टीम इंडिया ने 2-0 से जीती टेस्ट सीरीज

भारत ने पिंक बॉल टेस्ट में श्रीलंका को 238 रन से रौंदा

टीम इंडिया ने 2-0 से जीती टेस्ट सीरीज

श्रेयस मैन ऑफ द मैच, पंत बने प्लेयर ऑफ द सीरीज

बेंगलुरु। जसप्रीत बुमराह (कुल आठ विकेट) और रविचंद्रन अश्विन (कुल छह विकेट) की घातक गेंदबाजी की बदौलत भारत ने श्रीलंका को यहां दूसरे पिंक बॉल टेस्ट क्रिकेट मैच के तीसरे दिन सोमवार को 59.3 ओवर में 208 रन पर आॅलआउट कर 238 रन से बड़ी जीत दर्ज की। इसी के साथ भारत ने दो मैचों की यह सीरीज 2-0 से जीत ली।

श्रीलंका के कल के एक विकेट पर 28 रन के स्कोर के साथ आज का खेल शुरू हुआ। कप्तान दिमुत करुणारत्ने और कुशल मेंडिस ने पहले सत्र में शानदार बल्लेबाजी करते हुए दिन की अच्छी शुरुआत की और दूसरे विकेट के लिए 97 रन जोड़े लेकिन अश्विन ने इस साझेदारी को तोड़ दिया। 97 के स्कोर पर मेंडिस आउट होकर पवेलियन लौट गए। इसके बाद श्रीलंका ने लगातार दो और विकेट खो दिए। 98 के स्कोर पर रवींद्र जडेजा ने एंजेलो मैथ्यूज को बोल्ड कर दिया और फिर 105 के स्कोर पर अश्विन ने धनंयज डी सिल्वा को चलता किया।

 इसके बाद हालांकि कप्तान करुणात्ने और निरोशन डिकवेला के बीच पांचवें विकेट के लिए 55 रन की साझेदारी हुई, लेकिन अक्षर पटेल ने 160 के स्कोर पर डिकवेला को भी आउट कर दिया। अक्षर ने 180 के स्कोर पर चरित असलंका को अपना शिकार बनाया और फिर बुमराह ने लंबे समय से क्रीज पर जमे हुए करुणात्ने को बोल्ड कर पवेलियन भेजा। इस बीच अश्विन ने गेंद थामी और लसित एम्बुलडेनिया को पगबाधा आउट किया। बुमराह ने शानदार यॉर्कर से सुरंगा लकमल का विकेट लिया और फिर अश्विन ने अंत में विश्व फर्नांडो को आउट कर मैच को शानदार तरीके से समाप्त किया। बुमराह ने दोनों पारियों में 47 रन पर आठ, जबकि अश्विन ने 85 रन पर छह विकेट लिए। श्रीलंका की तरफ से करुणात्ने ने दूसरी पारी में 15 चौकों की मदद से 174 गेंदों पर 107 रन की शतकीय पारी खेली। वहीं भारत की तरफ से श्रेयस अय्यर दोनों पारियों में बल्ले के साथ शानदार रहे। उन्होंने पहली पारी में 10 चौकों और चार छक्कों के सहारे 98 गेंदों पर 92 और दूसरी पारी में नौ चौकों की मदद से 87 गेंदों पर 67 रन बनाए।

मुझे कीपिंग और बल्लेबाजी दोनों में मजा आता है :पंत
श्रीलंका के खिलाफ भारत की 2-0 की जीत में प्लेयर ऑफ द सीरीज बने विकेटकीपर रिषभ पंत ने मैच के बाद कहा कि उन्हें विकेटकीपिंग और बल्लेबाजी दोनों में मजा आता है। पंत ने कहा कि मैंने पहले कुछ गलतियां की हैं लेकिन मैं बेहतर हो रहा हूं। विकेट बल्लेबाजी के लिए कठिन थी इसलिए मैं तेजी से रन बनाने का प्रयास कर रहा था। टीम प्रबंधन जो भी चाहेगी, मैं उस स्थान पर बल्लेबाजी करूंगा। आत्मविश्वास बहुत अहम है। मैं पहले यह सोचता था कि गेंद मुझसे छूट जाएगी। अब मैं आत्मविश्वास से भरा हुआ हूं और वह मैदान पर झलकता है।

