से मदद मांगी। भारत सरकार के खेल मंत्रालय और विदेश मंत्रालय के दखल के बाद वीजा मिल सका और अवनी तय समय से देरी से वर्ल्ड कप में पहुंची।

Read More भारत हो सकता है वाहनों के निर्यात का केंद्र, मेगा-उत्पादक बनने का मार्ग खुला

Post Comment

Comment List

Latest News