एसएसबी में समय से पूर्व कर्मिकों का पलायन

केंद्र पर 3 बजे बाद गायब हो जाते है चिकित्सा कार्मिक, अधिकारियों का नही ध्यान, मॉनिटरिंग जरूरी, अधिकांश जगह का यही हाल

एसएसबी में समय से पूर्व कर्मिकों का पलायन

सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में इन दिनों धीमी गति से वैक्सीनेशन हो रहा है। इसकी एक वजह कर्मिकों का पलायन है। क्योंकि, टीका कार्मिक यहां समय से पूर्व गायब हो जाते है।

कोटा। सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में इन दिनों धीमी गति से वैक्सीनेशन हो रहा है। इसकी एक वजह कर्मिकों का पलायन है। क्योंकि, टीका कार्मिक यहां समय से पूर्व गायब हो जाते है। शनिवार को भी सेंटर पर ऐसी स्थिति रही। शाम 3 बजे दो साइट से कार्मिक नदारद थे। चिकित्सा विभाग ने यहां तीन केंद्र बनाए है। इनमें से केवल एक सेंटर पर महिला कार्मिक उपस्थित थी। महिला कार्मिक से इस संबंध में जानकारी लेने पर सम्बंधित के घरेलू काम होने से जाने की बात कही। ऐसी स्थिति यहां रोज की है। कोई न कोई कर्मचारी नदारद रहा है। खास बात ये है कि सेंटर के सामने अस्पताल अधीक्षक का कार्यालय है। इसके बावजूद कर्मचारी गायब है। ऐसे में अधिकारियों की मॉनिटरिंग पर सवाल उठ रहे है।

446 केन्द्रों पर सेशन
कोटा शहर में कोविड की रोकथाम के लिए टीका करण शिविर आयोजित किया जा रहा है, लेकिन इन सेंटरों पर कार्मिक नही रहते है। चिकित्सा विभाग ने कोटा जिले में 446 सेंटर स्थापित किये है। इनमें अधिकांश पर 3 बजे बाद कार्मिक नही मिलने की शिकायत रहती है। ग्रामीण क्षेत्रों में तो बुरी स्थिति है। कोटा शहर में भी हालात नही सुधरे है। उधर, अस्पताल अधीक्षक डॉ नीलेश जैन का कहना है कि इस मामले की जानकारी लेते है। जल्द आवश्यक कदम उठाए जाएंगे।

Post Comment

Comment List

Latest News