मजबूत संकल्प पर विकसित भारत की नींव

मजबूत संकल्प पर विकसित भारत की नींव

भारत की उपलब्धियां धरती के वायुमंडल से परे आकाश तक गूंज रही हैं। इसका लोहा दुनियाभर के देश मान रहे हैं। चंद्रमा के दक्षिण ध्रुव पर अपना झंडा फहराने वाला भारत पहला देश बना है।

भारत के नए संसद भवन में देश की राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु के संबोधन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस उद्घोष की नींव रखी है, जिसमें प्रधानमंत्री 2047 तक विकसित भारत का स्वप्न देखते हैं। हाल ही में भारत ने अपनी स्वतंत्रता का अमृत महोत्सव मनाया। इस वर्ष संविधान लागू होने का 75वां वर्ष देश मना रहा है। भारत के पिछले दस वर्ष ऐसी अनेक उपलब्धियों से भरे हुए रहे हैं, जिन पर भारत की आने वाली पीढ़ियां गर्व करेंगी। कोविड के गंभीर संकटकाल को लांघकर भारत ने अपनी अर्थव्यवस्था को न सिर्फ  संभाला बल्कि वह तेजी से विकसित होती अर्थव्यवस्था बनी। लगातार दो तिमाही में भारत की विकास दर 7.5 प्रतिशत से ऊपर रही।

भारत की उपलब्धियां धरती के वायुमंडल से परे आकाश तक गूंज रही हैं। इसका लोहा दुनियाभर के देश मान रहे हैं। चंद्रमा के दक्षिण ध्रुव पर अपना झंडा फहराने वाला भारत पहला देश बना है। आदित्य मिशन के माध्यम से धरती से 15 लाख किलोमीटर दूर अपना सैटेलाइट पहुंचाया है। जी-ट्वंटी के माध्यम से भारत ने सर्वसमावेशी और वसुधैव कुटुंबकम के भारतीय दर्शन से दुनियाभर के देशों को अपना संदेश दिया। भारत की स्वतंत्रता के अमृतकाल में प्रधानमंत्री द्वारा शुरू किए गए अमृत महोत्सव में जिस तरह भारतीय जनता ने उत्साह के साथ हिस्सा लिया, उसने पूरे भारत में एक उत्सव का माहौल बना दिया था। इस दौरान मेरी माटी मेरा अभियान के माध्यम से देशभर के हर गांव की मिट्टी के साथ अमृत कलश दिल्ली लाए गए। तीन करोड़ से ज्यादा लोगों ने पंच प्राण की शपथ ली। 70 हजार से ज्यादा अमृत सरोवर बने, दो लाख से ज्यादा अमृत वाटिकाएं स्थापित की गई। 16 करोड़ से ज्यादा लोगों ने तिरंगे के साथ सेल्फी अपलोड की। देश को लोगों को अपनी मिट्टी से जोड़ने का यह विशाल अभियान बन गया था। नारी शक्ति वंदन अधिनियम मोदी सरकार का भारत की नारी शक्ति को दिया गया सबसे बड़ा अधिकार है। इससे लोकसभा और विधानसभाओं में महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित होगी। राष्टÑपति ने अपने उद्बोधन में कहा कि महिला आधारित विकास मोदी सरकार का संकल्प है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारामन ने भी अपने अंतरिम बजट में इसी बात का उल्लेख किया है। मोदी सरकार ने 30 करोड़ से ज्यादा मुद्राण महिला उद्यमियों को आवंटित किए हैं। उच्च शिक्षा में बालिकाओं का नामांकन 28 प्रतिशत तक बढ़ा है। पीएम आवास योजना में 70 प्रतिशत से अधिक आवास ग्रामीण महिलाओं को दिए गए।

