कांग्रेस ने अपने प्रवक्ताओं से किया अध्यक्ष चुनाव को लेकर टिप्पणी नहीं करने का आग्रह

चुनाव को लेकर अपना मत किसी मंच पर नहीं करना है व्यक्त

कांग्रेस ने अपने प्रवक्ताओं से किया अध्यक्ष चुनाव को लेकर टिप्पणी नहीं करने का आग्रह

कांग्रेस सूत्रों ने बताया कि इसमें कहा गया है कि चुनाव लड़ने के इच्छुक व्यक्ति को नामांकन फॉर्म भरने के लिए अपने समर्थन में फार्म पर मतदान के अधिकारी 10 प्रतिनिधियों के हस्ताक्षर कराने हैं और फिर उम्मीदवार बनने के लिए किसी की भी अनुमति लेने की आवश्यकता नहीं है।

दिल्ली। कांग्रेस ने अपने प्रवक्ताओं, पदाधिकारियों तथा पैनलिस्टों को 17 अक्टूबर को होने वाले पार्टी के नये अध्यक्ष के चुनाव को लेकर किसी भी तरह की टीका टिप्पणी नहीं करने की सख्त हिदायत दी है। कांग्रेस सूत्रों ने बताया कि सभी प्रवक्ताओं और पदाधिकारियों से आग्रह किया गया है कि कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ने वाले किसी भी सहयोगी को लेकर कहीं कोई टिप्पणी नहीं होनी चाहिए। हिदायत में कहा गया कि अध्यक्ष पद के उम्मीदवार को लेकर हमारी निजी प्राथमिकताएं हो सकती हैं लेकिन ध्यान रखना है कि अध्यक्ष के चुनाव को लेकर अपना मत किसी मंच पर व्यक्त नहीं करना है।

सूत्रों के अनुसार इसमें कहा गया है कि कांग्रेस एकमात्र राजनीतिक दल है जिसमें अध्यक्ष के चुनाव के लिए लोकतांत्रिक और पारदर्शी व्यवस्था है। संगठनात्मक चुनाव कराने के लिए एक प्राधिकरण है जो स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित करता है। सबको ध्यान रखना है कि चुनाव स्वतंत्र और निष्पक्ष हों और इस पर टिप्पणी नहीं करनी है। कांग्रेस सूत्रों ने बताया कि इसमें कहा गया है कि चुनाव लड़ने के इच्छुक व्यक्ति को नामांकन फॉर्म भरने के लिए अपने समर्थन में फार्म पर मतदान के अधिकारी 10 प्रतिनिधियों के हस्ताक्षर कराने हैं और फिर उम्मीदवार बनने के लिए किसी की भी अनुमति लेने की आवश्यकता नहीं है।

Post Comment

Comment List

Latest News