किशनगंज में बेखौफ चल रहा अवैध खनन, दो ट्रैक्टर ट्रॉली जब्त

पार्वती नदी क्षेत्र का मामला

किशनगंज में बेखौफ चल रहा अवैध खनन, दो ट्रैक्टर ट्रॉली जब्त

क्षेत्र में अवैध खनन के चलते पर्यावरण को नुकसान होने के साथ ही सरकार को भी राजस्व का नुकसान हो रहा है। वहीं कस्बे व गांवों में से होकर गुजरने वाले अवैध खनन के टैक्टर ट्राली के तेज गति से निकलने के कारण आए दिन दुघर्टना का खतरा बना रहता है।

 किशनगंज। कस्बे के समीप से गुजर रही पार्वती नदी में इन दिनों अवैध खनन धड़ल्ले के साथ हो रहा था। भोर होने के साथ ही पार्वती नदी के कामकाज से लेकर नेशनल हाईवे व रामगढ़ क्षेत्र तक बड़ी संख्या में खनन माफियाओं का नेटवर्क शुरू हो जाता था। मजदूरों के द्वारा हथोड़े से पत्थरों को तोडकर नदी पेटे का सीना चीरा जा रहा था।  वहीं शनिवार को किशनगंज थानाधिकारी योगेश शर्मा  अवैध खनन एवं परिवहन के विरूद्व बारां पुलिस एवं प्रशासन की सयुक्त कार्यवाही करते हुए  किशनगंज क्षेत्र में 2 टैक्ट्रर-ट्रोली जब्त कर कार्यवाही के लिए खनन विभाग को सुपुर्द किया। थानाधिकारी शर्मा ने बताया कि अवैध खनन के विरूद्व आगे भी कार्यवाही जारी रहेगी। पुलिस अधीक्षक राज कुमार चौधरी ने बताया कि अपराधों की रोकथाम व अवैध बजरी, पत्थर खनन एवं परिवहन की रोकथाम के लिए सभी वृताधिकारियों एवं थानाधिकारियों कोे निर्देश दिये हैं। जिसके क्रम में जिले में बजरी व पत्थरों के अवैध खनन व परिवहन कतार्ओं के विरूद्ध लगातार कार्यवाहियां जारी है। इस पर जिले में पुलिस विभाग के साथ बारां प्रशासन, खनिज विभाग, वन विभाग एवं परिवहन विभाग की अवैध खनन एवं परिवहन के विरूद्व संयुक्त रूप से कार्यवाही की। 

सरकार को भी राजस्व का नुकसान
क्षेत्र में अवैध खनन के चलते पर्यावरण को नुकसान होने के साथ ही सरकार को भी राजस्व का नुकसान हो रहा है। वहीं कस्बे व गांवों में से होकर गुजरने वाले अवैध खनन के टैक्टर ट्राली के तेज गति से निकलने के कारण आए दिन दुघर्टना का खतरा बना रहता है। यही नहीं खनन माफियाओं ने नदी के छोर पर जगह-जगह पर झोपड़ियां बनाकर मजदूरों के आशियाने में बना दिया है।  

बड़ी दुर्घटना होने का खतरा
रामगढ़ क्षेत्र की पार्वती नदी के बिसलाई क्षेत्र में नदी के आसपास के इलाकों में अवैध खनन के चलते बडी दुर्घटना का हमेशा खतरा बना रहता है।  अवैध खनन माफियाओं ने नदी पर बड़ी-बड़ी मशीनें जेसीबी पोकलेन एवं बोट का उपयोग कर भारी मात्रा में अवैध खनन कर रहे है। जिससे अवैध खनन के दौरान बड़ी दुर्घटना होने का भी खतरा बना रहता है। पार्वती नदी के बिसलाई क्षेत्र में से रोज ट्रॉली अवैध बजरी खनन किया जा रहा था।  

पार्वती नदी क्षेत्र में मशीनों से अवैध खनन होने की जानकारी मिली थी। इस पर शनिवार को उचित कार्यवाही की गई। 
- सुधांशु शर्मा, माइनिंग अधिकारी। 
 
अपराधों की रोकथाम व अवैध बजरी, पत्थर खनन एवं परिवहन की रोकथाम के लिए सभी वृताधिकारियों एवं थानाधिकारियों कोे निर्देश दिए हैं,  बजरी व पत्थरों के अवैध खनन व परिवहन कर्ताओं के विरूद्ध लगातार कार्यवाही जारी रहेगी। 
- राज कुमार चौधरी, पुलिस अधीक्षक। 

Read More  सफाई व्यवस्था हो रही बदहाल, दुर्गंध से आमजन बेहाल

Post Comment

Comment List

Latest News

जेडीए ने अवैध निर्माण किए ध्वस्त, 200 से अधिक अवैध निर्माणों को तोड़ा जाएगा जेडीए ने अवैध निर्माण किए ध्वस्त, 200 से अधिक अवैध निर्माणों को तोड़ा जाएगा
शहर में अवैध निर्माण एवं अतिक्रमणों को लेकर की जा रही कार्रवाई के दौरान जयपुर विकास प्राधिकरण के प्रवर्तन दस्ते...
सदन में अब नहीं चल पाएगी भाजपा की मनमानी: कांग्रेस
"स्वस्थ और तंदुरुस्त राजस्थान": इस बार के बजट में चिकित्सा और स्वास्थ्य पर होगा सर्वाधिक फोकस
डंपर चालक ने ली बाइक सवार की जान
जनता के सामने एक्सपोज हो चुकी मोदी की गारंटी: गहलोत
मोदी 30 जून को करेंगे मन की बात, देशवासियों से मांगे सुझाव
High Court के निर्देश पर अवैध खनन के खिलाफ जांच अभियान