मेडिकल कॉलेज में हुआ साल का पहला देहदान

78 वर्षीय राजकुमार जैन के परिजनों ने कराया देहदान

 मेडिकल कॉलेज में हुआ साल का पहला देहदान

मेडिकल कॉलेज में शनिवार सुबह इस साल का पहला देहदान हुआ। कॉलेज में अब तक कुल 38 देहदान हो चुके हैं ।

कोटा। मेडिकल कॉलेज में शनिवार सुबह इस साल का पहला देहदान हुआ। कॉलेज में अब तक कुल 38 देहदान हो चुके हैं ।
बल्लभ बाड़ी निवासी दिलीप जैन ने बताया कि उनके 78 वर्षीय पिता राजकुमार जैन काफी समय से बीमार चल रहे थे । 4 दिन पहले उनकी तबीयत अचानक ज्यादा खराब हुई। उन्हें अस्पताल ले जाया गया । उस समय उन्होंने परिजनों से अपनी मौत के बाद देहदान कराने की इच्छा जाहिर की थी। दिलीप जैन ने बताया कि शुक्रवार शाम को उपचार के दौरान उनका निधन हो गया । इसके बाद उन्होंने मेडिकल कॉलेज अस्पताल प्रशासन से संपर्क किया और शनिवार  सुबह उनका देहदान मेडिकल कॉलेज में किया गया इससे पहले उनके पिता की इच्छा अनुसार उनका नेत्रदान भी कराया गया । दिलीप जैन ने बताया कि वह मूल रूप से आसाम के रहने वाले हैं। उनका वहां व्यवसाय था उसके बाद वह रामगंजमंडी आ गए थे। वहां से पिछले कई सालों से कोटा में बल्लभ बाड़ी में रह रहे हैं । उनके बड़े भाई भागचंद जैन भी मंडी में रहते हैं ।

 मेडिकल कॉलेज आॅटोनॉमी विभाग की विभागाध्यक्ष प्रतिमा जायसवाल ने बताया कि राजकुमार जैन के परिजनों ने देहदान की प्रक्रिया को संपन्न कराया है। यह इस साल का पहला देहदान मेडिकल कॉलेज को प्राप्त हुआ है।  इसके साथ ही अब तक मेडिकल कॉलेज में कुल 38 आवेदन प्राप्त हो चुके हैं । उन्होंने बताया कि कोरोना काल में कमेटी द्वारा शवों को नहीं लिया जा रहा था । इस कारण उस अवधि में देहदान में कमी आई है।

Post Comment

Comment List

Latest News