कांग्रेस ने बोम्मई पर मतदाता डेटा चोरी का आरोप लगाते हुए इस्तीफे की मांग की

सरकार पर लगाया चुनाव प्रक्रिया को भ्रष्ट करने का आरोप

कांग्रेस ने बोम्मई पर मतदाता डेटा चोरी का आरोप लगाते हुए इस्तीफे की मांग की

सुरजेवाला ने कहा कि बोम्मई, भाजपा सरकार और उसके अधिकारी, बीबीएमपी और चुनाव प्राधिकरण निर्दोष बेंगलुरुवासियों से मतदान अधिकार छीनने की कुत्सित मंशा और लोकतंत्र को कुचलने के अपराध में एक साथ भागीदार है।

बेंगलुरु। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई , बृहत बेंगलुरु महानगर पालिका (बीबीएमपी) और चुनाव प्राधिकरण पर मतदाता डेटा की चोरी का आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री के इस्तीफे की मांग की। सुरेजवाला ने कहा कि 40 प्रतिशत कमीशन सरकार ने अब चुनाव प्रक्रिया को भी भ्रष्ट कर दिया है। बोम्मई, भाजपा सरकार और उसके अधिकारी, बीबीएमपी और चुनाव प्राधिकरण निर्दोष बेंगलुरुवासियों से मतदान अधिकार छीनने की कुत्सित मंशा और लोकतंत्र को कुचलने के अपराध में एक साथ भागीदार है।

पूर्व मुख्यमंत्री सिद्दरमैया ने राज्य प्रशासन को लुटेरों और घोटालेबाजों से भरी 40 प्रतिशत सरकार कहा था। कांग्रेस नेता ने  कहा कि चिलूम एजुकेशनल एंड रूरल डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट नाम की एक निजी संस्था ने मतदाता डेटा एकत्र करने का एक बड़ा घोटाला किया है। उन्होंने आरोप लगाया कि चिलूम के कर्मचारियों ने बीएलओ के रूप में 28 विधानसभा क्षेत्रों में मतदाता डेटा एकत्र किया, जिसमें जाति, धर्म, आयु, ङ्क्षलग, मातृभाषा, वैवाहिक स्थिति, आधार संख्या, फोन नंबर, पता, मतदाता पहचान संख्या, मतदाताओं का ईमेल पता जैसी जानकारियां शामिल थी।

सूरजेवाला ने कहा कि चिलूम ने मतदाता की महत्वपूर्ण जानकारी को चुनाव आयोग मतदाता पंजीकरण हेल्पलाइन गरुड़ या वोटर हेल्पलाइन पर अपलोड करने की बजाय अपनी सहयोगी कंपनी के डिजिटल समीक्षा नाम के एक निजी ऐप पर अपलोड कर दिया। उन्होंने कहा कि बेंगलुरु के निर्दोष मतदाताओं के साथ यह एक और धोखाधड़ी थी। सुरजेवाला ने आरोप लगाया कि चिलूम इंटरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड और डीएपी होम्बले प्राइवेट लिमिटेड के मालिक-निदेशक कृष्णप्पा रविकुमार सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. सीएन अश्वथ के नजदीक है।

Post Comment

Comment List

Latest News