भारत जोड़ो यात्रा को लेकर स्टेट कॉर्डिनेशन कमेटी की हुई बैठक, अशोक गहलोत के साथ नजर आए पायलट

दोनों के बीच अभिभावदन भी हुआ

भारत जोड़ो यात्रा को लेकर स्टेट कॉर्डिनेशन कमेटी की हुई बैठक, अशोक गहलोत के साथ नजर आए पायलट

कांग्रेस संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल की मौजूदगी में हुई बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट एक साथ नजर आए और दोनों के बीच अभिभावदन भी हुआ।

जयपुर। राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के राजस्थान में प्रवेश की तैयारियों को लेकर पीसीसी में स्टेट कॉर्डिनेशन कमेटी की बैठक हुई। कांग्रेस संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल की मौजूदगी में हुई बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट एक साथ नजर आए और दोनों के बीच अभिभावदन भी हुआ। बैठक में यात्रा की तैयारियों को अंतिम रूप देते हुए फाइनल रूट चार्ट पर मुहर लगाई गई। यात्रा 4 दिसम्बर से शुरू होकर 21 दिसम्बर तक कुल 523 किमी लंबी होगी। बैठक में पीसीसी चीफ गोविन्द सिंह डोटासरा सहित कमेटी के सदस्य मौजूद रहे। बैठक के बाद बंद कमरे में वेणुगोपाल, गहलोत, पायलट, और डोटासरा की मुलाकात हुई, जिसमें वेणुगोपाल ने सभी को आलाकमान का संदेश स्पष्ट कर दिया। बैठक के बाद वेणुगोपाल ने मीडिया के सामने गहलोत और पायलट के हाथ उठाकर कांग्रेस में एकजुटता का संदेश देने की तस्वीर भी खिंचवाई। दोनों नेताओं ने भी कांग्रेस में एकजुटता से यात्रा को सफल बनाने का आह्वान किया।  

सभी नेता एकजुट, राजस्थान में यात्रा रहेगी नंबर वन
मीडिया से बात करते हुए वेणुगोपाल ने कहा कि राजस्थान में 4 से 21 दिसबंर तक 523 किमी यात्रा निकलेगी। कुल 18 दिन की यात्रा में छोटे से लेकर बडेÞ कार्यकर्ता और नेता सभी साथ रहेंगे। यात्रा में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट की एकजुटता के साथ राजस्थान में यह यात्रा नंबर वन रहेगी। हम लोग एकजुट हैं। बैठक में गहलोत और पायलट दोनों ने कह दिया कि दोनों मिलकर यात्रा निकालेंगे और 2023 में चुनाव भी जीतेंगे। मीडिया के सामने वेणुगोपाल ने दोनों नेताओं के हाथ ऊपर उठाकर एकजुटता का संदेश भी दिया। एडवाइजरी के बावजूद नेताओं के बयानों पर कहा कि एडवाइजरी के बाद जितने भी नेताओं ने बयान दिए हैं, उन पर कार्रवाई के लिए नेताओं की सूचना पीसीसी चीफ से मांगी है।

भाजपा नेताओं के उकसावे में नहीं आए राहुल : गहलोत 
मंहगाई, बेरोजगारी, तनाव जैसे ज्वलंत मुद्दे देश में है, ऐसे में यात्रा का संदेश पूरे देश में जा रहा है। राहुल की यात्रा में उमड़ी भीड़ से भाजपा नेता चिंतित हो गए हैं। बौखलाए भाजपा नेता कई जगह दवाब बनाकर माहौल खराब करने की कोशिश कर रहे हैं। यात्रा समापन के बाद देश में चुनौती के माहौल को जनता पहचानेगी। भाजपा नेताओं के उकसावे में भी राहुल गांधी नहीं आ रहे हैं। गहलोत ने कहा कि गुजरात में भी चौंकाने वाले परिणाम आ सकते हैं। आज की बैठक में सभी एकजुट हैं। राहुल गांधी ने अपने बयान में एसेट बता दिया, तो सबको संदेश मिल गया कि मिलकर पार्टी के हित में काम करना है। हमारे लिए अगला चुनाव जीतना जरूरी है।

पार्टी और राहुल गांधी को आगे रखेंगे : पायलट 
राजस्थान में यात्रा को लेकर हमने विस्तार से चर्चा की है। राजस्थान में यात्रा के झालावाड़ में प्रवेश के साथ ही सबसे ज्यादा उत्साह और स्वागत होगा। राहुल देश में प्यार मोहब्बत का पैगाम लेकर पहुंच रहे हैं। सभी लोगों के मुद्दे राहुल गांधी उठा रहे हैं, जिसकी आज जरूरत है। सच यह है कि भाजपा के पास जवाब देने को कुछ नहीं है। राजस्थान में इस ऐतिहासिक यात्रा में लाखों लोग अपनी जुड़ेंगे। प्रदेशवा्र के लोगबों की ओर से संदेश देता हूं कि हम सब कांग्रेस कार्यकर्ता एकजुट होकर पार्टी और राहुल गांधी को आगे रखेंगे। 

 

Tags: Congress

Post Comment

Comment List

Latest News