वर्ल्ड चैंपियनशिप में खेलकर लौटी वर्षा-पूजा

राजस्थान हैंडबाल संघ करेगा अपनी खिलाड़ियों और कोच का सम्मान

 वर्ल्ड चैंपियनशिप में खेलकर लौटी वर्षा-पूजा

जयपुर। स्लोवेनिया में वर्ल्ड चैंपियनशिप में हिस्सा लेकर भारत की हैंडबाल टीम मंगलवार को स्वदेश लौट आई। टीम में राजस्थान की वर्षा जाखड़ और पूजा कंवर भी शामिल थीं। वहीं राजस्थान की मनीषा राठौड़ टीम की कोच थीं। भारत ने पहली बार वर्ल्ड चैंपियनशिप में हिस्सा लेने की पात्रता हासिल की थी।

 जयपुर। स्लोवेनिया में वर्ल्ड चैंपियनशिप में हिस्सा लेकर भारत की हैंडबाल टीम मंगलवार को स्वदेश लौट आई। टीम में राजस्थान की वर्षा जाखड़ और पूजा कंवर भी शामिल थीं। वहीं राजस्थान की मनीषा राठौड़ टीम की कोच थीं। भारत ने पहली बार वर्ल्ड चैंपियनशिप में हिस्सा लेने की पात्रता हासिल की थी। भारत की अंडर-20 महिला टीम ने मार्च में अल्माटी (कजाकिस्तान) में 16वीं जूनियर एशियन वुमन चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतकर पहली बार वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए क्वालीफाई किया था। भारतीय टीम का दिल्ली के ओलम्पिक भवन में आईओए महासचिव राजीव मेहता और कोषाध्यक्ष  आनन्देश्वर पांडे ने स्वागत किया। राजस्थान हैंडबॉल संघ के सचिव यश प्रताप सिंह ने बताया कि टीम में शामिल राजस्थान की वर्षा जाखड़ व पूजा कंवर तथा कोच मनीषा राठौड़ का आगामी राज्य प्रतियोगिता के दौरान सम्मान किया जाएगा।

भावना ने दागे कुल 58 गोल
भारतीय टीम की भावना शर्मा वर्ल्ड चैंपियनशिप में सर्वाधिक गोल करने वाली खिलाड़ियों में तीसरे स्थान पर रहीं। भावना ने टूर्नामेंट में कुल 58 गोल किए। भारत की जस्सी ने 40 गोल किए और 16वें स्थान पर रहीं।

26वें स्थान पर रही टीम
भारतीय टीम पूल ए में नीदरलैंड, जापान और स्लोवाकिया के साथ थी। पूल में सभी मैच हारने के बाद स्थान निर्धारण मैचों में भारत को गुएना व अर्जेंटीना से हार का सामना करना पड़ा तथा भारत ने ईरान व चिली को हराते हुए 26वां स्थान हासिल किया। टूर्नामेंट में कुल 32 टीमों ने हिस्सा लिया।

Post Comment

Comment List

Latest News