टंकी में डूबने से डेढ़ वर्षीय बालक की मौत के मामले में चाची गिरफ्तार

कोर्ट के निर्देश पर बालक के शव को कब्र से निकालकर किया था पोस्टमार्टम

टंकी में डूबने से डेढ़ वर्षीय बालक की मौत के मामले में चाची गिरफ्तार

कोतवाली पुलिस ने 15 दिन पूर्व पानी की टंकी में डूबने से हुई डेढ़ वर्षीय बालक की हत्या का पर्दाफाश करते हुए बालक की चाची को गिरफ्तार किया है। आरोपी चाची से पुलिस पिछले कई दिनों से मनोवैज्ञानिक तरीके से पूछताछ कर रही थी।

कोटा । कोतवाली पुलिस ने 15 दिन पूर्व पानी की टंकी में डूबने से हुई डेढ़ वर्षीय बालक की हत्या का पर्दाफाश करते हुए बालक की चाची को गिरफ्तार किया है। आरोपी चाची से पुलिस पिछले कई दिनों से मनोवैज्ञानिक तरीके से पूछताछ कर रही थी। साथ ही बालक अबिर की हत्या का मुकदमा दर्ज होने के बाद  से ही पुलिस की नजरे परिवार के सदस्यों पर ही टिकी हुई थीं। पुलिस मामले में हर एक पहलू पर बारीकी से अनुसंधान कर रही थी।

हालांकि पुलिस को हत्या के बाद से ही बालक की सबसे छोटी चाची सोबिया पत्नी जीशान अंसारी निवासी शबाना मंजिल के पास करबला पर ही शक था। पुलिस फिर भी परिवार के प्रत्येक सदस्य से मामले में तहकीकात कर रही थी।  25 अप्रैल की शाम साढ़े छह बजे कोतवाली पुलिस को सूचना मिली थी कि करबला में डेढ़ वर्षीय बालक अबिर की पानी की टंकी में डूबने से मौत हो गई। इसके बाद बालक के परिजनों ने पोस्टमार्टम कार्रवाई नहीं चाहते हुए शव को ले गए थे और नयापुरा कब्रिस्तान में दफन किया था। बाद में बालक के पिता व नाना ने मामले में हत्या का शक जाहिर करते हुए आईजी कोटा रेंज रवि दत्त गौड़ को ज्ञापन दिया था । परिजनों ने मुकदमा दर्ज करने की गुहार लगाई थी। इसके बाद मामले में कोतवाली पुलिस ने अज्ञात लोगोंं के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया था।

 अनुसंधान के दौरान पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर 27 अप्रैल को बालक के शव को कब्र से बाहर निकलवाया था, इसके बाद तीन सदस्यीय डाक्टरों की टीम से पोस्टमार्टम करवाकर शव को दफन कर  दिया था।  अनुसंधान के दौरान बालक की हत्या के मामले में बालक के परिजनों, रिश्तेदरों तथा आसपास के लोगों से गहनता से पूछताछ की गई तथा हर पहलुओं पर बारीकी से जांच की गई तो पता चला कि बालक के पिता तथा उसके चाची सोबिया के बीच रंजिश है। सोबिया उसके बच्चे से जलन रखती थी।  इसके बाद पुलिस ने मामले में सादा वर्दी में महिला पुलिस कांस्टेबल को लगा दिया और फिर मामला कांच की तरह से साफ होता गया। मामले में पुलिस कड़ी से कड़ी जोड़ती गई और हत्या का खुलासा करते हुए बालक की चाची को डिटेन किया तथा गहनात से पूछताछ करने पर टूट गई और उसने अपना जुर्म कबूल किया।

Post Comment

Comment List

Latest News