सरकारी स्कूलों में बच्चों के लिए होगी खेल गतिविधियां

बच्चों के लिए स्कूल रेडिकल कार्यक्रम तैयार

सरकारी स्कूलों में बच्चों के लिए होगी खेल गतिविधियां

नई शिक्षा नीति में पूर्व प्राथमिक शिक्षा को बच्चों के लिए रुचिपूर्ण बनाने के लिए किए गए प्रावधानों के तहत राज्य के शिक्षण प्रशिक्षण एवं अनुसंधान परिषद ने पहली क्लास के बच्चों के लिए तीन महीने (12 सप्ताह) का स्कूल रेडिकल कार्यक्रम तैयार किया है।

जयपुर। नई शिक्षा नीति में पूर्व प्राथमिक शिक्षा को बच्चों के लिए रुचिपूर्ण बनाने के लिए किए गए प्रावधानों के तहत राज्य के शिक्षण प्रशिक्षण एवं अनुसंधान परिषद ने पहली क्लास के बच्चों के लिए तीन महीने (12 सप्ताह) का स्कूल रेडिकल कार्यक्रम तैयार किया है। इस कार्यक्रम का नाम विद्या प्रवेश दिया गया है। इसके अनुसार अब सरकारी स्कूलों में पहली कक्षा में प्रवेश लेने वाले बच्चों को सीधे ही पाठ्यपुस्तकों से परेशान नहीं होनेा पड़ेगा।

स्कूल रेडिकल कार्यक्रम में होगी खेल गतिविधियां
पहले तीन महीने का कोर्स उन्हें खेल-खेल में मैं और मेरा परिवार, स्मृति वाले खेल, सृजनात्मक गतिविधियां, बिंदु मिलान, कहानियों की किताबें देखने, कहानी सुनाने और सुनने, खिलौनों और ब्लॉक्स से खेलना, चित्रों पर बीज रखने के उनकी रुचि के खेलों से उन्हें स्कूल के भय से मुक्त किया जाएगा। इसके अलावा बाहरी खेलों में रस्सी खेल, गुफा खेल, हम बाजार जाएंगे, प्रकृति की सैर जैसे खेलों के जरिये उन्हें स्कूल से जोड़ा जाएगा, ताकि वे स्कूल आने से डरे नहीं, बल्कि मस्ती से स्कूल आना शुरू करें। ये कार्यक्रम पूरा होने के बाद उन्हें पहली कक्षा के स्तर की पाठ्य पुस्तकों से रूबरू कराया जाएगा।

शिक्षकों के लिए मार्गदर्शिका
राजस्थान राज्य शिक्षण प्रशिक्षण एवं अनुसंधान परिषद ने इस रेडिकल कार्यक्रम को कार्य पुस्तिका के रूप में तैयार किया है। इस कार्यपुस्तिका में शिक्षकों के लिए तीन भागों में शिक्षक मार्गदर्शिका तैयार की गई है, ताकि शिक्षक उसके अनुसार बच्चों को खेल आधारित गतिविधियां करा सकें। शिक्षकों को हर माह बच्चों का आंकलन कर उनके पोर्टफोलियो में शामिल किया जाएगा। हर शिक्षक पिछले 5 दिनों की गतिविधियों का रिविजन कराएंगे।

Read More देश जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू करने की है जरुरत : रामदेव

Post Comment

Comment List

Latest News

भारत जोड़ो यात्रा से बदला है राष्ट्रीय राजनीति का परिदृश्य : कांग्रेस भारत जोड़ो यात्रा से बदला है राष्ट्रीय राजनीति का परिदृश्य : कांग्रेस
उन्होंने कहा कि यात्रा को पहले दक्षिण के पांच राज्यों में भारी समर्थन मिला था और जब यात्रा  महाराष्ट्र पहुंची...
झुंझुनूं में विकास की कोई कमी नहीं रहने दी जाएगी : बृजेंद्र ओला
भारतीय संविधान विश्वभर के लोकतंत्रों की सर्वश्रेष्ठ व्याख्या: राज्यपाल मिश्र
खाद की कमीः क्षेत्र में खाद भी राशन की तरह बांटना पड़ा
वसुंधरा राजे हमारी नेता थी, हैं और हमारी नेता रहेगी : कालीचरण सर्राफ
सेना के जवान का बीमारी के चलते निधन राजकीय सम्मान से किया अंतिम संस्कार
भाजपा के टेपन 978 वोट से हुए विजयी