मांझे से घायल पक्षियों के लिए निगम ग्रेटर ने शुरू की हेल्पलाइन

एनजीओ करेंगे घायल पक्षियों का उपचार

मांझे से घायल पक्षियों के लिए निगम ग्रेटर ने शुरू की हेल्पलाइन

आयुक्त महेन्द्र सोनी ने बताया कि मकर संक्राति के पर्व पर बड़ी संख्या में पंतग उड़ाई जाती है, जिससे वह बेजुवान परिंदे मांझे से घायल हो जाते है। इनके उपचार के लिए निगम ग्रेटर ने हेल्पलाइन की शुरुआत की है जिस पर आने वाले सूचना को निगम द्वारा इन एनजीओ की उपलब्घ करवाया जाएगा जो फील्ड में जाकर तुरन्त इनका उपचार करेगें।

ब्यूरो/नवज्योति, जयपुर। मकर संक्रांति पर पतंगबाजी के दौरान पतंग और माझे से घायल होने वाले पक्षियों की सहायता एवं उपचार के लिए नगर निगम जयपुर ग्रेटर ने हेल्पलाइन नम्बर 0141-2742181 की शुरुआत की है। इसके लिए निगम ग्रेटर मुख्यालय में निगम ग्रेटर महापौर डॉ. सौम्या गुर्जर और आयुक्त महेन्द्र सोनी ने हेल्पलाइन नंबर के पोस्टर का विमोचन किया। गुर्जर ने बताया कि हेल्पलाइन चार दिवस के लिए सुबह 7 से शाम 7 बजे तक संचालित की जाएगी। हेल्पलाइन पर आमजन पंतगबाजी से घायल पक्षियों की सूचना दे सकेगा। पतंगबाजी में घायल पक्षियों की सहायता के लिए निगम के साथ विभिन्न स्वयं सहायता समूहों (एनजीओ) जुडेÞ है, जो हमारी हेल्पलाइन पर घायल पक्षियों की सूचना आने पर संबंधित स्थान एवं जगह पर जा कर इन घायल पक्षियों का उपचार करेंगे।

प्रात: छह से आठ और शाम पांच से सात बजे तक नहीं उड़ाएं पतंग
गुर्जर ने शहरवासियों अपील करते हुए कहा कि प्रात: 6 से 8 बजे एवं शाम 5 से 7 बजे के बीच पंतग न उड़ाएं और चाइनीज मांझे से भी पंतगबाजी न करें। वहीं आयुक्त महेन्द्र सोनी ने बताया कि मकर संक्राति के पर्व पर बड़ी संख्या में पंतग उड़ाई जाती है, जिससे वह बेजुवान परिंदे मांझे से घायल हो जाते है। इनके उपचार के लिए निगम ग्रेटर ने हेल्पलाइन की शुरुआत की है जिस पर आने वाले सूचना को निगम द्वारा इन एनजीओ की उपलब्घ करवाया जाएगा जो फील्ड में जाकर तुरन्त इनका उपचार करेगें।

Tags:

Post Comment

Comment List

Latest News