बेरोजगारी को लेकर राहुल गांधी का भाजपा पर हमला, आईआईटी जैसे संस्थानों पर भी संकट 

36 प्रतिशत स्टूडेंट्स का प्लेसमेंट नहीं हो सका

बेरोजगारी को लेकर राहुल गांधी का भाजपा पर हमला, आईआईटी जैसे संस्थानों पर भी संकट 

देश के सबसे प्रतिष्ठित तकनीकी संस्थान का ये हाल है, तो कल्पना कीजिए भाजपा ने पूरे देश की स्थिति क्या बना रखी है।

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बेरोजगारी को लेकर भाजपा सरकार पर फिर हमला किया और कहा कि मोदी सरकार की रोजगार को लेकर कोई नीति नहीं है इसलिए भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) जैसे प्रमुख संस्थान भी बेरोजगारी की चपेट में आ गए हैं। गांधी ने ट्वीट कर कहा कि बेरोजगारी की बीमारी की चपेट में अब आईआईटी जैसे शीर्ष संस्थान भी आ गए हैं। आईआईटी मुंबई में पिछले वर्ष 32 प्रतिशत और इस वर्ष 36 प्रतिशत स्टूडेंट्स का प्लेसमेंट नहीं हो सका।

देश के सबसे प्रतिष्ठित तकनीकी संस्थान का ये हाल है, तो कल्पना कीजिए भाजपा ने पूरे देश की स्थिति क्या बना रखी है। नरेंद्र मोदी के पास न रोजगार देने की कोई नीति है और न ही नीयत, वह सिर्फ भावनात्मक मुद्दों के जाल में फंसा कर देश के युवाओं को धोखा दे रहे हैं। कांग्रेस नेता ने कहा कि कांग्रेस द्वारा युवाओं के लिए रो•ागार का ठोस प्लान देश के समक्ष रखे लगभग एक महीना बीत चुका है लेकिन भाजपा सरकार ने इस मुद्दे पर अब तक सांस भी नहीं ली है। युवा इस सरकार को उखाड़ कर अपने भविष्य की नींव खुद रखेगा। कांग्रेस का युवा न्याय देश में एक नयी रोजगार क्रांति को उत्पन्न करेगा।

 

Read More इक्वाडोर में सशस्त्र हमले में पुलिस अधिकारियों सहित 3 लोगों की मौत

 

Read More इक्वाडोर में सशस्त्र हमले में पुलिस अधिकारियों सहित 3 लोगों की मौत

Tags: rahul

Post Comment

Comment List

Latest News