सानिया ने विम्बलडन को कहा अलविदा, सेमीफाइनल में बाहर हुए सानिया, पाविक

स्कुपस्की- क्रावजिक ने सानिया और पाविक को बुधवार को 6-4, 5-7, 4-6 से शिकस्त दी।

 सानिया ने विम्बलडन को कहा अलविदा, सेमीफाइनल में बाहर हुए सानिया, पाविक

लंदन। भारत की स्टार टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा ने अपने करियर के आखिरी विम्बलडन के मिश्रित युगल सेमीफाइल में हारकर बाहर होने के बाद गुरुवार को विश्व के सबसे पुराने ग्रैंड स्लैम आयोजन को अलविदा कहा। भारतीय टेनिस दिग्गज सानिया मिर्जा और उनके क्रोएशियाई साथी मेट पाविक विंबलडन मिश्रित युगल सेमीफाइनल में नील स्कूप्सकी और डेजीरे क्रावजिक की ब्रिटिश-अमेरिकन जोड़ी से हारकर दुनिया के सबसे पुराने ग्रैंड स्लैम से बाहर हो गये। स्कुपस्की- क्रावजिक ने सानिया और पाविक ??को बुधवार को 6-4, 5-7, 4-6 से शिकस्त दी।

लंदन। भारत की स्टार टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा ने अपने करियर के आखिरी विम्बलडन के मिश्रित युगल सेमीफाइल में हारकर बाहर होने के बाद गुरुवार को विश्व के सबसे पुराने ग्रैंड स्लैम आयोजन को अलविदा कहा। भारतीय टेनिस दिग्गज सानिया मिर्जा और उनके क्रोएशियाई साथी मेट पाविक विंबलडन मिश्रित युगल सेमीफाइनल में नील स्कूप्सकी और डेजीरे क्रावजिक की ब्रिटिश-अमेरिकन जोड़ी से हारकर दुनिया के सबसे पुराने ग्रैंड स्लैम से बाहर हो गये। स्कुपस्की- क्रावजिक ने सानिया और पाविक को बुधवार को 6-4, 5-7, 4-6 से शिकस्त दी।

सानिया पहली बार विम्बलडन के मिश्रित युगल सेमीफाइनल में पहुंची थीं। वह तीन बार (2011, 2013 और 2015) क्वार्टरफाइनल में बाहर हो चुकी हैं। छह बार की ग्रैंड स्लैम चैंपियन सानिया ने 2009 ऑस्ट्रेलियन ओपन, 2012 फ्रेंच ओपन और 2014 यूएस ओपन सहित तीन मिश्रित युगल खिताब जीते हैं। उन्होंने महज 17 साल की उम्र में रूस की एलिसा क्लेबानोवा के साथ विम्बलडन का महिला युगल खिताब जीता था। वह ऐसा करके ग्रैंड स्लैम जीतने वाली पहली भारतीय महिला बन गयी थीं।  सानिया ने कहा, 'मैं ङ्क्षवबलडन को याद करूंगी लेकिन मुझे लगता है कि अब आगे बढऩे का समय है। जीवन में ऐसी चीजें हैं जो टेनिस मैच खेलने से ज्यादा महत्वपूर्ण हैं और मैं अब जीवन के उसी चरण पर हूं।' सानिया ने जनवरी में ऑस्ट्रेलियन ओपन की महिला युगल स्पर्धा में शुरुआती दौर में हार के बाद अपनी सेवानिवृत्ति की घोषणा करते हुए कहा था कि 2022 सीजन उनका आखिरी होगा।


सानिया ने पत्र लिखकर विम्बलडन को कहा अलविदा
सानिया ने इंस्टाग्राम के माध्यम से कहा, 'खेल आपसे बहुत कुछ ले लेता है.) मानसिक तौर पर, शारीरिक तौर पर, भावनात्मक तौर पर.. जीतना और हारना. घंटो तक मेहनत करना और मुश्किल हारों के बाद रात भर जागना, लेकिन वह आपको बदले में इतना कुछ देता है जो काफी अन्य 'नौकरियां' नहीं दे सकतीं। मैं इसके लिये हमेशा आभारी रहूंगी. खुशी के आसुओं के लिये, लड़ाई के लिये, संघर्ष के लिये। हम जो भी मेहनत करते हैं वह अंतत: रंग लाती है।' उन्होंने कहा, 'विम्बलडन, इस बार जीत होनी नहीं थी लेकिन तुम शानदार रहे हो। पिछले 20 सालों में यहां खेलना और जीतना मेरा सौभाग्य रहा है। अगली बार मिलने तक प्रशंसकों की कमी महसूस होगी।'

विंबलडन में मिश्रित युगल में सानिया का यह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन था, जबकि युगल प्रतियोगिता में सानिया 2015 में स्विस दिग्गज मार्टिना हिंगिस के साथ खिताब जीत चुकी हैं। उल्लेखनीय है कि सानिया ने इस साल की शुरुआत में यह घोषणा कर दी थी कि वह अपना अंतिम सीजन खेल रही हैं। हिंगिस और सानिया की जोड़ी ने यूएस ओपन 2015 और ऑस्ट्रेलियन ओपन 2016 का खिताब जीतकर ग्रैंड स्लैम की हैट्रिक लगाई थी। तीन मिश्रित युगल ट्राफियों सहित छह ग्रैंड स्लैम खिताबों के साथ सानिया भारत की सबसे कुशल महिला टेनिस खिलाड़ी हैं। उन्होंने इससे पहले महेश भूपति के साथ साझेदारी करते हुए 2009 ऑस्ट्रेलियन ओपन और 2012 फ्रेंच ओपन जीता था। सानिया ने ब्राजीलियाई ब्रूनो सोरेस के साथ 2014 यूएस ओपन खिताब भी जीता था।

Post Comment

Comment List

Latest News

फिल्म 'कोड नेम तिरंगा' का ट्रेलर रिलीज, हार्डी संधू और परिणीति चोपड़ा मुख्य भूमिका में फिल्म 'कोड नेम तिरंगा' का ट्रेलर रिलीज, हार्डी संधू और परिणीति चोपड़ा मुख्य भूमिका में
फिल्म में परिणीति जबरदस्त एक्शन करती दिखाई हुई दिखाई देंगी। फिल्म में परिणीति चोपड़ा और हार्डी संधू के अलावा अभिनेता...
आरएसएस पीएफआई से भी बदतर संगठन : लालू 
अभ्यर्थियों ने राजस्थान लोक सेवा आयोग के बाहर किया प्रदर्शन
माइनर मिनरल के 609 हैक्टेयर के 95 प्लॉट नीलामी के लिए तैयारः डॉ. अग्रवाल
गहलोत दिल्ली जायेंगे और कांग्रेस आलाकमान से मुलाकात करेंगे: खाचरियावास
कोविड-19 से उबरे मोहम्मद शमी
बाल विवाह के मामले में देश में दूसरे स्‍थान पर है राजस्‍थान