विश्वविद्यालय में दिखने लगा छात्रसंघ चुनावों का असर, विभिन्न मांगों पर प्रदर्शन

दोनों के कार्यकर्ता आमने-सामने हो गए

विश्वविद्यालय में दिखने लगा छात्रसंघ चुनावों का असर, विभिन्न मांगों पर प्रदर्शन

आरयू प्रशासन ने चुनाव सफलतापूर्वक करवाने के लिए 3 सदस्यों की कमेटी बनाई है। आरयू के सभी कर्मचारी शुक्रवार को कार्य बहिष्कार कर प्रदर्शन करेंगे।

जयपुर। राजस्थान विश्वविद्यालय पूरी तरह छात्रसंघ चुनाव का असर दिखने लगा है। एबीवीपी और एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने विभिन्न मांगों पर ना केवल प्रदर्शन किया, बल्कि दोनों के कार्यकर्ता आमने-सामने हो गए। आरयू प्रशासन ने चुनाव सफलतापूर्वक करवाने के लिए 3 सदस्यों की कमेटी बनाई है। आरयू के सभी कर्मचारी शुक्रवार को कार्य बहिष्कार कर प्रदर्शन करेंगे। एबीवीपी के कार्यकर्ता गुरुवार को आरयू के मुख्य द्वार पर एकत्रित हुए और विवेकानंद पार्क में सभा की। चुनाव से पूर्व एडमिशन प्रक्रिया पूरी करने की मांग पर नारे लगाए। इसके साथ ही चुनाव तिथि बदलने की भी मांग की। कार्यकर्ता रैली के रूप में कुलपति सचिवालय जा पंहुचे और आरोप लगाया कि जिस प्रकार का विवि प्रशासन का रवैया है। उससे प्रवेश परीक्षाएं चुनाव से पहले नहीं होने का अंदेशा है। इस मौके पर एबीवीपी के राष्ट्रीय मंत्री होशियार मीणा, राजेंद्र प्रजापति सहित एबीवीपी के विद्यार्थी मौजूद रहे।

यह भी रहा रोचक
एबीवीपी पिछले दो घंटे से विरोध कर रही थी, लेकिन विवि प्रशासन उनका ज्ञापन लेने नहीं आया। जैसे ही एनएसयूआई कुलपति सचिवालय पर विरोध करने पहुंची तो प्रशासन उन्हें तुरंत ही कुलपति सचिवालय के पिछले गेट से अंदर ज्ञापन के लिए ले गया। एनएसयूआई ने भी राजस्थान विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार प्रदर्शन किया और अपनी 3 सूत्रीय मांगों का कुलपति को ज्ञापन दिया। इससे पूर्व जब कार्यकर्ता विवि के मुख्य द्वार पर प्रदर्शन कर रहे थे, तो उनकी पुलिस से तनातनी हुई। कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि पुलिस पक्षपात कर रही है। एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं के वाहन कैंपस में घुसते ही जब्त कर रही है, जबकि अन्य संगठन के छात्र नेताओं व असामाजिक तत्वों के वाहन कैम्पस में आ रहे हैं।

एनएसयूआई नेताओं की 5 गाड़ियां जब्त
एनएसयूआई नेताओं की पांच गाड़ियों को जब्त कर लिया गया, लेकिन कोई कारण भी नहीं बताया जा रहा है। दूसरी ओर राविवि के मुख्य गेट पर बारिश का पानी भर जाता है, जिससे विद्यार्थियों को आने-जाने में काफी समस्या का सामना करना पड़ता है।

Read More प्रदेश के सर्वांगीण विकास के लिए आवश्यक है उद्यमों की स्थापना : रावत

परीक्षाओं की कवायद की तेज
उच्च शिक्षा संस्थानों में 26 अगस्त को होने वाले छात्रसंघ चुनाव की कवायद तेज हो गई है। परीक्षाएं जल्द करवाने में लग गया है। आरयू प्रशासन ने ग्रेडिंग और नॉन ग्रेडिंग स्कीम पर आधारित सेमेस्टर सिस्टम के सभी कोर्सेज के दूसरे, चौथे, छठे, आठवें और दसवें सेमेस्टर मई, 2022 के लिए ऑनलाइन आवेदन मांगे है। बिना लेट फीस विद्यार्थी 10 अगस्त तक और 100 रुपए लेट फीस के साथ 13 अगस्त तक आवेदन कर सकेंगे। दिव्यांग को आवेदन के लिए 600 रुपए शुल्क देना होगा। ऐसे स्टूडेंट्स जिन्हें सेमेस्टर के बकाया प्रश्नपत्रों की परीक्षा देनी है। उन्हें 720 रुपए शुल्क जमा करवाना होगा। अपना परीक्षा शुल्क ऑनलाइन ही जमा करवाना होगा।  

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News