आईओए अध्यक्ष बनने के लिए पीटी उषा का रास्ता साफ

नामांकन की समय सीमा समाप्त हुई

आईओए अध्यक्ष बनने के लिए पीटी उषा का रास्ता साफ

उन्हें सबसे ज्यादा 1984 के लॉस एंजिल्स ओलंपिक के लिये याद किया जाता है, जहां वह 400 मीटर बाधा दौड़ के फाइनल में पदक से चूक गयी थीं। रोमानिया की क्रिस्टियाना कोजोकारू ने उषा को सेकंड के सौवें हिस्से से हराकर कांस्य पदक अपने नाम किया था।

नई दिल्ली। भारत की दिग्गज एथलीट और मनोनीत राज्यसभा सदस्य पीटी उषा भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) के अध्यक्ष पद की एकमात्र उम्मीदवार होने के नाते 10 दिसंबर को संघ की पहली महिला अध्यक्ष चुनी जाएंगी।  पय्योली एक्सप्रेस के नाम से प्रख्यात उषा ने रविवार को अध्यक्ष पद के लिए नामांकन भरा, जबकि उनकी टीम के 14 अन्य साथियों ने अलग-अलग पदों के लिये अपनी उम्मीदवारी दर्ज करवाई।  ं

नामांकन की समय सीमा समाप्त हुई
दो हफ्ते बाद होने वाले आईओए चुनावों के लिये नामांकन की समय सीमा रविवार को समाप्त हो गई। आईओए के निर्वाचन अधिकारी उमेश सिन्हा ने बताया कि 25 और 26 नवंबर को किसी ने नामांकन दर्ज नहीं किया, जबकि 27 तारीख को कुल 24 लोगों ने अलग-अलग पदों के लिये अपनी उम्मीदवारी पेश की।   उषा सबसे अधिक सुशोभित भारतीय एथलीटों में से एक हैं, जिन्होंने 1982 से 1994 तक एशियाई खेलों में चार स्वर्ण सहित 11 पदक जीते हैं।

उन्होंने 1986 के सियोल एशियाई खेलों में 200 मीटर, 400 मीटर, 400 मीटर बाधा दौड़ और 4 गुणा 400 मीटर रिले सहित चार स्वर्ण जीते, जबकि 100 मीटर में चांदी का तमगा अपने नाम किया। उषा ने 1982 नई दिल्ली एशियाई खेलों में 100 मीटर और 200 मीटर में पदक जीते। उन्होंने 1983 से 1998 तक एशियाई चैंपियनशिप में सामूहिक रूप से 100 मीटर, 200 मीटर, 400 मीटर बाधा दौड़, 4 गुणा 100 मीटर रिले और 4 गुणा 400 मीटर रिले में 14 स्वर्ण सहित अभूतपूर्व 23 पदक जीते थे।

लॉस एंजिल्स में चूक गई थी पदक से
उन्हें सबसे ज्यादा 1984 के लॉस एंजिल्स ओलंपिक के लिये याद किया जाता है, जहां वह 400 मीटर बाधा दौड़ के फाइनल में पदक से चूक गयी थीं। रोमानिया की क्रिस्टियाना कोजोकारू ने उषा को सेकंड के सौवें हिस्से से हराकर कांस्य पदक अपने नाम किया था। उषा को आईओए के एथलीट आयोग द्वारा उत्कृष्ट मेरिट (एसओएम) के आठ खिलाड़ियों में से एक के रूप में भी चुना गया है, जिससे वह निर्वाचक मंडल की सदस्य बन गई हैं। वह पहली महिला अध्यक्ष होने के अलावा आईओए के 95 साल के इतिहास में संघ का नेतृत्व करने वाली पहली ओलंपियन और पहली अंतरराष्ट्रीय पदक विजेता भी होंगी। आईओए के चुनाव एक अध्यक्ष, एक वरिष्ठ उपाध्यक्ष,  दो उपाध्यक्ष (एक पुरुष और एक महिला), एक कोषाध्यक्ष, दो संयुक्त सचिव (एक  पुरुष और एक महिला) और कार्यकारी परिषद के छह पदों के लिए होंगे। कार्यकारी परिषद के दो (एक पुरुष और एक महिला) सदस्य निर्वाचित एसओएम से होंगे जो एथलीट आयोग का प्रतिनिधित्व करेंगे।  मंगलवार को नामांकन पत्रों की जांच की जायेगी और अगले दिन नामांकन पत्रों की वैध सूची की घोषणा होगी। उम्मीदवारी की वापसी एक से तीन दिसंबर तक की जा सकती है और उम्मीदवारों की अंतिम सूची चार दिसंबर को सार्वजनिक की जायेगी।

Tags: pt usha

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News

जगजीत सिंह के जन्म दिवस पर 8 फरवरी को शाम-ए-गजल कार्यक्रम जगजीत सिंह के जन्म दिवस पर 8 फरवरी को शाम-ए-गजल कार्यक्रम
सचिव शिव जालान ने बताया कि इसमें अनेक कलाकार गीतों, गजलें और नज्मों से स्व. जगजीत सिंह को स्वरांजलि अर्पित...
सतीश पूनियां ने सीएम को लिखा पत्र, आमेर विस क्षेत्र की मांगों को बजट में शामिल करने का किया आग्रह
केरल का इंटरनेशनल थियेटर फेस्टिवल 5 फरवरी से होगा शुरू
मोबाइल फोन के बेतहाशा इस्तेमाल से बढ़ा विजन सिंड्रोम का खतरा
तालिबान प्रशासन व्याख्याता मशाल को तत्काल रिहा करें: संयुक्त राष्ट्र
अडानी सीमेंट के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग
खान सुरक्षा अभियान में निदेशक खान का जोधपुर दौरा