धौलपुर में बढ़ेगा जलस्तर, समृद्ध होगा किसान : मुख्यमंत्री

643 करोड़ रुपए की लागत से होगा कालीतीर लिफ्ट परियोजना का निर्माण

धौलपुर में बढ़ेगा जलस्तर, समृद्ध होगा किसान : मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने कहा कि घर-घर जल पहुंचाने के उद्देश्य से जल जीवन मिशन को समयबद्ध पूरा करने की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। इसमें जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग से 820 करोड़ रुपए लागत के कार्य हैं।

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को धौलपुर जिले की जनता को सौगात दीं। उन्होंने मुख्यमंत्री निवास से वीसी के जरिए कालीतीर लिफ्ट परियोजना का शिलान्यास व सिलावट एनीकट परियोजना का लोकार्पण किया। समारोह में उन्होंने कहा कि इन परियोजनाओं से धौलपुर जिले में जलस्तर में वृद्धि होगी। किसानों को सिंचाई के लिए लम्बे समय तक पर्याप्त जल मिलेगा, जिससे वे वर्षभर खेती कर सकेंगे और उनकी आय भी बढ़ेगी।

गहलोत ने विभागीय अधिकारियों को कालीतीर लिफ्ट परियोजना का कार्य समयबद्ध और गुणवत्तापूर्वक कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जल सीमित व अमूल्य प्राकृतिक संसाधन है। ऐसे में जल संरक्षण से ही पानी बचाव संभव है। उन्होंने प्रदेशवासियों से जल संरक्षण और कम पानी में अधिक खेती की पद्धति अपनाने का आह्वान किया। 

जल जीवन मिशन हमारी प्राथमिकता
मुख्यमंत्री ने कहा कि घर-घर जल पहुंचाने के उद्देश्य से जल जीवन मिशन को समयबद्ध पूरा करने की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। इसमें जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग से 820 करोड़ रुपए लागत के कार्य हैं। उन्होंने कहा कि मिशन में केंद्र सरकार 45 प्रतिशत और राज्य सरकार 55 प्रतिशत वहन कर रही है। इसमें आमजन द्वारा दी जाने वाली 10 प्रतिशत राशि भी राज्य सरकार वहन कर उन्हें राहत प्रदान कर रही है। 

कालीतीर लिफ्ट परियोजना से होंगे फायदे
बसेड़ी विधानसभा की सरमथुरा तहसील में कालीतीर लिफ्ट परियोजना के निर्माण में 643 करोड़ रुपए व्यय होंगे। चम्बल नदी में वर्षाकाल के दौरान अत्यधिक जल को लगभग 180 मीटर लिफ्ट कर पार्वती बांध और रामसागर बांध को हर वर्ष पूरी क्षमता तक भरा जाएगा। इससे कमांड क्षेत्र में सिंचाई की सुविधा सुनिश्चित हो सकेगी। इन बांधों के भरने से जिले की जीवनदायनी बामनी, पार्वती और उटंगन नदियों में हमेशा जल उपलब्ध रहेगा। इससे बसेड़ी विधानसभा क्षेत्र के 3, बाड़ी के 4, धौलपुर के 1 और राजाखेड़ा के 10 एनीकट में जलभराव संभव होगा। 
इस परियोजना से धौलपुर जिले के 3 शहरी और 433 ग्रामीण क्षेत्रों के लिए आवश्यक पेयजल भी उपलब्ध हो सकेगा। जिले का भूजल स्तर बढ़ने से किसानों को सिंचाई के लिए और आमजन व पशुओं के लिए पीने का पानी भी आसानी से सुलभ हो सकेगा। 

सिलावट एनीकट से कुओं, नलकूपों का बढ़ेगा जलस्तर
धौलपुर जिले की राजाखेड़ा तहसील के सिलावट गांव में उटंगन नदी पर 100 मीटर लम्बा और 2 मीटर ऊंचा एनीकट बनाया गया है। इसमें 0.54 मिलियन क्यूबिक मीटर जल भराव होता है। इस एनीकट के निर्माण से ग्राम सिलावट, जवाहर का पुरा, काटरपुरा और कसियापुरा के गांवों की 12 हजार जनसंख्या को लाभ मिलेगा। आसपास के कुंओं, नलकूपों में जलस्तर बढ़ेगा।

Post Comment

Comment List

Latest News

छत्तीसगढ़ कोल ब्लॉक पर दोनों सीएम के बयानों से विरोधाभास: गहलोत छत्तीसगढ़ कोल ब्लॉक पर दोनों सीएम के बयानों से विरोधाभास: गहलोत
इस मुद्दे पर गुमराह कर रहे हैं या दोनों मुख्यमंत्री मिलकर अपने-अपने राजनीतिक हितों के अनुरूप जनता को गुमराह कर...
RPF ने पिछले 7 वर्षों में 'ऑपरेशन नन्हे फरिश्ते' के तहत 84,119 बच्चों को बचाया
सुस्त निवेश से 10 वर्ष में घाटी आर्थिक विकास की रफ्तार : कांग्रेस
आतंकी हमलों की रोकथाम के लिए केंद्र करे गम्भीरता से प्रयास: गहलोत
बड़ी बड़ी बातें नहीं कर केन्द्र आतंकियों के खिलाफ करें सख्त कार्यवाही: डोटासरा
जयपुर संभाग में हुआ 9 लाख 92 हजार से ज्यादा वृक्षारोपण
औषधि के उच्च मानक तय करना जरूरी, विश्व स्तरीय विनियामक ढांचे की आवश्यकता है: नड्डा