परिष्कार कॉलेज में पढ़ सकेंगे डीयू और जेएनयू के कोर्स

पीएचडी डिग्री के लिए भी शोध करवा सकेगा

परिष्कार कॉलेज में पढ़ सकेंगे डीयू और जेएनयू के कोर्स

परिष्कार कॉलेज यूजीसी का पहला ऑटोनॉमस महाविद्यालय बन गया है। परिष्कार कॉलेज अब ग्लोबल एक्सीलेंस एंड सेंट्रल यूनिवर्सिटी, डीयू और जेएनयू आदि के कोर्स पढ़ा सकेगा, क्योंकि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग यूजीसी ने इसे एक विशेष योजना के तहत ऑटोनॉमस स्टेट महाविद्यालय प्रदान किया है।

जयपुर। परिष्कार कॉलेज यूजीसी का पहला ऑटोनॉमस महाविद्यालय बन गया है। परिष्कार कॉलेज ऑफ ग्लोबल एक्सीलेंस एंड सेंट्रल यूनिवर्सिटी, डीयू और जेएनयू आदि के कोर्स पढ़ा सकेगा, क्योंकि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग यूजीसी ने इसे एक विशेष योजना के तहत ऑटोनॉमस स्टेट महाविद्यालय प्रदान किया है। इससे परिष्कार कॉलेज ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन डिग्री के साथ-साथ पीएचडी डिग्री के लिए भी शोध करवा सकेगा। अब परिष्कार कॉलेज सिलेबस भी बना सकेगा। परीक्षाएं भी लेगा और डिग्री राजस्थान विश्वविद्यालय प्रदान करेगा।

कॉलेज के निदेशक डॉ. राघव प्रकाश ने बताया कि अब हम आई एएसआरएएस का 3 वर्ष का फाउंडेशन कोर्स चला सकेंगे। इसके साथ ही इंडस्ट्री की जरूरत के अनुसार स्टूडेंट को तैयार कर डिग्री प्रदान करेंगे। एक्सपोर्ट हार्ड वर्ड स्टैनफोर्ड आईबीएम गूगल आदि के कोर्सेज की जांच कर तथा बैंक एवं इंडस्ट्रीज के एक्सपर्ट को शामिल कर डाटा एनालिसिस आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सॉफ्टवेयर वेब डेवलपमेंट और मैनेजमेंट के अंतरराष्ट्रीय स्तर के ऐसे उत्कर्ष और तैयार किए है, जिनसे हमारे बीए बीएससी, बीसीए, बीएएमएस और बीबीए के विद्यार्थियों को डिग्री मिलने से पहले ही एमएनसीजी के बड़े पैकेज पर जॉब मिल सकेगी।

Post Comment

Comment List

Latest News