मामचारी बांध में डूबने से दो युवकों की मौत, दो घायल

गंगापुर से पिकनिक मनाने गए थे

मामचारी बांध में डूबने से दो युवकों की मौत, दो घायल

करौली में मामचारी बांध में डूबने से 2 युवकों की मौत हो गई। दोनों युवक अपने दो अन्य दोस्तों के साथ गंगापुर सिटी से मामचारी बांध घूमने आए थे

गंगापुर सिटी। करौली में मामचारी बांध में डूबने से 2 युवकों की मौत हो गई। दोनों युवक अपने दो अन्य दोस्तों के साथ गंगापुर सिटी से मामचारी बांध घूमने आए थे। इस दौरान यहां नहाते समय गहरे पानी में चले गए और डूब गए। बांध से बाहर निकले दोनों युवक तैरना नहीं जानते थे, इसलिए उनको बचा नहीं पाए। पहले इन सभी दोस्तों ने गंगापुर सिटी के किसी रिसोर्ट के स्विमिंग पूल में नहाने का प्लान बनाया था, लेकिन रिसोर्ट बंद होने के कारण सभी ने मामचारी बांध घूमने आ गए और यहां नहाते समय 2 युवक डूब गए। सदर थाना के एएसआई गंभीर सिंह ने बताया कि मनोज कुमार (27) पुत्र राम खिलाड़ी, विकास उर्फ मोनू (26) पुत्र मुरारी लाल बैरवा, विष्णु (27) पुत्र रतनलाल और राजा (25) पुत्र भरत लाल निवासी गंगापुर सिटी मंगलवार दोपहर को करीब 3.30 बजे मामचारी बांध पर घूमने आए थे। इस दौरान बांध में नहाते समय चारों युवक गहरे पानी में चले गए और डूबने लगे। राजा और विष्णु तो जैसे-तैसे पानी से बाहर निकल आए, लेकिन मनोज और मोनू गहरे पानी में डूब गए। युवकों की आवाज सुनकर पास ही अपने परिवार के साथ घूमने आया युवक ललित बैरवा पानी में कूदा और मनोज को बाहर निकालकर अपनी गाड़ी से करौली अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टर ने जांच के बाद उसको मृत घोषित कर दिया। एसआई ने बताया कि आस-पास मौजूद गोताखोरों ने करीब 1 घंटे की मशक्कत के बाद मोनू को पानी से बाहर निकाला और जिला अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टर ने जांच के बाद उसे भी मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने दोनों मृतकों के शव जिला अस्पताल की मोर्चरी में रखवाए और परिजनों के पहुंचने पर पोस्टमार्टम करवाकर शव उनको सौंप दिए। मृतकों के दोस्त विष्णु ने बताया कि उनका गंगापुर सिटी में स्विमिंग पूल में नहाने का प्लान बनाया था, लेकिन रिसोर्ट बंद होने के कारण सभी यहां बांध पर घूमने आ गए और नहाते समय यह हादसा हो गया।
मनोज का रेलवे गार्ड के रूप में हुआ था चयन

मृतक मोनू के पिता मुरारी लाल प्रोफेसर है और मां गृहणी है। मृतक के एक बड़ा और एक छोटा भाई है। मृतक कॉम्पिटिशन की तैयारी कर रहा था। मृतक मनोज पुत्र रतन लाल बैरवा रींगस पूरा नादौती के रहने वाले हैं, लेकिन फिलहाल वह गंगापुर में रहते हैं। मृतक मनोज के पिता रतनलाल दिगी में कुली है और मृतक के 1 भाई और 1 बहन हैं। मनोज सबसे बड़ा था और उसने एमएससी बी एड कर रखा था। हाल ही में मनोज का रेलवे गार्ड के रूप में चयन हुआ था और जॉइनिंग से पहले ही यह हादसा हो गया।
 

Post Comment

Comment List

Latest News

शहर के बीच से निकल रही बाईं मुख्य नहर दुर्दशा का शिकार शहर के बीच से निकल रही बाईं मुख्य नहर दुर्दशा का शिकार
शहर में इस समय करोड़ों रुपए के विकास कार्य चल रहे हैं। सौंदर्यीकरण के तहत शहर के प्रमुख चौराहों को...
शेयर बाजार फिर गिरकर बंद
महाकाली जैसे वेश में धूम्रपान करती लड़की के चित्र पर बवाल, लीना के खिलाफ मामला दर्ज
मुख्यमंत्री की कार्मिकों को सौगात: पशुपालन विभाग के 475 कार्मिकों को मिलेंगे पदोन्नति के अवसर
प्रकाश राजपुरोहित ने संभाला जयपुर जिला कलेक्टर का कार्यभार, कहा, 'सरकार की योजनाओं को जनता तक पहुंचाना पहली प्राथमिकता'
जापानी जलक्षेत्र में घुसे दो चीनी जहाज
काटली नदी के अतिक्रमियों को सुनवाई का मौका देकर करें कार्रवाई