दिमाग की नस में बने गुब्बारे का किया बिना चीरफाड़ के इलाज

दिमाग की नस के एन्यूरिज्म में खून का दौरा आने से नस फूलने लगी

दिमाग की नस में बने गुब्बारे का किया बिना चीरफाड़ के इलाज

मुंबई निवासी 58 वर्षीय महिला को सिरदर्द और मिर्गी का दौरा आने पर इटरनल अस्पताल लाया गया। जांच में पता चला कि उनकी दिमाग की नस के एन्यूरिज्म में खून का दौरा आने से नस फूलने लगी है।

जयपुर। जयपुर शहर के निजी अस्पताल के चिकित्सकों ने नई चिकित्सा पद्धति से दिमाग की नस में बने एन्यूरिज्म (गुब्बारे) को सफलतापूर्वक ठीक किया है। मुंबई निवासी 58 वर्षीय महिला को सिरदर्द और मिर्गी का दौरा आने पर इटरनल अस्पताल लाया गया। जांच में पता चला कि उनकी दिमाग की नस के एन्यूरिज्म में खून का दौरा आने से नस फूलने लगी है। उनका चार साल पहले भी ब्रेन एन्यूरिज्म का कोइलिंग तकनीक से इलाज हुआ था। इस पर दिमाग की ऐजियोग्राफी (डीएसए)और फ्लो डाइवर्टर न्यूरोइंटरवेंशनल रेडियोलोजी तकनीक से डॉ. मदनमोहन गुप्ता ने बिना सर्जरी किए महिला मरीज का सफल इलाज किया। इस प्रोसीजर में तकरीबन तीन घंटे लगे। न्यूरो इंटरवेंशन विशेषज्ञ डॉ. मदनमोहन गुप्ता ने बताया इस प्रोसीजर में चेयरमैन न्यूरोसाइंसेज डॉ. सुरेश गुप्ता, डॉ. सुरेन्द्र, डॉ. अरुण, डॉ. ताराचंद, डॉ. मदनमोहन आदि मौजूद थे।

Tags: health

Post Comment

Comment List

Latest News

फ्लोरिडा के इतिहास में इयान सबसे घातक हो सकता है : बाइडेन फ्लोरिडा के इतिहास में इयान सबसे घातक हो सकता है : बाइडेन
बाइडेन ने वाशिंगटन डीसी में संघीय आपातकालीन प्रबंधन एजेंसी मुख्यालय की यात्रा के दौरान इयान का जिक्र करते हुए कहा...
मल्लिकार्जुन खड़गे, शशि थरुर और के एन त्रिपाठी ने भरा नामांकन, दिग्विजय हुए रेस से बाहर
नारायण बारेठ का कार्यकाल समाप्त, किया 7 हजार से ज्यादा मामलों का निस्तारण
उद्योग मंत्री ने की इन्वेस्ट राजस्थान क्विज के विजेताओं की घोषणा
ताइवान के बेड़े में शामिल हुआ नया युद्धपोत
शेयर बाजार 1.5 प्रतिशत की तेजी के साथ हुआ बंद 
तमिलनाडु में फटा गैस सिलेंडर, 3 की मौत