एक्सरसाइज के बीच लेते रहें गहरी सांस

बढ़ती है स्ट्रेंथ

एक्सरसाइज के बीच लेते रहें गहरी सांस

एक्सरसाइज करते वक्त चेस्ट के बजाय डायफ्रॉम से गहरी सांस लेने की प्रक्रिया को सबसे सही माना जाता है। इससे फेफड़ों तक भरपूर मात्रा में ऑक्सीजन पहुंचती है जिसकी एक्सरसाइज के दौरान बॉडी को सबसे ज्यादा जरूरत होती है।

वैसे तो एक्सरसाइज और आराम करने के दौरान सांस लेना और छोड़ना एक स्वभाविक प्रक्रिया है,लेकिन अगर इसकी सही प्रक्रिया को अपनाते हैं तो न सिर्फ इससे परफॉर्मेंस सुधरती है बल्कि स्ट्रेंथ भी बढ़ती है। एक्सरसाइज करते वक्त चेस्ट के बजाय डायफ्रॉम से गहरी सांस लेने की प्रक्रिया को सबसे सही माना जाता है। इससे फेफड़ों तक भरपूर मात्रा में ऑक्सीजन पहुंचती है जिसकी एक्सरसाइज के दौरान बॉडी को सबसे ज्यादा जरूरत होती है। सांस लेने के सही तरीके को अपनाकर आप उस एक्टिविटी को न सिर्फ  आरामदायक और सुरक्षित तरीके से कर सकते हैं बल्कि उसके ज्यादा से ज्यादा फायदे भी उठा सकते हैं। गहरी सांस लेने से ऑक्सीजन की भरपूर मात्रा शरीर में पहुंचती है जो फेफड़ों को हेल्दी रखने के साथ उसे डिटॉक्स भी करती है।

हेल्दी बने रहने के लिए आप योग या एक्सरसाइज जो कुछ भी करते हैं उस पर फोकस करें। सांस लेने-छोड़ने की प्रक्रिया खुद-ब-खुद सेट हो जाती है।
बॉडी का पोस्चर भी इसमें बहुत मायने रखता है। सीधे खड़े हो जाएं और डायफ्रॉम से सांस लें चेस्ट को ओपन करें, ठुड्डी को ऊपर की ओर उठाएं। सांस लें और छोड़ें।

  • कॉर्डियोवेस्कुलर वर्कआउट के दौरान नाक और मुंह से सांस लें। जितनी देर तक सांस लें उतनी ही देर तक सांस छोड़ना भी है।
  • गहरी सांस लेने से पेट, पीठ, साइड की मसल्स रिलैक्स रहती हैं जिससे स्पाइन में होनी वाली खिंचाव से बचा जा सकता है।
  • इससे आप किसी भी तरह के एक्सरसाइज को कंफर्टेबल होकर लंबे समय तक कर सकते हैं।
  • किसी भी तरह की इंजुरी होने की संभावना काफी हद तक कम हो जाती है। पूरी बॉडी में ब्लड का सर्कुलेशन सही तरीके से होता है।
  • एक्सरसाइज के बीच में अगर आप बहुत ज्यादा थक गए हैं तो गहरी सांस लेने और छोड़ने से आप फि र से चार्ज हो जाते हैं।

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News

2007 विश्व कप के हीरो जोगिंदर ने क्रिकेट के से लिया संन्यास 2007 विश्व कप के हीरो जोगिंदर ने क्रिकेट के से लिया संन्यास
वर्ष 2007 में ही उन्होंने आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था। तब टी-20 विश्व कप में जोगिंदर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी...
रणजी ट्रॉफी: आंध्र प्रदेश को हरा मध्यप्रदेश भी अंतिम चार में पहुंची
वनडे ट्रॉफी में राजस्थान की बेटियों का कमाल: आयुषी के शतक से पंजाब को 69 रनों से हराया
रेल बजट में राजस्थान को मिला 9532 करोड़ रुपए का बजट
दोस्ती वाला प्यार या प्यार वाली चाहत, इश्क की अपनी चाल है, अब बर्बाद हो या आबाद किस्मत की बात है
गैंगस्टर को सोशल मीडिया पर करते थे फॉलो-लाइक व सहयोग, बॉक्सर के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी  
मेरी पत्नी ने कहा था सीएम से पंगे मत लो : गुढ़ा