यूक्रेनी जमीन की रक्षा के लिए परमाणु बम तक गिराने को तैयार रूस

पुतिन के करीबी की चेतावनी

यूक्रेनी जमीन की रक्षा के लिए परमाणु बम तक गिराने को तैयार रूस

पूर्व राष्ट्रपति दिमित्री मेदवेदेव ने कहा कि रूस से जुड़े यूक्रेन के कब्जे वाले इलाकों की रक्षा के लिए मॉस्को के शस्त्रागार में मौजूद किसी भी हथियार का इस्तेमाल किया जा सकता है जिनमें परमाणु हथियार भी शामिल हैं।

मॉस्को। यूरोप में पिछले 7 महीने से रूस और यूक्रेन के बीच लड़ाई चल रही है लेकिन तनाव रूस और पश्चिम के बीच बढ़ता दिख रहा है। रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के बाद अब उनके एक करीबी ने पश्चिमी देशों को परमाणु हथियारों के इस्तेमाल की धमकी दी है। रूस के पूर्व राष्ट्रपति दिमित्री मेदवेदेव ने कहा कि रूस से जुड़े यूक्रेन के कब्जे वाले इलाकों की रक्षा के लिए मॉस्को के शस्त्रागार में मौजूद किसी भी हथियार का इस्तेमाल किया जा सकता है जिनमें परमाणु हथियार भी शामिल हैं। इससे पहले पुतिन ने पश्चिमी देशों को धमकी देते हुए कहा था कि रूस अपने लोगों की रक्षा में किसी भी उपलब्ध साधन का इस्तेमाल करने से पीछे नहीं हटेगा और यह सिर्फ कोरी बयानबाजी नहीं है। मेदवेदेव रूसी सिक्योरिटी काउंसिल के डेप्युटी चेयरमैन भी हैं। उन्होंने कहा कि यूक्रेन के बड़े क्षेत्रों में रूसी की तरफ से भेजे गए और अलगाववादी अधिकारियों की ओर से जनमत संग्रह होगा और इसके बाद वापसी का कोई रास्ता नहीं होगा। मेदवेदेव ने कहा कि पश्चिमी सरकारों और नाटो देशों के नागरिकों को यह समझने की जरूरत है कि रूस ने अपना रास्ता चुन लिया है। चाहें मेदवेदेव हों या पुतिन, रूसी नेताओं और अधिकारियों की बयानबाजी में परमाणु हमले की धमकियां बढ़ गई हैं।

नाटो से ज्यादा तबाही के साधन हमारे पास
पुतिन ने कहा कि जो रूस के संबंध में इस प्रकार के बयान देते हैं मैं उन्हें यह याद दिलाना चाहता हूं कि हमारे देश में भी तबाही के अनेक साधन हैं जो नाटो देशों से अधिक आधुनिक हैं। जब हमारे देश की क्षेत्रीय अखंडता के लिए खतरा पैदा किया जाएगा तो रूस की और अपने लोगों की रक्षा के लिए हम हमारे पास मौजूद सभी साधनों का इस्तेमाल करेंगे। रूसी रक्षा मंत्री ने कहा कि अब तक यूक्रेन के साथ सैन्य अभियान में रूस के 5,937 जवान मारे गए हैं और यूक्रेन के 61,207 सैनिक मारे गए हैं। पश्चिम का अनुमान है कि मास्को के दावे के विपरीत उसके कहीं ज्यादा सैनिक युद्ध में मारे जा चुके हैं।

हमें ब्लैकमेल करने वाले सावधान : पुतिन 
पुतिन ने 3 लाख रिजर्व सैनिकों की आंशिक तैनाती की घोषणा करते हुए कहा कि जो हमें परमाणु हथियारों के साथ ब्लैकमेल करने की कोशिश कर रहे हैं, उन्हें पता होना चाहिए ये हवाएं उनकी तरफ भी मुड़ सकती हैं। रूसी राष्ट्रपति ने दावा किया कि पश्चिमी देशों ने हर सीमा को पार कर दिया है और रूस को परमाणु हथियारों से ब्लैकमेल करने की कोशिश कर रहे हैं। पुतिन का यह बयान न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा के सत्र के मध्य आया है जिसमें रूस को जनमत संग्रह योजना को लेकर चेतावनी दी गई है।

Read More मंगल पर पहली बार मिले पानी के सबूत

Tags: nuclear

Post Comment

Comment List

Latest News

भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुई सोनिया गांधी, राहुल ने कहा,  यात्रा को मिलेगी मजबूती भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुई सोनिया गांधी, राहुल ने कहा, यात्रा को मिलेगी मजबूती
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी जी भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुईं। इससे पहले कांग्रेस संचार विभाग के प्रभारी जयराम रमेश...
विकास के लिए धन की कोई कमी नहीं, आप मांगते-मांगते थक जाएंगे पर मैं देते-देते नहीं थकूंगा: गहलोत
दिल्ली के कपड़ा मार्केट में लगी भीषण आग, 1 व्यक्ति की मौत
फकीर आदमी हूं, मेरे यहां धेला नहीं मिलेगा और चुनाव में अखिलेश-जयंत की मदद करूंगा: सत्यपाल मलिक
बॉन्ड नीति के विरोध में रेजिडेंट डॉक्टर्स का अस्पतालों में पूर्णतया कार्य बहिष्कार
पूर्व पुलिसकर्मी ने चाइल्ड केयर सेंटर में की फायरिंग, 23 बच्चों समेत 34 लोगों की मौत
भारत में निर्मित कफ सिरप पीने से गाम्बिया में 66 बच्चों की मौत, डब्ल्यूएचओ ने दी चेतावनी