दो दिसंबर को अजमेर में निकाली जाएगी जन आक्रोश यात्रा

पूर्व प्रदेश अध्यक्ष ने दी विस्तृत जानकारी

दो दिसंबर को अजमेर में निकाली जाएगी जन आक्रोश यात्रा

जयपुर में 1 दिसंबर को जयपुर में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा 55 रथों को रवाना करेंगे। इसके बाद प्रदेश की सभी 200 विधानसभाओं में अलग-अलग तारीख को रथ भेजे जाएंगे।

अजमेर। विधानसभा चुनाव में अभी 1 साल का वक्त है लेकिन भारतीय जनता पार्टी ने चुनावी बिगुल बजा दिया है। भाजपा इसकी शुरुआत जन आक्रोश रथ यात्रा से करने जा रही है, भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण चतुर्वेदी ने भाजपा कार्यालय में जन आक्रोश रथ यात्रा के कार्यक्रम की विस्तृत जानकारी दी। चतुर्वेदी ने पत्रकार वार्ता के दौरान बताया कि जनाक्रोश रथ यात्रा अजमेर में 2 दिसंबर को निकाली जाएगी। इससे पूर्व जयपुर में 1 दिसंबर को जयपुर में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा 55 रथों को रवाना करेंगे। इसके बाद प्रदेश की सभी 200 विधानसभाओं में अलग-अलग तारीख को रथ भेजे जाएंगे। भाजपा ने एक ब्लैक पेपर तैयार किया है। इस ब्लैक पेपर के जरिए वह कांग्रेस की विफलताओं को आम जनता के सामने रखेगी। प्रत्येक रथ में एक शिकायत पेटिका भी रहेगी। जिसमें आम जनता अपनी शिकायत और अपने सुझाव डाल सकती है। इन सुझावों और शिकायतों के आधार पर ही भाजपा आगामी विधानसभा चुनाव के लिए अपना घोषणा पत्र तैयार करेगी। 

अरुण चतुर्वेदी ने प्रेस वार्ता मे बताया की राजस्थान की कांग्रेस सरकार को 17 दिसंबर को 4 साल पूरे होने वाले हैं। यह हर मोर्चे पर सरकार विफल हुई है। विकास पूरी तरह ठप है, कानून व्यवस्था बिगड़ी हुई है। इसे लेकर कांग्रेस सरकार अपनी 4 साल की उपलब्धियों को लेकर वर्षगांठ बनाने की तैयारी कर रही है। पिछ्ले चुनाव मे कांग्रेस सरकार ने किसानों के ऋण माफी, बेरोजगारी भत्ता देने कई वादे जनता से किए थे। लेकिन कोई भी वादे पूरे नहीं किए गए। कानून व्यवस्था पूरी तरह से जर्जर है। कन्हैयालाल हत्याकांड,  पुजारी आत्महत्या प्रकरण इसके उदाहरण हैं।महिलाओं के दुष्कर्म की घटनाएं राजस्थान में लगातार बढ़ रही है। भ्रष्टाचार चरम पर है। कांग्रेस के विधायक अपने मंत्रियों पर आरोप लगा रहे हैं। राजस्थान मुख्यमंत्री अपनी कुर्सी बचाने में लगे हैं। इसका खामियाजा आम जनता को भुगतना पड़ रहा है।

Post Comment

Comment List

Latest News