कप्तान दुर्गाप्रसाद चौधरी पुरस्कार समारोह का भव्य आयोजन

छोटी खबर को भी प्रमुखता से प्रकाशित किया जाता है

कप्तान दुर्गाप्रसाद चौधरी पुरस्कार समारोह का भव्य आयोजन

पूर्व पाली सांसद बद्रीराम जाखड़ ने कहा कि दैनिक नवज्योति आम आदमी का अखबार है। यह वो समाचार पत्र है जिसमें छोटी से छोटी खबर को भी प्रमुखता से प्रकाशित किया जाता है।

जोधपुर। पूर्व पाली सांसद बद्रीराम जाखड़ ने कहा कि दैनिक नवज्योति आम आदमी का अखबार है। यह वो समाचार पत्र है जिसमें छोटी से छोटी खबर को भी प्रमुखता से प्रकाशित किया जाता है। जाखड़ दैनिक नवज्योति की ओर से जोधपुर में कप्तान दुर्गाप्रसाद चौधरी पत्रकार पुरस्कार समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। इससे पहले अतिथियों ने कप्तान दुर्गाप्रसाद की तस्वीर के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किये। समारोह के मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत थे। लेकिन उदयपुर प्रकरण के बाद उन्हें बुधवार जल्दी सुबह जयपुर जाना पड़ा इसलिए वे समारोह में उपस्थित नहीं हो पाये। उन्होंने शुभकामनायें प्रेषित करते हुए सम्मानित होने वाले पत्रकारों को बधाई दी। कार्यक्रम में शहर की राजनीतिक, साहित्यिक, मीडिया जगत की कई हस्तियों के साथ बड़ी संख्या में गणमान्य लोग उपस्थित थे।

समारोह में सिरोही विधायक संयम लोढ़ा ने कहा कि वह नवज्योति पढ़ते आये हैं। नवज्योति में पाठकों की हर जिज्ञासा शांत होती है। और समाचार पत्र  भले ही किसी के सहयोग और सपोर्ट से ऊंचे उठे हो लेकिन नवज्योति की लोकप्रियता खुद के ही बुते हैं। समारोह को संबोधित करते हुए सूरसागर विधायक सूर्यकांता व्यास ने कहा कि नवज्योति सबसे पुराना और विश्वसनीय समाचार पत्र है। दूसरे समाचार पत्रों में खबरें छूट जाती है, लेकिन नवज्योति हर समाचार को उसकी महत्ता के आधार पर प्रकाशित करता है।  नवज्योति आज यदि लोकप्रियता के शिखर पर है, तो वो इसलिए क्यों कि यह समाचार पत्र किसी प्रकार का प्रापेगेंडा नहीं करता।  समारोह को संबोधित करते हुए पशुधन विकास बोर्ड के अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह सौलंकी कहा कि जिस समय अजमेर से प्रकाशित होकर नवज्योति जोधपुर पहुंचता था, तब भी यह इतना ही लोकप्रिय था आज तो यह हर घर की जरूरत बन गया है।  रीको निदेशक सुनील परिहार ने कहा कि आजादी की लड़ाई में नवज्योति का महत्वपूर्ण योगदान रहा। समारोह को संबोधित करते हुए शहर विधायक मनीषा पंवार ने कहा कि सरकारी योजनाओं को आम जन तक पहुंचाने का कार्य दैनिक नवज्योति प्रभावी तरीके से करता है। महापौर कुंती देवड़ा ने कहा कि नवज्योति ने आम आदमी का दिल जीता है और नवज्योति की खबर पढ़ने के बाद ही पाठकों को संतुष्टि होती है। इससे पहले नवज्योति जयपुर संस्करण के चीफ रिपोर्टर ने एलएल शर्मा ने कप्तान दुर्गाप्रसाद चौधरी पुरस्कार के बारे में विस्तार से जानकारी दी। अंत में आभार नवज्योति जोधपुर संस्करण के महाप्रबंधक मुकुल गुप्ता ने ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन कपिल मिर्धा और अंकिता शर्मा ने किया।

