लीक पेपर रद्द कब? : 10 से 15 लाख रुपए में बिका, दो ट्रेनी एसआई एक प्लाटून कमाण्डर समेत पेपर लीक करने वाले 7 आरोपी गिरफ्तार

एसओजी की टीम ने ट्रेनिंग सेन्टर से पकड़ा

लीक पेपर रद्द कब? : 10 से 15 लाख रुपए में बिका, दो ट्रेनी एसआई एक प्लाटून कमाण्डर समेत पेपर लीक करने वाले 7 आरोपी गिरफ्तार

गैंग पेपर को सॉल्व करवाने के बाद बेचा था।

जयपुर। स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) ने एसआई भर्ती पेपर लीक मामले में बड़ा खुलासा कर दिया। एसओजी टीम ने दो ट्रेनी एसआई, एक प्लाटून कमाण्डर समेत पेपर लीक करने वाले सात आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

हाल में 50 हजार रुपए के इनामी पोरव कालेर को गिरफ्तारी के बाद पूछताछ में खुलासा हुआ कि पोरव कालेर गैंग ने 13 सितंबर 2021 को बीकानेर की रामसहाय आदर्श सैकण्डरी स्कूल से हिंदी व जीके का परीक्षा से पहले पेपर लीक किया था। गैंग पेपर को सॉल्व करवाने के बाद बेचा था। अब तक एसओजी की जांच में सामने आया था कि जगदीश बिश्नोई गैंग ने शांति नगर सोडाला स्थित रविंद्र बाल भारती सीनियर सैकण्ड्री स्कूल से 14 व 15 सितंबर 2021 का हिंदी व जीके के चारों पेपर लीक किए थे।

एसओजी के एडीजी वीके सिंह ने बताया कि एसओजी ने पोरव कालेर, प्रवीण कुमार बिश्नोई, दिनेश सिंह चौहान और नरेशदान चारण को पेपर लीक करने और उसे सॉल्व कर लाखों रुपए में बेचने के आरोप में गिरफ्तार किया है। वहीं मनीषा सिहाग, अंकिता गोदारा और प्रभा बिश्नोई को पोरव कालेर गैंग से लीक पेपर खरीद कर परीक्षा से पहले पढ़ने के बाद परीक्षा देने के आरोप में गिरफ्तार किया है। अब एसओजी फरार तुलसाराम की तलाश कर रही है। 

डमी परीक्षा में आए सिर्फ 50 प्रतिशत अंक

Read More लापरवाही: सड़क बनी दरिया, वाहन चालक परेशान

मनीषा सिहाग ट्रेनी एसआई
सिहाग का 13 सितम्बर 2021 को परीक्षा केन्द्र जयपुर आया। परीक्षा में इसकी 696 वीं रैंक आई। इसके हिंदी में 146, जीके में 140 नंबर और इंटरव्यू में 28 नंबर आए थे। इस प्रकार कुल 384 अंक प्राप्त हुए। वहीं एसओजी की ली गई 100-100 अंकों की डमी परीक्षा में हिंदी में 51 व जीके में 62 अंक प्राप्त किए थे।

Read More अतिक्रमण का दंश: भगवान की संपत्तियां भगवान भरोसे

प्रभा बिश्नोई ट्रेनी एसआई 
प्रभा ने 13 सितम्बर की एसआई परीक्षा दी जिसमें इसकी 1357 वीं रैंक आई थी। उसका जयपुर में परीक्षा केन्द्र था। उसके हिंदी में 142, जीके में 126 नंबर और इंटरव्यू में 25 नंबर आए थे। इस प्रकार कुल 294 अंक प्राप्त किए। वहीं एसओजी की ली गई 100-100 अंकों की डमी परीक्षा में हिंदी में 30 व जीके में 40 अंक प्राप्त किए थे।

Read More उदयपुर ग्रामीण के अस्पताल भवन निर्माण में अनियमितता की 72 घण्टे में जांच होगी: खर्रा

प्रवीण कुमार 
प्रवीण कुमार बिश्नोई (35) रायसिंह नगर श्रीगंगानगर हाल मूर्ति कॉलोनी वैशाली नगर का रहने वाला है। यह पहले कैग के जरिए सीनियर ऑडिटर था। इसने दिसम्बर 2023 में सीनियर ऑडिटर पद से इस्तीफा दिया था। इसने एसआई भर्ती समेत कई पेपर हल किए थे। यह पढ़ने में होशियार था। यह पोरव कालेर के लिए काम करता था। 

