तत्काल चुनाव कराने की पेशकश को समझा गया गलत : इमरान

देश दिवालिया होने की तरफ बढ़ रहा है

तत्काल चुनाव कराने की पेशकश को समझा गया गलत : इमरान

ऐसा उन्होंने देश के व्यापक हितो को ध्यान में रखते हुये कहा था। ऐसा कहा जा रहा है कि मध्यावधि चुनाव पर गठबंधन सरकार से बातचीत की उनकी पेशकश कथित तौर पर उलटी पड़ जाने के बाद स्थिति को साफ करने की कोशिश के रूप उन्होंने यह बयान दिया है।

लाहौर। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के अध्यक्ष इमरान खान ने कहा कि तत्काल चुनाव कराने की उनकी पेशकश को गलत समझा गया। ऐसा उन्होंने देश के व्यापक हितो को ध्यान में रखते हुये कहा था। ऐसा कहा जा रहा है कि मध्यावधि चुनाव पर गठबंधन सरकार से बातचीत की। उनकी पेशकश कथित तौर पर उलटी पड़ जाने के बाद स्थिति को साफ करने की कोशिश के रूप में उन्होंने यह बयान दिया है।

संघीय सरकार के संचालकों को यह करने के लिए प्रेरित किया कि देश दिवालिया होने की तरफ बढ़ रहा है और उनसे 22 करोड़ लोगों को नुकसान से बचाने के लिए कार्य करने का आग्रह किया। इमरान ने अपने रुख को एक नया आयाम दिया। पीटीआई प्रमुख ने कहा कि वह पंजाब और केपी विधानसभाओं को भंग करने में देरी कर सकते है। 

 

Tags: imran

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News