रबर बॉल से विकेट के पीछे खेलना सीखा: सूर्यकुमार यादव

दोस्तों के साथ घर के पास रबर की गेंद से क्रिकेट खेलता थे

रबर बॉल से विकेट के पीछे खेलना सीखा: सूर्यकुमार यादव

सूर्यकुमार ने कहा कि सामने की बाउंड्री 80-85 मीटर की होती हैं। यहां (ऑस्ट्रेलिया में) दाएं-बाएं की बाउंड्री भी करीब 70 मीटर की हैं। सिर्फ विकेट के पीछे ही 60-65 मीटर की छोटी बाउंड्री है। मैं इसके साथ प्रयोग करने का प्रयास करता हूं।

एडिलेड। भारत के 360 डिग्री बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव ने सोमवार को बताया कि उन्होंने बचपन में रबर बॉल से खेलते हुए विकेट के पीछे शॉट लगाना सीखा है। सूर्यकुमार ने बीसीसीआई की ओर से जारी एक वीडियो में अश्विन के साथ बातचीत में कहा कि मैं अपने शुरुआती दिनों में दोस्तों के साथ घर के पास रबर की गेंद से क्रिकेट खेलता था। वह 17-18 गज की पिच पर दौड़कर रबर की गीली गेंद फेंका करते थे। यह शॉट वहीं से आए हैं, मैं नेट में इनका अभ्यास नहीं करता।

सूर्यकुमार ने ज़िम्बाब्वे के खिलाफ भारत के आखिरी सुपर-12 मुकाबले में भी अपनी चौतरफा बल्लेबाजी का प्रदर्शन किया। उन्होंने 25 गेंदों पर 61 रन की नाबाद पारी खेली, जिसमें छह चौके और चार छक्के शामिल थे। 

सूर्यकुमार ने कहा कि सामने की बाउंड्री 80-85 मीटर की होती हैं। यहां (ऑस्ट्रेलिया में) दाएं-बाएं की बाउंड्री भी करीब 70 मीटर की हैं। सिर्फ विकेट के पीछे ही 60-65 मीटर की छोटी बाउंड्री है। मैं इसके साथ प्रयोग करने का प्रयास करता हूं।

Read More इक्कीस करोड़ डॉलर में सऊदी क्लब से जुड़ेंगे रोनाल्डो

Post Comment

Comment List

Latest News