भाजपा की सुभाष चंद्रा के जरिये कांग्रेस खेमे में सेंध की तैयारी: चंद्रा बने भाजपा समर्थित उम्मीदवार

घनश्याम तिवारी ने भाजपा प्रत्याशी और चंद्रा ने निर्दलीय भरा नामांकन

भाजपा की सुभाष चंद्रा के जरिये कांग्रेस खेमे में सेंध की तैयारी: चंद्रा बने भाजपा समर्थित उम्मीदवार

जयपुर। एक निजी न्यूज़ चैनल के चेयरमैन और हरियाणा के सांसद रहे सुभाष चंद्रा के जरिए भारतीय जनता पार्टी ने राज्यसभा की चौथी सीट के लिए दावेदारी ठोक दी है। हालांकि चंद्रा को भाजपा सिंबल पर प्रत्याशी बनाकर नहीं उतारा गया है। उन्हें भाजपा ने निर्दलीय मैदान में उतारा है ।

जयपुर। एक निजी न्यूज़ चैनल के चेयरमैन और हरियाणा के सांसद रहे सुभाष चंद्रा के जरिए भारतीय जनता पार्टी ने राज्यसभा की चौथी सीट के लिए दावेदारी ठोक दी है। हालांकि चंद्रा को भाजपा सिंबल पर प्रत्याशी बनाकर नहीं उतारा गया है। उन्हें भाजपा ने निर्दलीय मैदान में उतारा है । ऐसे में वह भाजपा समर्थित निर्दलीय उम्मीदवार कहलाएंगे। प्रदेश और फिर केंद्रीय नेतृत्व की सहमति से चंद्रा को भाजपा ने समर्थन दिया है। चंद्रा को भाजपा अपने पहली सीट के लिए सुरक्षित प्रत्याशी घनश्याम तिवारी को 41 वोट देने के बाद शेष बचे 30 वोट एकमुश्त देगी। इसके अलावा आरएलपी के 3 वोट भी उनके साथ होंगे। अब चंद्रा को जीतने के लिए इसके बाद 8 वोटों की जरूरत होगी। जानकारी के अनुसार भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेताओं और चंद्रा ने अपने बलबूते भी 8 वोट लेने के लिए निर्दलीय और छोटे दलों सहित कुछ कांग्रेस के विधायकों से भी संपर्क साधा बताएं। चंद्रा ने नामांकन दाखिले के अंतिम दिन विधानसभा पहुंचकर अपना नामांकन दाखिल किया है। चंद्रा देर रात ही भाजपा से समर्थन लेकर दिल्ली से जयपुर आए थे इसके बाद सुबह उनके नामांकन की औपचारिकताएं भाजपा नेताओं ने ही पूरी की है।

भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी घनश्याम तिवारी ने और चंद्रा ने सुबह विधानसभा में नामांकन दाखिल कर दिया है। घनश्याम तिवारी के नामांकन पर पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया, नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ सहित और वरिष्ठ नेता प्रस्तावक और समर्थक बनाए गए हैं। वही चंद्रा के प्रस्तावक और समर्थक भी ज्यादातर भाजपा के ही विधायक हैं। तिवारी और चंद्रा के विधानसभा पहुंचने पर वसुंधरा राजे, राजेंद्र राठौड़ ,सतीश पूनिया, गुलाबचंद कटारिया ने उनका स्वागत किया। नामांकन भरते वक्त तिवारी और चंद्र के साथ यह सभी बड़े नेता मौजूद रहे।

Post Comment

Comment List

Latest News