खनन माफियाओं को चिन्हित कर उनके खिलाफ की जाएगी सख्त कार्रवाई : उषा

आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए

खनन माफियाओं को चिन्हित कर उनके खिलाफ की जाएगी सख्त कार्रवाई : उषा

शर्मा ने सचिवालय में अवैध खनन की रोकथाम के लिए जिलों में की गई कार्रवाइयों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि बड़े स्तर पर अवैध खनन कर रहे खनन माफिया को टारगेट कर उन पर कार्रवाई की जाए और अवैध खनन में प्रयोग की जा रही मशीनरी को भी जब्त किया जाए, तभी खनन पर प्रभावी रोक लगाया जाना संभव होगा।

जयपुर। प्रदेश में खनन माफियाओं को चिन्हित कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इस संबंध में मुख्य सचिव उषा शर्मा ने संबंधित सभी विभागों को निर्देश दिए है। शर्मा ने सचिवालय में अवैध खनन की रोकथाम के लिए जिलों में की गई कार्रवाइयों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि बड़े स्तर पर अवैध खनन कर रहे खनन माफिया को टारगेट कर उन पर कार्रवाई की जाए और अवैध खनन में प्रयोग की जा रही मशीनरी को भी जब्त किया जाए, तभी खनन पर प्रभावी रोक लगाया जाना संभव होगा। उन्होंने आगामी दिनों में त्योहारों और विभिन्न धार्मिक यात्राओं के मद्देनजर सभी जिलों में साम्प्रदायिक और सामाजिक सौहार्द कायम रखने के लिए आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए।

रकार है गंभीर
सरकार अवैध खनन पर प्रभावी रोकथाम के लिए गंभीर है। सभी जिला कलक्टर और पुलिस अधीक्षक योजना बनाकर खनन माफिया पर बिना किसी दबाव के सख्त कार्रवाई करे। खान विभाग द्वारा जिलों में अवैध खनन के कुल 705 मामले चिह्नित किए गए हैं। जिला कलक्टर और पुलिस अधीक्षक साथ मिलकर अवैध खनन के चिह्नित क्षेत्रों का दौरा करे, ताकि अवैध खनन करने वालों में भय पैदा हो सके। अवैध खनन के विरुद्ध दर्ज एफआईआर के मामलों को लम्बित नहीं रहने दें। बिना पट्टे या लाइसेंस के खनन करने के अतिरिक्त ऐसे वैध खनन पट्टे धारकों के विरुद्ध भी कड़ी कार्रवाई की जाए जो अपने लीज क्षेत्र को छोड़कर आस-पास के स्थानों पर खनन कर रहे हैं।

Post Comment

Comment List

Latest News