आक्रमण करना मेरा स्वाभाविक खेल नहीं: श्रेयस अय्यर
अपनी शानदार बल्लेबाजी से प्लेयर ऑफ द मैच बने श्रेयस अय्यर ने कहा कि आक्रमण करना मेरा स्वाभाविक खेल नहीं हैं लेकिन जब गेंदबाज हावी हो तब आप उनसे एक कदम आगे रहना चाहते हैं। पहली पारी में मैंने शतक के बारे में नहीं सोचा। मैं पहले भी आउट हो सकता था इसलिए मुझे कोई अफसोस नहीं है। हमें लक्ष्य दिया गया था कि एकादश का कोई खिलाड़ी, शमी और बुमराह समेत, शतक बनाए। इसलिए मैं दूसरी पारी में अधिक से अधिक गेंदें खेलने की कोशिश कर रहा था।

बतौर कप्तान रोहित ने दिलाई 14वीं जीत
क्रिकेट के सभी प्रारूपों (वनडे, टेस्ट, टी-20) में भारत के नव नियुक्त कप्तान रोहित शर्मा ने श्रीलंका के खिलाफ सोमवार को पिंक बॉल टेस्ट मैच जीत को मिला कर बतौर कप्तान भारत को लगातार 14वीं जीत दिलाई। बतौर कप्तान रोहित की पिछली पांच सीरीज पर नजर डालें तो हर सीरीज में भारत ने प्रतिद्वंद्वी टीम को क्लीन स्वीप किया। पिछले साल नवंबर-दिसंबर में रोहित ने न्यूजीलैंड के खिलाफ तीन मैचों की घरेलू टी-20 सीरीज के लिए कप्तानी संभाली, जिसमें भारत ने न्यूजीलैंड को 3-0 से हराया। उसके बाद भारत ने फरवरी में तीन वनडे और तीन टी-20 मैचों के लिए वेस्ट इंडीज की मेजबानी की और दोनों ही श्रृंखलाओं को 3-0 से क्लीन स्वीप किया और अब श्रीलंका को टी-20 और टेस्ट सीरीज में क्लीन स्वीप किया। भारत ने टी-20 सीरीज को 3-0 और टेस्ट सीरीज को 2-0 से क्लीन स्वीप किया।

उल्लेखनीय है कि रोहित टी-20 और वनडे मैचों में तो पहले भारत कर चुके हैं, लेकिन उन्होंने पहली बार टेस्ट कप्तानी संभाली। उनकी टेस्ट कप्तानी की विशेषता की बात करें तो भारत ने श्रीलंका को दोनों ही टेस्ट मैचों में महज तीन दिन के अंदर बड़े अंतर से हरा दिया, जो बतौर कप्तान बड़ी उपलब्धि है।

स्कोर-बोर्ड
भारत पहली पारी :     252 रन
श्रीलंका पहली पारी :     109 रन
भारत दूसरी पारी :     9 पर 303 (घोषित)

श्रीलंका दूसरी पारी :    रन   गेंद   4   6
थिरिमाने पगबाधा बो. बुमराह    0 3 0 0
करुणारत्ने बो. बुमराह    107    228    15    10
मेंडिस स्टंप पंत बो. अश्विन    54    60    8    0
मैथ्यूज बो. जडेजा    1 5 0 0
धनंजय को. विहारी बो. अश्विन   4 21 0 0
डिकवेला स्टंप पंत बो. पटेल    12   39   0 0
असलांका को. रोहित बो. पटेल  5 20 1 0
एम्बुलडेनिया पगबाधा अश्विन   2 22 0 0
सुरंगा लकमल बो. बुमराह    1    4    0    0 1 4 0 0

फर्नांडो को. शमी बो. अश्विन    2    6    0    0
2 6 0 0
जयविक्रमा अविजित    0    4    0    0 0 4 0 0

अतिरिक्त   
20      
कुल  : 59.3 ओवर में 208 रन      


विकेट पतन : 1-0 (लाहिरु थिरिमाने), 97 (मेंडिस), 3-98 (मैथ्यूज), 4-105 (धनंजय डीसिल्वा), 5-160 (डिकवेला), 6-180 (असलांका), 7-204 (दिमुथ करुणारत्ने), 8-206 (लसिथ एम्बुलडेनिया), 9-208 (सुरंगा लकमल), 10-208 (फर्नांडो)

Read More आईसीसी की रैंकिंग के अनुसार नंबर तीन पर पहुंचे सूर्यकुमार


गेंदबाजी : बुमराह 9-4-23-3, मो. शमी 6-0-26-0, अश्विन 19.3-3-55-4, रविन्द्र जडेजा 14-2-48-1, अक्षर पटेल 11-1-37-2.


प्लेयर ऑफ द मैच : श्रेयस अय्यर (भारत)
प्लेयर ऑफ द सीरीज : रिषभ पंत (भारत)

Post Comment

Comment List

Latest News