हिस्ट्रीशीटर खादिम सलमान चिश्ती गिरफ्तार, दो दिन के रिमाण्ड पर 

बीती देर रात पुलिस ने घर से दबोचा, गहनता से पुलिस पूछताछ जारी, नुपूर शर्मा की गर्दन काटने वाले को सम्पत्ति गिफ्ट में देने का वीडियो वायरल करने का आरोप

हिस्ट्रीशीटर खादिम सलमान चिश्ती गिरफ्तार, दो दिन के रिमाण्ड पर 

भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नुपूर शर्मा की गर्दन काटने वाले व्यक्ति को अपनी सम्पत्ति गिफ्ट में देने के विवादित बयान का वीडियो वायरल करने वाले आरोपी हिस्ट्रीशीटर खादिम सलमान चिश्ती को दरगाह थाना पुलिस ने बीती देर रात गिरफ्तार कर लिया। पुलिस को अपने घर में देखकर आरोपी के होश उड़ गए। पुलिस ने उसे भागने का जरा भी मौका नहीं दिया। ऐसे में वह खुद ही हाथ जोड़कर खड़ा हो गया। जिसे पुलिस टीम दबोच कर थाने ले आई।

अजमेर। भाजपा की पूर्व प्रवक्ता नुपूर शर्मा की गर्दन काटने वाले व्यक्ति को अपनी सम्पत्ति गिफ्ट में देने के विवादित बयान का वीडियो वायरल करने वाले आरोपी हिस्ट्रीशीटर खादिम सलमान चिश्ती को दरगाह थाना पुलिस ने बीती देर रात गिरफ्तार कर लिया। पुलिस को अपने घर में देखकर आरोपी के होश उड़ गए। पुलिस ने उसे भागने का जरा भी मौका नहीं दिया। ऐसे में वह खुद ही हाथ जोड़कर खड़ा हो गया। जिसे पुलिस टीम दबोच कर थाने ले आई।

सीओ (दरगाह) संदीप सारस्वत ने बताया कि खादिम मोहल्ला दरगाह बाजार निवासी आरोपी खादिम सलमान चिश्ती को गहनता से पूछताछ करने के बाद बुधवार शाम न्यायाधीश के समक्ष उनके आवास पर पेश किया गया। जिसे न्यायाधीश ने दो दिन के पुलिस रिमाण्ड पर दरगाह थाना पुलिस को सौंप दिया। आरोपी को पेश करने के दौरान पुलिस का भारी जाप्ता तैनात किया गया था। सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम रहे। मौके पर सीओ दरगाह संदीप सारस्वत के अलावा सीओ नॉर्थ छवि शर्मा, दरगाह थाना सीआई दलबीर सिंह, सिविल लाइन थाना सीआई अरविन्द सिंह चारण, क्रिश्चियनगंज थाना सीआई डॉ. रवीश सामरिया सहित पुलिस के हथियारबन्द जवानों की टीम भी मौजूद रही। उल्लेखनीय है कि आरोपी ने सार्वजनिक रूप से अपने बयान का एक वीडियो वायरल किया था, जिसमें उसने नुपूर शर्मा की गर्दन काटने वाले को अपनी पूरी सम्पत्ति खुशी से गिफ्ट में देने का ऐलान किया था। उसके बाद से ही वह फरार चल रहा था। पुलिस ने इस मामले में उसके खिलाफ आईपीसी व आईटी एक्ट की विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

 मोबाइल की गहनता से होगी जांच

सीओ सारस्वत ने बताया कि रिमाण्ड के दौरान उस मोबाइल फोन को भी बरामद किया जाएगा, जिससे उसने विवादित वीडियो बनाया था। पुलिस को उसके मोबाइल की जांच में और भी साक्ष्य मिलने की उम्मीद है। पुलिस मोबाइल से यह भी जानकारी जुटाएगी कि आरोपी मामले से जुड़े अन्य किन-किन लोगों के सम्पर्क में था।  

 खादिम मोहल्ले में ही छिपा था

सीओ सारस्वत ने बताया कि आरोपी की लोकेशन मंगलवार देर रात खादिम मोहल्ला में ट्रेस की गई। मुखबिरतंत्र भी सक्रिय कर रखे थे। उसके वहां होने की पुख्ता सूचना मिलने पर रात को ही एडीशनल एसपी सिटी आईपीएस विकास सांगवान भी दरगाह थाने पहुंच गए थे। सीआई दलबीर सिंह व थाने के जाप्ते और जिला स्पेशल टीम की संयुक्त टीम बनाई गई। खादिम मोहल्ला संवेदनशील क्षेत्र होने के कारण पुलिस जाप्ते ने पहले आसपास के क्षेत्र को कवर किया। उसके बाद उस घर को घेर लिया, जहां सलमान छिपा हुआ था। उसे भागने का जरा भी मौका नहीं दिया। उसे वहां से दस्तयाब कर थाने लाया गया। जहां पूछताछ कर गिरफ्तार किया। 

खादिम मोहल्ले से लाना ही चुनौतीपूर्ण 

आरोपी हिस्ट्रीशीटर सलमान चिश्ती को खादिम मोहल्ला से लेकर आना भी पुलिस के लिए चुनौतीपूर्ण था। क्योंकि खादिम मोहल्ला समुदाय विशेष के लोगों का है। बड़ी संख्या में खादिम परिवार रहते हैं। जहां पुलिस कार्यवाही का पूर्व में भी कई बार खुलेआम विरोध किया जा चुका है। ऐसे में आरोपी सलमान को उसके ही घर से लेकर आना भी पुलिस के लिए बड़ी बात है। 

 अदालत में विरोध देख नहीं लाया गया 

अदालत में पेश करने के दौरान आरोपी के बयान से नाराज कुछ वकील एकत्रित हो गए थे, जो आरोपी के अदालत में पेशी के दौरान विरोध प्रदर्शन करने के लिए तैयार थे। ऐसे में सलमान पर भी गुस्साई भीड़ में से कोई हमला कर सकता था। सीओ सारस्वत व सीआई दलबीर सिंह ने मौके की नजाकत को देखते हुए तुरन्त सलमान को सुरक्षा की दृष्टि से अदालत में नहीं लाकर न्यायाधीश के घर पर पेश करने का फैसला लिया। ऐसे में शाम को नारेबाजी की गई। हालांकि पुलिस ने सुरक्षा के इंतजाम किए हुए थे। 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Post Comment

Comment List

Latest News