महंगाई, बेरोजगारी और रुपए में गिरावट रोकने के उपाय बताए सरकार : कांग्रेस

सरकार के पास ना कोई रणनीति है

महंगाई, बेरोजगारी और रुपए में गिरावट रोकने के उपाय बताए सरकार : कांग्रेस

कांग्रेस प्रवक्ता ने पार्टी मुख्यालय में कहा कि मोदी सरकार सिर्फ केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को अपने राजनीतिक विरोधियों के खिलाफ हथियार के तौर पर इस्तेमाल करने में लगी है और राजनीतिक ध्रुवीकरण तथा सामाजिक सौहार्द बिगाडऩे के एकमात्र एजेंडे पर काम कर रही है।

नई दिल्ली। कांग्रेस ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार राजनीतिक ध्रुवीकरण और सामाजिक सौहार्द बिगाडऩे में लगी है और बेरोजगारी, महंगाई तथा रुपए की गिरती कीमत की चुनौतियों से निपटने के लिए उसके पास कोई रणनीति नहीं है। कांग्रेस प्रवक्ता ने पार्टी मुख्यालय में कहा कि मोदी सरकार सिर्फ केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को अपने राजनीतिक विरोधियों के खिलाफ हथियार के तौर पर इस्तेमाल करने में लगी है और राजनीतिक ध्रुवीकरण तथा सामाजिक सौहार्द बिगाडऩे के एकमात्र एजेंडे पर काम कर रही है। देश के सामने मौजूद  चुनौतियों से निपटने के लिए इस सरकार के पास ना कोई रणनीति है और ना ही उसकी इस तरह की कोई दूरदृष्टि है।

सरकारी आंकड़े बताते हैं कि 2020 और 2021 के दौरान देश में बेरोजगारी की दर 7.8 प्रतिशत तक बढ़ गयी है गत जून में 25 लाख लोगों को नौकरियों से हाथ धोना पड़ा है।तीन महीने के दौरान महंगाई दर 7.3 प्रतिशत रही है जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में यह 7.9 प्रतिशत तक पहुंची है। इसी तरह से ग्रामीण क्षेत्रों में बेरोजगारी का स्तर 8.3 प्रतिशत के पार पहुंची है। चिंता की बात यह है कि देश की 70 फीसदी आबादी ग्रामीण क्षेत्रों में है। प्रवक्ता ने कहा कि जून में स्टार्ट अप से 11,000 नौकरी गई है, जबकि रुपया गिरकर 79.06 प्रति डालर के स्तर पर पहुंचा है। आश्चर्य की बात यह है कि इन विपरीत स्थितियों के दौरान भाजपा सरकार ने कई जरूरी वस्तुओं पर 5 प्रतिशत जीएसटी बढ़ाने का खतरनाक फैसला लिया है। सरकार को बताना चाहिए कि वह जीएसटी से पैदा हुए संकट से निपटने के लिए किस तरह के कदम उठा रही है और देश के आर्थिक हालात तथा और रुपए की स्थिति में सुधार के लिए किस तरह के कदम उठा रही है।

Post Comment

Comment List

Latest News