कोरोना की वापसी?

देश में कोरोना के नए मामले सामने आने लगे हैं।

कोरोना की वापसी?

फिर से कड़ी सावधानी बरतने की जरूरत है।

देश में कोरोना के नए मामले सामने आने लगे हैं। अब यह मानकर चलने का वक्त नहीं रहा कि कोरोना महामारी चली गई है। फिर से कड़ी सावधानी बरतने की जरूरत है। देश में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना के 1,088 नए मामले सामने आए हैं। अब तक कोरोना से संक्रमित हो चुके लोगों की संख्या बढ़कर चार करोड़, तीस लाख 38 हजार से ऊपर चली गई है। इसके अलावा 26 और मरीजों की मौत के बाद महामारी से मरने वालों की तादाद 5 लाख 21 हजार, 736 तक पहुंच गई है। राजधानी दिल्ली, मुंबई और हरियाणा में पिछले दो दिनों में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है। दिल्ली में बुधवार को 299 लोग संक्रमित पाए गए जबकि इसके एक दिन पहले इनकी संख्या 202 थी। 10 मार्च के बाद पहली बार दिल्ली एनसीआर में मरीजों की संख्या दो सौ से ऊपर पहुंची है। मुंबई में बुधवार को कोरोना के 73 नए मरीज मिले। यह 17 मार्च के बाद इनकी सबसे अधिक संख्या है। हरियाणा में 5 मार्च के बाद बुधवार को सबसे अधिक 179 मरीज संक्रमित पाए गए। वैसे देखें तो यह संख्या कम ही प्रतीत होती है, लेकिन बुधवार के आंकड़ों के हिसाब से दिल्ली में संक्रमितों की संख्या 2.49 फीसद है जो पिछले तीन महीने का सर्वाधिक है। इसमें एक खास बात गौर करने की यह है कि अभी कोरोना के अधिक टेस्ट नहीं हो रहे हैं। जैसे दिल्ली में 12 हजार से अधिक मरीजों की जांच में 299 लोग संक्रमित मिले। ये टेस्ट इससे अधिक लोगों के लिए जाएं तो संक्रमितों की संख्या ज्यादा भी मिल सकती है। अभी के हालात को कोई चेतावनी माने या न माने लेकिन सरकारी स्वास्थ्य एजेंसियों व लोगों को सावधान हो जाना चाहिए। पिछले दिनों देश में चौथी लहर की आशंका जताई जा चुकी है। दुनिया में चीन सहित काफी देशों में वायरस का संक्रमण काफी तेज है। ऐसे में कोविड प्रोटोकॉल, सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क लगाने को लेकर सचेत हो जाना चाहिए। अभी राहत की बात यह है कि संक्रमितों में काफी कम लोगों को अस्पतालों में भर्ती होने की जरूरत पड़ रही है। ज्यादा घबराने की बात अभी तो नहीं है, लेकिन यह बात भी सच है कि कोविड-19 वायरस का नया वेरिएंट आने का खतरा बना हुआ है।

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News