शिक्षिका को जिंदा जलाना, मुख्यमंत्री जी के लिए बस एक मामला है : शेखावत

केंद्रीय जलशक्ति मंत्री ने सीएम गहलोत पर बोला जोरदार हमला

शिक्षिका को जिंदा जलाना, मुख्यमंत्री जी के लिए बस एक मामला है : शेखावत

गुरुवार को मुख्यमंत्री का एक वीडियो पोस्ट करते हुए शेखावत ने कहा कि मुख्यमंत्री जी को अपने ही राज्य खासकर राजधानी के बारे में कितना मालूम है, प्रेस कॉन्फ्रेंस के इस वीडियो से जान लीजिए।

जयपुर। केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर एक बार फिर जोरदार हमला बोला। गुरुवार को मुख्यमंत्री का एक वीडियो पोस्ट करते हुए शेखावत ने कहा कि मुख्यमंत्री जी को अपने ही राज्य खासकर राजधानी के बारे में कितना मालूम है, प्रेस कॉन्फ्रेंस के इस वीडियो से जान लीजिए। जनाब ने गृह मंत्रालय भी अपने पास रखा है, पुलिस इनके अंतर्गत आती है, इस पर भी वे अपनी बगल झांक कर पूछ रहे हैं "क्या मामला है"? एक शिक्षिका को राजधानी में जिंदा जला दिया जाना, इनके लिए बस एक मामला है और वो भी इन्हें नहीं पता।

साधु-संतों के खिलाफ बढ़ रहे अपराध
शेखावत ने कहा कि राजधानी जयपुर में एक पुजारी ने खुद को आग लगा ली। पिछले दिनों खनन माफिया के विरोध में संत ने आत्मदाह कर लिया था। वहीं संदिग्ध परिस्थितियों में पुजारियों के शव भी मिले हैं। राजस्थान सरकार का सनातन धर्म विरोधी चेहरा सबके सामने है, जिससे साधु-संतों के विरुद्ध लगातार अपराध बढ़ रहे हैं। संत-पुजारियों को भयाक्रांत करने के पीछे कांग्रेस की तुष्टिकरण नीति भी कारण हो सकती है।

Post Comment

Comment List

Latest News

भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुई सोनिया गांधी, राहुल ने कहा,  यात्रा को मिलेगी मजबूती भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुई सोनिया गांधी, राहुल ने कहा, यात्रा को मिलेगी मजबूती
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी जी भारत जोड़ो यात्रा में शामिल हुईं। इससे पहले कांग्रेस संचार विभाग के प्रभारी जयराम रमेश...
विकास के लिए धन की कोई कमी नहीं, आप मांगते-मांगते थक जाएंगे पर मैं देते-देते नहीं थकूंगा: गहलोत
दिल्ली के कपड़ा मार्केट में लगी भीषण आग, 1 व्यक्ति की मौत
फकीर आदमी हूं, मेरे यहां धेला नहीं मिलेगा और चुनाव में अखिलेश-जयंत की मदद करूंगा: सत्यपाल मलिक
बॉन्ड नीति के विरोध में रेजिडेंट डॉक्टर्स का अस्पतालों में पूर्णतया कार्य बहिष्कार
पूर्व पुलिसकर्मी ने चाइल्ड केयर सेंटर में की फायरिंग, 23 बच्चों समेत 34 लोगों की मौत
भारत में निर्मित कफ सिरप पीने से गाम्बिया में 66 बच्चों की मौत, डब्ल्यूएचओ ने दी चेतावनी