नरेशदान चारण
नरेशदान चारण (38) कोलायत बीकानेर का रहने वाला है। इसने 13 सितम्बर को हिन्दी का पेपर सॉल्व करवाया था। इसने इसके  अलावा अन्य कई पेपर भी सॉल्व किए। 

अंकिता गोदारा ट्रेनी एसआई
अंकिता ने 13 सितम्बर 2021 को एसआई की परीक्षा उदयपुर केन्द्र में दी। अंकिता गोदारा की 506 वीं रैंक आई थी। उसके हिंदी में 146, जीके में 158 नंबर और इंटरव्यू में 16 नंबर आए थे। इस प्रकार कुल 320 अंक प्राप्त किए। वहीं एसओजी की ली गई 100-100 अंकों की डमी परीक्षा में हिंदी में 51 व जीके में 72 अंक प्राप्त किए थे। 

पौरव कालेर 
पोरव कालेर (37) मूलत: छापर चूरू हाल बीकानेर का रहने वाला है। यह राजस्थान में ब्लूटूथ के मार्फत नकल करवाने में माहिर है। इसके चाचा तुलसाराम मिलकर पेपर लेकर सॉल्व करवाते हैं और उसके बाद ब्लूटूथ से नकल करवाते हैं। इस पर 50 हजार रुपए का इनाम घोषित था। 

दिनेश सिंह चौहान
दिनेश सिंह चौहान (48) मुक्ता प्रसाद नगर बीकानेर का रहने वाला है। यह रामसहाय आदर्श हायर सैकण्ड्री स्कूल का सचिव है। आरोपी राजू मैट्रिक्स ने दिनेश से 13 सितम्बर को हुए हिन्दी व सामान्य ज्ञान के पेपर मोबाइल पर मंगवाए थे। पेपर के लिए 15 लाख रुपए में सौदा तय हुआ था, जिसमें से दो लाख रुपए एडवांस ले लिए थे। राजू ने स्ट्रॉग रूम से परीक्षा कक्ष तक पेपर पहुंचाने के दौरान ही छिप कर पेपर की मोबाइल से फोटो खींचे थे।

एडीजी एसओजी वीके सिंह ने बताया कि एसआई पेपर लीक मामले में दो ट्रेनी एसआई, एक ट्रेनी प्लाटून कमाण्डर और चार पेपर लीक और नकल करवाने वालों को पकड़ा गया है। एसओजी की टीम इन सभी से पूछताछ कर रही है।    

10-10 लाख रुपए में बेचा पेपर 
एसओजी टीम ने जब पोरव कालेर से पूछताछ की तो सामने आया कि रामसहाय सैंकडरी स्कूल बीकानेर के संचालक दिनेश सिंह चौहान को उसके परिचित राजू मैट्रिक्स के माध्यम से दोनों परियों के पेपर के 10 लाख रुपए दिए। इसके बाद राजू मैट्रिक्स ने 13 सितंबर को हुए हिंदी व जीके के पेपर की मोबाइल से फोटो खींच कर पोरव कालेर व उसके साथी प्रवीण को भेजा था। 

Post Comment

Comment List

Latest News

बस स्टैंड की बजाय बाईपास से ही बस ले जाने वाले चालकों पर होगी कार्रवाई बस स्टैंड की बजाय बाईपास से ही बस ले जाने वाले चालकों पर होगी कार्रवाई
राजस्थान रोडवेज सीएमडी श्रेया गुहा ने सोमवार को रोडवेज मुख्यालय में समीक्षा बैठक ली। जिसमें सभी अधिकारी मौजूद रहे।
Jaipur Gold & Silver Price : चांदी 450 रुपए और जेवराती सोना सौ रुपए सस्ता 
ERCP का समझौता पूर्वी राजस्थान का गला घोटेगा पीने का पानी भी पूरा नहीं मिलेगा : रामकेश मीणा 
Budget 2024 : कल करेगी सीतारमण बजट पेश, सातवीं बार आम बजट पेश कर बनाएगी रिकार्ड
पाकिस्तानी सिंगर राहत फतेह अली खान गिरफ्तार
महाराणा प्रताप और सूरजमल के वंशजों को लड़ाना बंद करो:  भैराराम चौधरी
उद्योग व्यापार और एमएसएमई को राहत की उम्मीद