राजस्थान में 82 सीटों पर पिछले बार से कम वोटिंग 

जिन सीटों पर बड़े नेताओं के बीच मुकाबला है, वहां वोट प्रतिशत बढ़ा

राजस्थान में 82 सीटों पर पिछले बार से कम वोटिंग 

कांग्रेस के 52 विधायकों (55 प्रतिशत) की सीटों पर वोट प्रतिशत बढ़ा है तो 46 सीटों पर वोट प्रतिशत घटा भी है

जयपुर। राजस्थान विधानसभा चुनाव में इस बार 117 सीटों पर वोटिंग प्रतिशत में बढ़ोतरी हुई है तो 82 सीटों पर पिछले बार से कम वोट डले हैं। जिन सीटों पर बड़े नेताओं के बीच मुकाबला है, वहां वोट प्रतिशत बढ़ा है। इसके अलावा धु्रवीकरण, त्रिकोणीय और चतुष्कोणीय मुकाबले वाली अधिकांश सीटों पर भी वोट प्रतिशत बढ़ा है। कांग्रेस के 52 विधायकों (55 प्रतिशत) की सीटों पर वोट प्रतिशत बढ़ा है तो 46 सीटों पर वोट प्रतिशत घटा भी है। इन सीटों पर वोट प्रतिशत घटने या बढ़ने के अलग अलग राजनीतिक कयास लगाए जा रहे हैं। कांग्रेस भी अपनी योजनाओं के दम पर बढेÞ वोट प्रतिशत को अपने पक्ष में मान रही है तो भाजपा परंपरागत पैटर्न आधार पर इसे अपने पक्ष में मानकर चल रहे हैं। 

कांग्रेस के बड़े नेताओं में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की सरदारपुरा सीट पर पिछली बार की तुलना में वोट प्रतिशत कम हुआ। सरदारपुरा सीट पर 2018 में 66.22 प्रतिशत और 2023 में 65.68 प्रतिशत वोट मिले। पीसीसी चीफ गोविन्द सिंह डोटासरा की सीट पर 2.45 प्रतिशत वोट अधिक मिले। कडेÞ मुकाबले वाली सीटों में वोट बढ़ोतरी वाली सीटों को देखें तो सवाई माधोपुर में 2.31 प्रतिशत, नाथद्वारा में 2.81 प्रतिशत, विद्याधर नगर में 2.73 प्रतिशत, मांडल में 4.27 प्रतिशत, खंडेला में 4.27 प्रतिशत, डीडवाना में 1.99 प्रतिशत, तारा नगर में 7.65 प्रतिशत, बसेड़ी में 9.60 प्रतिशत, तिजारा में 4.03 प्रतिशत, हवामहल में 3.64 प्रतिशत, मालपुरा में 3.63 प्रतिशत, शिव में 3.51 प्रतिशत, सपोटरा में 3.47 प्रतिशत, केकड़ी में 2.60 प्रतिशत, फुलेरा में 2.5 प्रतिशत, हिंडौली में दो, झुंझुनूं में 1.34, खाजूवाला में 0.99 प्रतिशत, सिविल लाइंस में 0.99 प्रतिशत, लालसोट में 0.74, बायतु में 0.62, शाहपुरा में 0.55, अंता में 0.50, कोटा उत्तर में 0.30, पोकरण में 0.29 प्रतिशत, ओसियां में 0.29 प्रतिशत, बीकानेर पश्चिम में 0.22, सांचौर में 0.15, डीग-कुम्हेर में 0.15 और निम्बाहेड़ा में 0.11 प्रतिशत वोट अधिक मिले। 

इन सीटों पर बने ये हालात
प्रदेश की 12 सीटों पर पिछली बार की तुलना में इस बार चार प्रतिशत से ज्यादा वोटिंग हुई। इनमें बसेड़ी, तारा नगर, आसपुर, गंगापुर, धौलपुर, किशनपोल, पीपल्दा, राजाखेड़ा, चौरासी, मांडल, खंडेला और तिजारा हैं। नौ सीटों नगर, हवामहल, मालपुरा, अजमेर उत्तर, भीम, शिव, सपोटरा, नोहर और देवली-उनियारा में तीन से चार प्रतिशत के बीच अधिक मतदान हुआ। इसके अलावा 23 सीटों पर दो से तीन प्रतिशत वोट प्रतिशत में बढ़ोतरी हुई। इनमें ब्यावर, नाथद्वारा, विद्याधर नगर, सागवाड़ा, केकड़ी, सूरसागर, फुलेरा, लक्ष्मणगढ़, धरियावाद, भादरा, सलूंबर, सवाई माधोपुर, सोजत, करौली, कोटा दक्षिण, डूंगरपुर, विराट नगर, किशनगढ़, नवलगढ़, कुशलगढ़, हिंडोली, बांदीकुई और किशनगंज शामिल हैं। वहीं 31 सीटों पर एक से दो प्रतिशत के बीच वोटिंग बढ़ी। इनमें डीडवाना, केशोरायपाटन, बाली, दूदू, खेरवाड़ा, आसिंद, लाडंनू, दातारामगढ़, नावां, वैर, प्रतापगढ़, मुंडावर, जोधपुर, जालोर, अटरू, आदर्श नगर, मालवीय नगर, सांगोद, खानपुर, नदबई, सांगानेर, पचपदरा, बूंदी, खंडार, मसूदा, उदयपुर ग्रामीण, झुंझुनूं, पिंडवाड़ा, आबू, छबड़ा, बाड़मेर और शाहपुरा-भीलवाड़ा हैं। वहीं 42 सीटों पर एक प्रतिशत से कम मतदान बढ़ा। इनमें खाजूवाला, सिविल लाइंस, सहाड़ा, मांडलगढ़, किशनगढ़वास, मारवाड़ जंक्शन, जहाजपुर, बामनवास, परबतसर, कठूमर, मंडावा, लालसोट, शाहपुरा-जयपुर, गोगुंदा, वल्लभ नगर, बागीदौरा, अंता, लाडपुरा, सरदार शहर, डग, उदयपुर, घाटोल, बेंगू, कोटा उत्तर, पोकरण, ओसियां, लूणकरणसर, सिरोही, रामगंज मंडी, बीकानेर पश्चिम, सांचौर, डीग-कुम्हेर, निंबाहेड़ा, चित्तौड़गढ़, पुष्कर, खेतड़ी और भीलवाड़ा शामिल हैं। इसके अलावा 72 सीटों पर पिछली बार की तुलना में कम वोट पड़े। तीन सीटों पर चार से पांच प्रतिशत की वोटों की कमी आई और 32 सीटों पर एक प्रतिशत से कम की गिरावट दर्ज की गई। 

Post Comment

Comment List

Latest News