प्रदेश में हैट्रिक बनाने से चूकी BJP

भाजपा 14 इंडिया गठबंधन 11 सीटों पर जीत दर्ज की

प्रदेश में हैट्रिक बनाने से चूकी BJP

केन्द्रीय मंत्री कैलाश चौधरी तीसरे स्थान पर रहे तीन केन्द्रीय मंत्री अर्जुन, गजेन्द्र और भूपेन्द्र चुनाव जीते, लोकसभा अध्यक्ष बिरला भी रहे सफल

जयपुर। राजस्थान में लोकसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी सभी सीटें जीतने की हैट्रिक नहीं बना पाई। इस बार उसे 25 में से 14 सीटों पर ही सफलता मिली है। 

इंडिया गठबंधन को 11 सीटों पर जीत मिली है। गठनबंधन में कांग्रेस को आठ, सीपीएम, आरएलपी और बाप को एक-एक सीट मिली है। भाजपा को मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा के गृह जिले की सीट भरतपुर में भी हार का सामना करना पड़ा। चुनावों में केन्द्रीय मंत्री कैलाश चौधरी बाड़मेर सीट से हार गए।  उनको तीसरे स्थान पर संतोष कराना पड़ा। तीन अन्य केन्द्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल बीकानेर, गजेन्द्र सिंह शेखावत जोधपुर और भूपेन्द्र यादव अलवर से चुनाव जीत गए। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला भी कोटा से चुनाव जीत गए हैं। जालौर सीट से पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत चुनाव हार गए। झालावाड़-बारां सीट से पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के पुत्र दुष्यंत सिंह चुनाव जीत गए हैं। वे इस सीट पर लगातार पांचवीं बार जीते हैं। प्रदेश की सबसे हॉट सीट बनी बाड़मेर में कांग्रेस के उम्मेदाराम चुनाव जीत गए हैं। यहां दूसरे स्थान पर शिव के विधायक एवं निर्दलीय रविन्द्र सिंह भाटी रहे हैं। भाजपा के प्रत्याशी कैलाश चौधरी तीसरे स्थान पर रहे हैं। बांसवाड़ा से भारतीय आदिवासी पार्टी (बाप) के राजकुमार रोत ने चुनाव जीत कर सभी को चौंका दिया। 

सबसे बड़ी जीत
महिमा विश्वराज मेवाड़, राजसमंद
जीत का अंतर
3,92,223

सबसे छोटी जीत
राव राजेन्द्र सिंह, जयपुर ग्रामीण
जीत का अंतर
1,615

Read More लापरवाही: सड़क बनी दरिया, वाहन चालक परेशान

पांच एमएलए बने एमपी
लोकसभा चुनाव में राजस्थान के पांच विधायक जीत गए। अब उनके विधानसभा क्षेत्रों में उप चुनाव कराए जाएंगे। ये सभी पिछले साल नवम्बर में हुए विधानसभा चुनावों में विधायक निर्वाचित हुए थे। चौरासी विधानसभा क्षेत्र से बाप के विधायक राजकुमार रोत, दौसा से कांग्रेस के विधायक मुरारीलाल मीणा, उनियारा से कांग्रेस के विधायक हरीशचन्द्र मीणा, खींवसर से आरएलपी के विधायक हनुमान बेनीवाल और झुंझुनूं से कांग्रेस के विधायक बृजेन्द्र ओला लोकसभा चुनाव जीत कर सांसद बन गए हैं। 

Read More कोटा से मुंबई तक एक्सप्रेस रफ्तार में अभी दरा टनल और गुजरात की बाधा

भाजपा का वोट बैंक 8.81% कम हुआ
राजस्थान में पिछले लोकसभा चुनावों के मुकाबले इस बार भाजपा के वोटबैंक में 8.81 फीसदी कमी आई है। साल 2019 में भाजपा को 58.8 प्रतिशत वोट मिले थे। इस बार यह आंकड़ा घटकर 49.59 प्रतिशत रह गया। इसके मुकाबले कांग्रेस के मतों में आठ प्रतिशत बढ़ोतरी हुई है। पांच साल पहले कांग्रेस को 34.2 प्रतिशत मत मिले थे। 

Read More NEET UG SC Hearing : आईआईटी दिल्ली को 3 सदस्ययी कमेटी बनाने का आदेश

दो पूर्व सीएम के बेटे भी मैदान में थे: वसुन्धरा के बेटे दुष्यंत जीते, गहलोत के बेटे वैभव हारे
लोकसभा चुनावों में राजस्थान से दो पूर्व सीएम के बेटे भी मैदान में थे। पूर्व सीएम वसुन्धरा राजे के बेटे दुष्यंत सिंह झालावाड़-बारां से चुनाव जीत गए हैं। उन्होंने यहां कांग्रेस की उर्मिला जैन को बड़े अंतर से हराया है। दुष्यंत इस सीट पर पांचवीं बार चुनाव जीत कर आए हैं। इसके चलते वे वर्तमान भाजपा से जीत कर आए सांसदों में सबसे ज्यादा बार जीते हुए सांसद बन गए हैं। वहीं पूर्व सीएम अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत ने जालौर-सिरोही लोकसभा सीट से चुनाव लड़ा था। यहां वे भाजपा के लुंबाराम चौधरी से चुनाव हार गए हैं। वैभव पिछली बार जोधपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़े थे। तब उन्हें भाजपा सरकार में केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने चुनाव हराया था। इस बार उन्होंने सीट बदली थी, लेकिन जीत हाथ नहीं लगी। 

Post Comment

Comment List

Latest News

बस स्टैंड की बजाय बाईपास से ही बस ले जाने वाले चालकों पर होगी कार्रवाई बस स्टैंड की बजाय बाईपास से ही बस ले जाने वाले चालकों पर होगी कार्रवाई
राजस्थान रोडवेज सीएमडी श्रेया गुहा ने सोमवार को रोडवेज मुख्यालय में समीक्षा बैठक ली। जिसमें सभी अधिकारी मौजूद रहे।
Jaipur Gold & Silver Price : चांदी 450 रुपए और जेवराती सोना सौ रुपए सस्ता 
ERCP का समझौता पूर्वी राजस्थान का गला घोटेगा पीने का पानी भी पूरा नहीं मिलेगा : रामकेश मीणा 
Budget 2024 : कल करेगी सीतारमण बजट पेश, सातवीं बार आम बजट पेश कर बनाएगी रिकार्ड
पाकिस्तानी सिंगर राहत फतेह अली खान गिरफ्तार
महाराणा प्रताप और सूरजमल के वंशजों को लड़ाना बंद करो:  भैराराम चौधरी
उद्योग व्यापार और एमएसएमई को राहत की उम्मीद