atypical parkinsonism
स्वास्थ्य जयपुर

40 से 60 वर्ष के लोगों को एटिपिकल पार्किंसनिज्म का खतरा ज्यादा

40 से 60 वर्ष के लोगों को एटिपिकल पार्किंसनिज्म का खतरा ज्यादा जब मस्तिष्क के अन्य हिस्सों में भी न्यूरोडीजेनेरेशन होने लगे तब उसे एटिपिकल पार्किंसनिज्म कहा जाता है।
Read More...

Advertisement

Advertisement