Modi Cabinet में शामिल राजग घटक दलों को खत्म करेगी भाजपा : संजय सिंह

बाबा साहब अंबेडकर द्वारा लिखे गए संविधान की धज्जियां उडाई जायेगी।

Modi Cabinet में शामिल राजग घटक दलों को खत्म करेगी भाजपा : संजय सिंह

सिंह ने कहा कि इस सरकार में राजग के घटक दलों को गृह, रक्षा, वित्त, विदेश, वाणिज्य, रेल, सड़क, कृषि, शिक्षा, स्वास्थ्य, दूर-संचार में से कोई मंत्रालय नहीं मिला।

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के घटक दलों को मंत्रिमंडल में सम्मान न देकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने साफ संकेत दे दिया है कि उसने अपने घटक दलों को समाप्त करना शुरू कर दिया है। 

सिंह ने कहा कि इंडिया समूह के दलों को जिस बात की आशंका थी वो सच साबित होने जा रहा है। इस सरकार में राजग के घटक दलों को गृह, रक्षा, वित्त, विदेश, वाणिज्य, रेल, सड़क, कृषि, शिक्षा, स्वास्थ्य, दूर-संचार में से कोई मंत्रालय नहीं मिला। उन्हें हाथ में केवल मंत्रालय के तौर पर झुनझुना थमा दिया गया। भाजपा ने साफ तौर पर पहला संकेत दे दिया है कि उसकी अपने घटक दलों को अपमानित करने और धीर-धीरे उनकी ताकत समाप्त करने की जो प्रवृत्ति और कार्य शैली है, मंत्रालय के बंटवारे के बाद इसकी शुरुआत हो गई है। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा ने 10 साल में देश के अंदर जोड़-तोड़ करके, विधायकों और सांसदों की खरीद फरोख्त करके पार्टियों को तोड़ा है। राजग के घटक दलों को ये झुनझुना मंत्रालय देने के बाद अब इनका अगला चरण इन पार्टियों को खत्म करना होगा।

आप नेता ने कहा कि अगर गलती से भी भाजपा का स्पीकर बन गया तो उसके तीन बड़े खतरे हैं। बाबा साहब अंबेडकर द्वारा लिखे गए संविधान की धज्जियां उडाई जायेगी। राजग के घटक दल तेलुगू देशम पार्टी (तेदपा), जनता दल-यूनाईटेड (जद-यू), जनता दल-सेक्युलर (जद-एस) और राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) इन सभी छोटी से लेकर बड़ी पार्टियों को तोड़-तोड़कर भाजपा के साथ मिलाया जाएगा। कोई भी सांसद अगर सरकार के मनमाने बिल के खिलाफ आवाज उठाएगा तो उसे मार्शल के द्वारा बाहर निकाल दिया जाएगा।

सिंह ने कहा कि तेदपा, जद-यू जैसे दलों से अनुरोध करूंगा कि कम से कम लोकसभा अध्यक्ष अपना बनाइए। यह आपकी पार्टियों के हित में है। यह बाबा साहब अंबेडकर के संविधान, भारत के लोकतंत्र और देश के संसदीय परंपराओं के हित में है कि लोकसभा अध्यक्ष तेदपा का होना चाहिए।

Read More Forex Exchange Reserves: 4.31 अरब डॉलर बढ़कर 655.82 अरब डॉलर पर

Post Comment

Comment List

Latest News

UGC NET Exam : 18 जून को हुआ पेपर गड़बड़ी के चलते रद्द UGC NET Exam : 18 जून को हुआ पेपर गड़बड़ी के चलते रद्द
यूजीसी द्वारा 18 जून को करवाया गया नेट का एग्जाम परीक्षा में गड़बड़ी के चलते रद्द कर दिया गया है। ...
प्राइवेट अस्पतालों के डॉक्टर चिरंजीवी योजना को बदनाम करने से बचें: गहलोत
24000 खानों को ईसी मंजूरी का मामला : 21422 खानधारकों के दस्तावेज वेलिडेटेड, जल्द जारी होगी ईसी
Silver & Gold Price चांदी दो सौ रुपए सस्ती और सोना दो सौ रुपए महंगा
युवा विरोधी भजनलाल सरकार को सड़क से लेकर सदन में घेरेंगे: पूनिया
मोदी कैबिनेट में हुए 5 बड़े फैसले, 14 खरीफ की फसलों की एमएसपी बढ़ाई
नीट में धांधली के खिलाफ 24 जून को संसद घेराव करेगी NSUI