भारत में पिछले दस वर्षों में अनेक ऐसे कार्य हुए हैं, जिनकी भारत को कई दशकों और सदियों से प्रतीक्षा थी। राम मंदिर के निर्माण ने भारत के करोड़ों लोगों की आस्था को पुष्ट किया है। इसी तरह जम्मू कश्मीर से आर्टिकल-370 हटाने को लेकर जो शंकाएं पिछले कई दशक से थीं वह आज इतिहास हो चुकी हैं। तीन तलाक मुस्लिम महिलाओं के लिए त्रासदी जैसा था, लेकिन महिला सशक्तिकरण की दिशा में मोदी सरकार ने तीन तलाक के खिलाफ कानून बनाकर मुस्लिम महिलाओं को कानूनी अधिकार दिया। पड़ोसी देशों से आए पीड़ित अल्पसंख्यकों को नागरिकता देने वाला कानून बनाया। वित्त मंत्री ने अपने अंतरिम बजट भाषण में रिफॉर्म, परफॉर्म और ट्रांसफॉर्म की बात की। मोदी सरकार के तीसरे कार्यकाल में निश्चित ही अगली पीढ़ी के सुधारों को हाथ में लिया जाएगा। राष्ट्रपति ने भी अपने उद्बोधन में कहा कि मोदी सरकार का बड़ा रिफॉर्म डिजिटल इंडिया का निर्माण रहा है। इसमें कोई शक नहीं है कि डिजिटल इंडिया ने देश में जीवन को बहुत आसान बना दिया है। अमरीका और यूरोपीय देशों में भी भारत जैसा डिजिटल सिस्टम नहीं है। हाल ही में प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी ने जयपुर में रोड शो के दौरान फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों को भी डिजिटल भुगतान के जरिए डिजिटल भारत की सुंदर तस्वीर दिखाई। आज गांव-गांव और ढ़ाणी-ढ़ाणी में खरीद-बिक्री डिजिटल तरीके से हो रही है। दुनिया में कुल रियल टाइम डिजिटल लेन-देन का 46 प्रतिशत भारत में होता है। यह डिजिटल भारत की वह तस्वीर है, जिसके बारे में लोगों ने सोचा भी नहीं था। देश में अब तक रिकॉर्ड 34 लाख करोड़ रुपए का हस्तांतरण डीबीटी से हो चुका है। जनधन, आधार और मोबाइल ने भ्रष्टाचार पर लगाने कसने में मदद की है।

पूर्व प्रधानमंत्री स्व.अटल बिहारी वाजपेयी ने भारत की स्वर्णिम चतुर्भुज के माध्यम से जिस आधारभूत ढांचे की नींव रखी थी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उसे कई गुना आगे बढ़ाकर भारत के सामाजिक और आर्थिक ढांचे को मजबूत करने और उसे गति देने का काम किया। मोदी सरकार में आधारभूत ढांचे के विकास के लिए रिकॉर्ड निवेश हुआ। इस दौरान गांवों में पौने चार लाख किलोमीटर नई सड़कें बनीं।  राष्ट्रीय राजमार्ग, फ ोर- लेन हाइवे, हाई स्पीड कॉरिडोर, हवाईअड्डों और मेट्रो सेवा का विस्तार हुआ है।    

-डॉ. सतीश पूनिया
(भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष हैं)

Post Comment

Comment List

Latest News

मुख्यमंत्री ने फीता काटकर नारी शक्ति बंधन कार्यक्रम की शुरुआत मुख्यमंत्री ने फीता काटकर नारी शक्ति बंधन कार्यक्रम की शुरुआत
मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने शनिवार को जेकेके में नगर निगम जयपुर ग्रेटर की ओर से आयोजित नारी शक्ति बंधन कार्यक्रम...
सारा अली खान की फिल्म 'ऐ वतन मेरे वतन' का टीजर रिलीज, आजादी के दौर की है कहानी
विकास की गति में अवरोध बनी मोदी सरकार, सिर्फ मित्रों का हित साधा : राहुल
कुणाल खेमू की फिल्म मडगांव एक्सप्रेस का टीजर रिलीज
लेबनान पर इजरायल ने किए हमले, 4 लड़ाकों की मौत
अशोक गहलोत विधानसभा चुनाव की हार की हताशा में हैं : मेघवाल
घरेलू एलपीजी गैस के वाणिज्यिक उपयोग पर जब्त किए 45 सिलेंडर