इन्वेस्ट राजस्थान समिट की सभी तैयारियां पूरी, मित्तल, बिड़ला सहित जाने माने उद्यमी होंगे शामिल

7 अक्टूबर को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत करेंगे उद्घाटन

इन्वेस्ट राजस्थान समिट की सभी तैयारियां पूरी, मित्तल, बिड़ला सहित जाने माने उद्यमी होंगे शामिल

समिट में देश विदेश के मशहूर उद्योगपतियों के साथ हाई प्रोफाइल डेलिगेट भी शिरकत करेंगे। इसके लिए विभाग और सरकार द्वारा कोई कमी नहीं छोड़ी जा रही है।

जयपुर। 7 और 8 अक्टूबर को सीतापुरा के जेईसीसी कैंपस में होने वाले इन्वेस्ट राजस्थान समिट-2022 की सभी तैयारियां पूरी हो गई हैं। विभाग के आला अधिकारियों और उद्योग मंत्री शकुंतला रावत ने कैंपस का दौरा कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उद्योग विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव वीनू  गुप्ता ने बताया कि 2 दिवसीय समिट का उद्घाटन 7 अक्टूबर को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत करेंगे। समिट में देश विदेश के मशहूर उद्योगपतियों के साथ हाई प्रोफाइल डेलिगेट भी शिरकत करेंगे। बाहर से आने वाले सभी पावणे प्रदेश की सुखद तस्वीर अपनी स्मृतियों में सदैव संजोए रखें, इसके लिए विभाग और सरकार द्वारा कोई कमी नहीं छोड़ी जा रही है। उन्होंने बताया कि अन्य विभागों के सहयोग से शहर को सजाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि देश-विदेश से डेलीगेट्स का आना भी शुरू हो गया है।  

निवेश के क्षेत्र में कीर्तिमान रचेगा राजस्थान
अतिरिक्त मुख्य सचिव ने बताया कि 7 और 8 अक्टूबर का दिन राज्य सरकार के लिए ऐतिहासिक होगा। उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा 10.44 लाख करोड़ रुपए के 4,192 एमओयू और एलओआई हस्ताक्षरित किए गए। इनमें से 1680 एमओयू और एलओआई क्रियान्वित अथवा क्रियान्वयन के चरण में हैं जो की लगभग 40 प्रतिशत हैं। कुछ प्रमुख एमओयू और एलओआई का शिलान्यास एवं उद्घाटन इन्वेस्ट राजस्थान समिट के उद्घाटन सत्र में किया जाएगा।

मित्तल, बिड़ला सहित जाने माने उद्यमी होंगे शामिल
अतिरिक्त मुख्य सचिव ने बताया कि एल.एन मित्तल (आरसेलर मित्तल ग्रुप),  गौतम अडाणी, चैयरमेन (अडाणी ग्रुप),  सी. के बिरला (सी. के बिरला ग्रुप),  पुनीत चटवाल (इंण्डियन होटल्स कम्पनी), डा. प्रवीर सिन्हा (टाटा पावर कम्पनी लि.),  कमल बाली (वोल्वो ग्रुप), अजय श्रीराम (डी.सी.एम श्रीराम),  अनील अग्रवाल (वेदान्ता ग्रुप), बी.सन्थानम (सेन्ट गोबेन) तथा  संजीव पुरी (आई.टी.सी.) द्वारा समिट में आने की सहमति दी गई है।
 
सेक्टोरल सत्रों में विशेषज्ञों का मिलेगा साथ
गुप्ता ने बताया कि 7 अक्टूबर को उद्घाटन सत्र के उपरान्त एनआरआर, पर्यटन, स्टार्टअप, फ्यूचर रेडी सेक्टर, एग्री बिजनेस पर समानान्तर सेक्टोरल कॉनक्लेव आयोजित किए जायेंगे। समानान्तर सेक्टोरल सत्रों में उस सेक्टर से संबंधित विशिष्ट व्यक्तियों को वक्ता के रूप में आमंत्रित किया गया है। समिट के अंतर्गत आयोजित होने वाला प्रत्येक सत्र अपने आप में भिन्न होगा जो कि एक विकसित राजस्थान की छवि को प्रदर्शित करेगा। दूसरे दिन 8 अक्टूबर को एमएसएमई कॉन्क्लेव आयोजित की जायेगी, जिसके अन्तर्गत इस क्षेत्र को और अधिक विकसित किए जाने एवं इस क्षेत्र में उपलब्ध नई निवेश संभावनाओं पर चर्चा की जायेगी।

Read More एसएसबी राजस्थान की बम डिटेक्शन एण्ड डिस्पोजल टीम ने जीती राष्ट्रीय स्तर की कांस्य ट्रॉफी

 

Post Comment

Comment List

Latest News