नवज्योति ने देश के लोगों को एक सूत्र में बांधा है
जिस समय अंग्रेजी हकूमत के खिलाफ कुछ भी बोलना अपराध समझा जाता था, लेकिन कप्तान दुर्गा प्रसाद चौधरी साहब ने उस समय पत्रकारिता के माध्यम से देश में नई अलख जगाई और देश के लोगों को एक सूत्र में बांधकर मजबूत करने का प्रयास किया। 76 वर्षो बाद भी दैनिक नवज्योति पत्रकारिता के स्तंभ के रूप में खड़ा है और देश के शोषित वर्ग की आवाज को मुखर कर रहा है, जिसके लिये देश के हर वर्ग की ओर से नवज्योति परिवार को साधुवाद देता हूं।

Read More 25 साल पुरानी पुलिया टूटी, दो गांवों का सम्पर्क टूटा, आवागमन बाधित

- सुनील परिहार, चेयरमैन रीको

 दैनिक नवज्योति हर वर्ग की पहली पसंद
प्रधान संपादक दीनबंधु जी चौधरी ने कप्तान दुर्गा प्रसाद चौधरी साहब के बारे में जो भी कहा बहुत कम है। जीजी ने कहा कि दैनिक नवज्योति और मेरी आयु एक है। अपने अनुभव साझा करते हुये जीजी ने कहा कि वर्ष 1970 में नगर पालिका की सदस्य थी उस दौरान नवज्योति की प्रिंटिंग अजमेर से हुआ करती थी। एक बार भैरूसिंह शेखावत का टेलीफोन आया कि देखो जोधपुर के समाचार पत्र में कुछ छपा है तब नवज्योति में देखा तो समाचार का प्रकाशन हुआ था। दैनिक नवज्योति आज हर वर्ग की पहली पसंद है।
 - सूर्यकांता व्यास, विधायक सूरसागर

दैनिक नवज्योति पारिवारिक समाचार पत्र है
दैनिक नवज्योति के लिये क्या कहू, यह एक पारिवारिक समाचार पत्र है। मेरे पिता स्व. राम सिंह जी आर्य प्रात: उठते ही सबसे पहले दैनिक नवज्योति पढ़ते थे और कप्तान दुर्गा प्रसाद चौधरी के विचारों से प्रभावित थे। देश को आजाद करने में दैनिक नवज्योति ने अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा की, जिस समय अंग्रेजों के खिलाफ कोई बोलने की हिम्मत नहीं जुटा पाता था उस समय कप्तान दुर्गा प्रसाद चौधरी ने देश की जनता की आवाज बने और समाचार पत्र के माध्यम से जनता तक अपना संदेश दिया।
- मनीषा पंवार, शहर विधायक

Read More सड़कें बनी दरियां, कीचड़ से आमजन परेशान

दैनिक नवज्योति की अलग पहचान
 कप्तान दुर्गाप्रसाद चौधरी ने 1936 में दैनिक नवज्योति का प्रकाशन आरंभ किया। उस समय अखबार का प्रकाशन आसान काम नहीं था, लेकिन कप्तान साहब ने उस बीडे को उठाया और देश के हर वर्ग को एक किया। आजादी से पहले समाचार पत्र ही आमजन तक देश विदेश की खबरे पहुंचाने का माध्यम था, दैनिक नवज्योति ने अपनी अहम भूमिका निभाई, दैनिक नवज्योति ने 86 वर्ष के सफर में अपनी अलग पहचान बनाई है। नवज्योति सभी की आवाज को अपने समाचार पत्र में स्थान देता है।
- कुंती देवड़ा, महापौर उत्तर

राजनीति में नवोदितों को प्लेटफार्म देता है नवज्योति
हम अक्सर सुनते आये है कि आमुक अखबार पर फलाणे का हाथ है, इस समाचार पत्र के पीछे उस पार्टी का हाथ है, लेकिन एक मात्र दैनिक नवज्योति समाचार पत्र है कि जो अपने बुते आज तक खड़ा है और हर वर्ग के अधिकार के लिये संघर्ष कर रहा है। इसका मुख्य कारण है नवज्योति ने अपने प्रकाशन वर्ष से आरंभ होने के बाद हर वर्ग को साथ लेकर साथ चलना शुरू किया, जो अब तक जारी है। आजादी के बाद 1949 को प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू अजमेर आये तब कांग्रेस फ्रंटियर फोर्स के कप्तान के रूप में कप्तान साहब घोड़े पर उनसे मिलने गये थे, तब नेहरू ने दुर्गाप्रसाद को कहा कि आप तो कप्तान लगते हो। उन्होंने कहा कि एक समाचार पत्र केवल समाचार-पत्र नहीं होता है। समाज का आइना होता है जो उस समाज की शोषित होने वाली आवाज को मुखर करता है। इस काम को दैनिक नवज्योति ने बखुबी किया है ।
- संयम लोढा, विधायक सिरोही

