एनटीए ने जारी किया जेईई मैन सेशन 1 एग्जाम का रिजल्ट 

कैंडिडेट्स के स्‍कोरकार्ड जारी किए हैं

एनटीए ने जारी किया जेईई मैन सेशन 1 एग्जाम का रिजल्ट 

लगभग एक जैसे परसेंटाइल स्कोर पर ऑल इंडिया रैंक में 13,000 से 14,000 तक का अंतर आ सकता है।

जयपुर। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने जेईई मैन सेशन 1 एग्जाम का रिजल्ट जारी कर दिया है। ये एग्जाम 24 जनवरी से 1 फरवरी के बीच कंडक्ट किया गया था। जेईई मैन स्कोर की मदद से देश के इंजीनियरिंग कॉलेजों में बीई, बीटेक और बीआर्क कोर्सेस में एडमिशन के लिए अप्लाय कर सकते हैं। एटीए ने अभी बीटेक कोर्सेस के लिए कैंडिडेट्स के स्‍कोरकार्ड जारी किए हैं। जेईई मैन सेशन 2 एग्जाम होने के बाद ही ऑल इंडिया रैंक जारी किए जाएंगे। ये एग्जाम 4 से 15 अप्रैल के बीच होगा। इस एग्जाम के लिए देशभर के कुल 12,31,874 स्टूडेंट्स ने रजिस्टर किया था। इनमें से 11,70,036 स्टूडेंट्स ने एग्जाम दिया था। इसका मतलब करीब 95.8% स्टूडेंट्स ने एग्जाम दिया। एग्जाम के दोनों में 11,60,000 स्टूडेंट्स ने रजिस्ट्रेशन किया था और 11,13,000 स्टूडेंट्स ने एग्जाम दिया था। इस वजह से 2023 में एक परसेंटाइल पर 11,300 रैंक तक का अंतर रहा। पिछले सालों की तुलना में इस साल ज्यादा एप्लिकेंट्स होने की वजह से हर परसेंटाइल स्कोर पर 2000 से 3000 ज्यादा बच्चे हो सकते हैं। इसका मतलब है कि लगभग एक जैसे परसेंटाइल स्कोर पर ऑल इंडिया रैंक में 13,000 से 14,000 तक का अंतर आ सकता है।

पिछले 5 सालों से जेईई मैन के पहले सेशन के एग्जाम के लिए हर साल करीब 9,29,000 स्टूडेंट्स रजिस्टर कर रहे हैं। ऐसे में एक ही परसेंटाइल स्कोर पर करीब 13000 से 14000 स्टूडेंट्स तक हो सकते हैं। ऐसे में एक ही परसेंटाइल स्कोर पर डेसिमल के बाद के अलग-अलग डिजिट्स के आधार पर इन स्टूडेंट्स की रैंकिंग तय की जाएगी।

पलाक्ष गोयल जयपुर सिटी टॉपर
नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने देश की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई-मेन 2024 के जनवरी सेशन का परिणाम जारी कर दिया। परिणाम में इस बार भी जयपुर के स्टूडेंट्स ने श्रेष्ठता साबित की है। पलाक्ष गोयल ने 99.9966 पर्सेन्टाइल स्कोर किया है और जयपुर सिटी टॉप किया है। पलक्ष ने फिजिक्स और मैथ्स में पूरे में से पूरे अंक प्राप्त किए हैं। इसके साथ ही पार्थ दीक्षित ने 99.9906 पर्सेन्टाइल स्कोर किया है, जो सिटी टॉपर है। पलाक्ष ने बताया कि जेईई की तैयारी के लिए एलन सबसे बेस्ट है। मैं रोजाना 8 से 10 घंटे सेल्फ स्टडी करता हूं। टेस्ट में मार्क्स कम आने पर मैं हताश होकर नहीं बैठता। स्टूडेंट्स ने कहा, इम्प्रूवमेंट की जरूरत है, उस पर फोकस करता था और अगले टेस्ट में अच्छे मार्क्स लेकर आता था। फिलहाल 12वीं बोर्ड परीक्षा और जेईई एडवांस्ड पर फोकस है। आईआईटी मुम्बई की सीएस ब्रांच से बीटेक करना मेरा सपना है, जिसे पूरा करने की कोशिश में जुटा हुआ हूं। एक छोटी बहिन है जो कि 9वीं कक्षा में अध्ययनरत है। परिवार जयपुर में निवासरत है। परीक्षा एक्सपर्ट सीआर चौधरी ने बताया कि 37 जयपुर के स्टूडेंट्स ने 99.9 पर्सेन्टाइल से अधिक स्कोर किया है। इसमें 19 स्टूडेंट्स ऐसे हैं, जिनका स्कोर 99.99 पर्सेन्टाइल रहा है।

Tags: result

Post Comment

Comment List

Latest News

निकायों के निर्माण कार्यों में एम-सैंड का उपयोग अनिवार्य, प्रोजेक्ट्स में न्यूनतम 25 प्रतिशत एम-सैंड लेंगे काम निकायों के निर्माण कार्यों में एम-सैंड का उपयोग अनिवार्य, प्रोजेक्ट्स में न्यूनतम 25 प्रतिशत एम-सैंड लेंगे काम
नगरीय विकास एवं आवासन विभाग ने एक आदेश जारी किया है, जिसमें निर्माण कार्यों में खनिज बजरी के विकल्प के...
जल जीवन मिशन कामों की कल होगी समीक्षा, प्रति ग्राम पंचायत दो-दो नल जल मित्र के प्रस्ताव होंगे पारित
राज्य सरकार एवं हुडको के मध्य हुआ एमओयू
शंभू बॉर्डर किसान आंदोलन: बैरिकेडिंग पर सुप्रीम कोर्ट ने दिया स्वतंत्र समिति बनाने का सुझाव
राजस्थान को मिला 9959 करोड़ रुपए का बजट
कस्टम ड्यूटी में कटौती के बाद सोना-चांदी की खरीदारी में वृद्धि
AAP ने लगाए आरोप- केंद्र सरकार ने बजट में दिल्ली और पंजाब के साथ किया सौतेला व्यवहार