गुजराती फिल्म छेल्लो शो ऑस्कर 2023 के लिए नॉमिनेट

कहानी गांव के एक बच्चे पर बुनी गई है

गुजराती फिल्म छेल्लो शो ऑस्कर 2023 के लिए नॉमिनेट

फिल्म में सिंगल स्क्रीन सिनेमा कल्चर को बखूबी दिखाया गया है। फिल्म का प्रीमियर 10 जून 2021 को 20वें त्रिबेका फिल्म फेस्टिवल में हुआ था।

मुंबई। गुजराती फिल्म छेल्लो शो को ऑस्कर 2023 के लिए भारत की तरफ से बेस्ट इंटरनेशनल फीचर फिल्म कैटेगरी के लिए नॉमिनेट किया गया है। छेल्लो शो गुजराती फिल्म है, जिसे पान नलिन ने लिखा और निर्देशित किया है। फिल्म की पूरी कहानी गांव के एक बच्चे पर बुनी गई है। फिल्म छेल्लो शो के निर्देशक पान नलिन ने ट्वीट कर सोशल मीडिया पर अपनी खुशी जाहिर की है।

उन्होंने लिखा, ''यह किसी सपने की तरह है। फिल्म फेडरेशन ऑफ इंडिया और एफएफआई जूरी मेंबर्स को धन्यवाद। छेल्लो शो पर विश्वास करने के लिए शुक्रिया। मैं अब फिर से सांस ले सकता हूं और सिनेमा पर विश्वास कर सकता हूं, जो लोगों को एंटरटेन और इंस्पायर करता है।"

छेल्लो शो गांव के एक छोटे बच्चे समय की कहानी है जिसे फिल्मों से प्यार होता है। गुजरात के छलाला गांव में बच्चा फिल्म देखने के लिए प्रोजेक्शन रूम में एक सिनेमा प्रोजेक्टर टेक्नीशियन की मदद से पहुंचता है और कई फिल्में देखता है। फिल्में देखते हुए उसकी ज़िंदगी पूरी तरह बदल जाती है। फिल्म में सिंगल स्क्रीन सिनेमा कल्चर को बखूबी दिखाया गया है। फिल्म का प्रीमियर 10 जून 2021 को 20वें त्रिबेका फिल्म फेस्टिवल में हुआ था।

Post Comment

Comment List

Latest News