देश को मजबूत करने में पत्रकार भूमिका निभाएं
अंग्रेज सरकार के खिलाफ स्वतंत्रता सैनानियों का क्या जज्बा व जुनून रहा था कि उनके बलिदान से हम खुली सांस ले रहे है। कप्तान साहब ने अंग्रेजी हकूमत रवैये के बावजूद 1936 में दैनिक नवज्योति का प्रकाशन आरंभ किया, जिसने हर वर्ग को साथ लेकर चलने की सीख दी और आजादी के संग्राम में अपनी महत्त्ती भूमिका निभाई। दैनिक नवज्योति पहले अजमेर से प्रिंटिंग होता था, लेकिन आज जोधपुर से प्रकाशित होता है। जोधपुर के 18 वर्ष के सफर में नवज्योति ने अपना एक अलग मुकाम बनाया है। नवज्योति के पत्रकारों को मैंने करीब से जाना है, जो होने वाला होता था वे उसे पहले से ही प्रकाशित करते थे। बस यह जज्बा आज के पत्रकारों को उप्तन्न करना होगा। सोलंकी ने कहा कि कप्तान साहब को सच्ची श्रद्धांजलि देनी है, तो देश को मजबूत करने में भूमिका अदा करे।
 - राजेन्द्र सिंह सोलंकी, अध्यक्ष पशुधन विकास बोर्ड

Read More कोटा उत्तर वार्ड 15: तीन दिन बाद आता है पानी, वो भी 5 मिनट, लोग परेशान

आम आदमी का अखबार है दैनिक नवज्योति
नवज्योति अखबार आम आदमी व गरीबों का है न कि पूंजीपतियों का। अब यह सोचने की बात है कि गरीब ज्यादा हैं या पूंजीपति। आम जनता से जुड़ा होने के कारण नवज्योति का विशेष महत्व है। पुरस्कार प्राप्त करने वाले पत्रकारों को बधाई देते हुए कहा कि अब उनकी जिम्मेदारी और भी बढ़ गई है। उन्हें अब और ज्यादा काम करना पड़ेगा। जनता से भी और ज्यादा जुड़ते हुए सच्चाई बाहर लानी पड़ेगी। इस मुद्दे पर उन्होंने ईडी की चर्चा करते हुए कहा कि कांग्रेस में अशोक गहलोत नंबर वन है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में सही राजनीति नहीं हो रही है। बेवजह सरकारी एजेंसियों के माध्यम से डराने का काम हो रहा है। यह ठीक नहीं है। नवज्योति ने हमेशा से ही सकारात्मक समाचारों पर अपना फोकस किया है। इस समय भी नवज्योति को मुख्य भूमिका निभानी चाहिये। नवज्योति सभी का प्रिय समाचार पत्र है।
- बद्रीराम जाखड़, पूर्व सांसद पाली

इनका हुआ सम्मान
अशोक कुमार मेघवाल फलोदी, दीपक बांसवाडा, सुखपाल जाट, किशन उपाध्याय, चूरू, सुरेश जाटोल, बाडमेर, वीरेन्द्र पाटनी छबड़ा जिला बारां, प्रकाश सिंह राठौड़, सोजत सिटी, ललित नारायण, जोधपुर, प्रकाश खंडेलवाल जोधपुर।

यह थे अतिथि
पूर्व सांसद बद्रीराम जाखड़, विधायक सिरोही संयम लोढ़ा, पशुधन बोर्ड के अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह सौलंकी, रीको के निदेशक सुनील परिहार, विधायक सूरसागर सूर्यकांता व्यास, विधायक शहर मनीषा पंवार, महापौर कुंती देवड़ा, नवज्योति ग्रुप के निदेशक हर्ष चौधरी, नवज्योति जोधपुर संस्करण के महाप्रबंधक मुकुल गुप्ता।

Post Comment

Comment List

Latest News