एसएमएस से चोरी बच्चा मिला: दिव्यांश का अपहरण करने वाला भी गिरफ्तार

बांगड़ अस्पताल के बाहर से बुधवार शाम को 4 महीने का बच्चा हुआ था चोरी

एसएमएस से चोरी बच्चा मिला: दिव्यांश का अपहरण करने वाला भी गिरफ्तार

जयपुर से बड़ी खबर है। एसएमएस बांगड़ अस्पताल से चोरी हुए 4 महीन के दिव्यांश का जयपुर पुलिस ने पता लगा लिया है। जयपुर पुलिस ने चोरी हुए बच्चे को जयपुर से ही बरामद कर लिया है। जिससे ना केवल पुलिस ने राहत की सांस ली है। वहीं परिवारजनों की जान में जान आई है। वहीं इस मामले में पुलिस ने अपहरणकर्ता को भी गिरफ्तार किया है।

जयपुर। जयपुर से बड़ी खबर है। एसएमएस बांगड़ अस्पताल से चोरी हुए 4 महीन के दिव्यांश का जयपुर पुलिस ने पता लगा लिया है। जयपुर पुलिस ने चोरी हुए बच्चे को जयपुर से ही बरामद कर लिया है। जिससे ना केवल पुलिस ने राहत की सांस ली है। वहीं परिवारजनों की जान में जान आई है। वहीं इस मामले में पुलिस ने अपहरणकर्ता को भी गिरफ्तार किया है।

यह था मामला

बांगड़ अस्पताल के बाहर से बुधवार शाम को 4 महीने का बच्चा चोरी हो गया था। बच्चे का बड़ा भाई बांगड़ अस्पताल में भर्ती था। सूचना पर पहुंची एसएमएस थाना पुलिस ने हुलिए के आधार पर बच्चा चुराने वाले आरोपी की तलाश शुरू कर दी थी। पुलिस ने आरोपी के बताने पर 5 हजार का इनाम भी रखा था।

Read More जेल में मजदूर, मनरेगा में हाजिरी और हो गया भुगतान

पुलिस के अनुसार दिव्यांश उर्फ लक्की जोगी पुत्र अंकुर निवासी चांदराना, दौसा का बड़ा भाई करीब 4 दिन से अस्पताल में भर्ती था। अंकुर दादी-दादा के पास था। वहीं अंकुर की मां अस्पताल में भर्ती बड़े बेटे के पास थी। शाम करीब साढ़े 4  बजे दादा-दादी अंकुर को सूर्या  अस्पताल दिखाने गए थे। उस समय एक आदमी भी उनके साथ था। यहां से शाम करीब 5 बजे दादा दादी बच्चे को लेकर बांगड़ परिसर पहुंचे थे। उस समय भी वह आदमी उनके साथ था। इसी बीच दादी खाना लेने परिसर के बाहर आ गई। वह पति को खाना देकर अस्पताल में भर्ती बड़े पोते और बहू को खाना देने चली गई। दादा पोते के पास बैठकर खाना खा रहे थे। उस समय ऑरेंज कलर की शर्ट पहना वो आदमी नजर बचाकर बच्चे को चुरा ले गया। थोड़ी देर बाद दादी खाना देकर पोते के पास आई तो वो गायब मिला। इस पर उन्होंने तुरंत पुलिस को सूचना दी। सूचना पर डीसीपी ईस्ट डॉ राजीव पचार समेत आसपास के थानों का जाब्ता मौके पर पहुंचा। पुलिस ने बच्चे की तलाश के लिए सीसीटीवी कैमरे के फुटेज खंगालने शुरु किए। जांच में यह भी सामने आया है कि बच्चा चुराने वाला आरोपी दोपहर करीब 12 बजे से उनके साथ था। वहीं पुलिस ने कुछ संदिग्ध लोगों को भी राउंडअप किया था।

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News