सरकार ने फसलों की एमएसपी में की वृद्धि करने की घोषणा

85 रुपए प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गयी

सरकार ने फसलों की एमएसपी में की वृद्धि करने की घोषणा

सरकार ने किसानों को बड़ी राहत देते खरीफ सीजन की 17 फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) में वृद्धि करने की घोषणा की और कहा कि वह किसानों को उनकी उपज की लागत का डेढ़ गुनी कीमत दिलाने के लिए कटिबद्ध है।

नई दिल्ली। सरकार ने किसानों को बड़ी राहत देते खरीफ सीजन की 17 फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) में वृद्धि करने की घोषणा की और कहा कि वह किसानों को उनकी उपज की लागत का डेढ़ गुनी कीमत दिलाने के लिए कटिबद्ध है। एमएसपी में वृद्धि करने के प्रस्ताव में धान के मूल्य में 100, मूंग में 480 और सूरजमुखी में 385 रुपए प्रति क्विंटल की बढ़ोतरी की गयी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक में यह फैसला लिया गया। बैठक के बाद अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा कि हमने एमएसपी को फसल की लागत से 50 से 85 प्रतिशत तक ऊंचा रखा है।  

किसमें कितनी वृद्धि
ठाकुर ने कहा कि इस बार एमएसपी में सबसे ज्यादा वृद्धि तिल (523 रुपए प्रति क्विंटल), मूंग (480 रुपए) और सूरजमुखी में (385 रुपए प्रति क्विंटल) की गई। उन्होंने कहा कि सामान्य ग्रेड के धान का मूल्य 100 रुपए प्रति क्विंटल बढ़ाकर 2040 रुपए तथा ए ग्रेड के धान का मूल्य इतनी ही वृद्धि के साथ 2060 रुपए निर्धारित किया गया है। ज्वार (संकर) 232 रुपए बढ़ाकर 2970 और ज्वार मालदानी इतनी ही वृद्धि के साथ 2990 रुपए प्रति क्विंटल हो गई है। बाजरा और रागी के एमएसपी को क्रमश: 100 और 201 रुपए प्रति क्विंटल बढ़ाकर 2350 और 3578 रुपये प्रति क्विंटल निर्धारित किया गया है। मक्का के एमएसपी में 92 रुपए की वृद्धि कर इसे 1962, अरहर में 300 रुपए की वृद्धि कर इसे 6600, मूंग में 480 की वृद्धि कर इसे 7755 रुपए प्रति क्विंटल, उड़द में 300 रुपये की वृद्धि कर इसका 6600 रुपए प्रति क्विंटल तय किया गया है।

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News