विशेष पिछड़ा वर्ग उत्तर मैट्रिक छात्रवृत्ति योजनाः 40 करोड़ अतिरिक्त बजट का प्रावधान

मुख्यमंत्री ने दी मंजूरी

विशेष पिछड़ा वर्ग उत्तर मैट्रिक छात्रवृत्ति योजनाः 40 करोड़ अतिरिक्त बजट का प्रावधान

योजनांतर्गत चालू वित्तीय वर्ष में पात्र विद्यार्थियों को 88 करोड़ रूपए से अधिक की छात्रवृत्तियां पहले ही दी जा चुकी हैं।

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने देवनारायण योजना के तहत संचालित विशेष पिछड़ा वर्ग उत्तर मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना के लिए 40 करोड़ रूपए के अतिरिक्त बजट प्रावधान के प्रस्ताव को मंजूरी दी है। योजनांतर्गत चालू वित्तीय वर्ष में पात्र विद्यार्थियों को 88 करोड़ रूपए से अधिक की छात्रवृत्तियां पहले ही दी जा चुकी हैं।

गहलोत द्वारा योजना हेतु 40 करोड़ रूपए की अतिरिक्त स्वीकृति से विशेष पिछड़ा वर्ग के उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे अधिक से अधिक विद्यार्थियों को फीस का पुनर्भरण एवं एस्कोर्ट भत्ता मिल सकेगा तथा उनके अभिभावकों पर पड़ने वाला आर्थिक बोझ कम होगा। विशेष पिछड़ा वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर विद्यार्थियों के उच्च शिक्षा प्राप्त करने में आने वाले खर्च को वहन करने में सहायता करने तथा उनकी आर्थिक रूप से सहायता करने के लिए उत्तर मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना लाई गई है। गत वर्ष उक्त योजनांतर्गत लगभग 87 करोड़ रूपए की छात्रवृत्ति दी गई थी।

 

Read More मेयर सौम्या ने सीएम से मिलने के बाद डीएलबी को दिया नोटिस का जवाब

Post Comment

Comment List

Latest News