दुर्लभ प्रजाति की बत्तख से लोगों में उत्सुकता, आकर्षण का बनी केंद्र

आसपास के प्रदेशों में भी कम ही दिखाई देती है

दुर्लभ प्रजाति की बत्तख से लोगों में उत्सुकता,  आकर्षण का बनी केंद्र

पक्षी प्रेमी और प्रकृतिविद किशन मीना ने यह पक्षी 8 फरवरी को पहली बार बरखेड़ा में देखा और अगले 4 दिन तक पक्षीविद् किशन मीना, कर्नल प्रदीप सांगवान और वाइल्डलाइफ फोटोग्राफर मृदुल वैभव ने इस पक्षी को ऑब्जर्व किया।

जयपुर। शहर में लोगों के बीच एक दुर्लभ प्रजाति की बत्तख ने लोगों में उत्सुकता बढ़ा दी है। चंदलाई बरखेड़ा में यह बेहद ही खूबसूरत और दुर्लभ चिड़िया दिखी। टुंड्रा वनों की मूलनिवासी इस चिड़िया का नाम 'लेसर वाइट फ्रंटिड गूज़' है। यह चिड़िया जयपुर में पहली बार दिखाई दी है। यह राजस्थान या आसपास के प्रदेशों में भी कम ही दिखाई देती है। डार्क चॉकलेट ब्राउन रंग, दमकता सफेद माथा, आंख पर पीली रिंग और चोंच एकदम पिंक कलर की यह चिड़िया फिलहाल जयपुर में आकर्षण का केंद्र बनी हुई है। दस साल पहले यह चिड़िया पहली बार चर्चा में आई थी। जब इसे सरिस्का बाघ परियोजना से लगती आबादी टहला के आसपास देखा गया था। दरअसल यह पक्षी 'एग्रीमेंट ऑन दॅ कंजर्वेशन ऑव ऐफ्रिकन-यूरेशियन माइग्रेटरी वाटरबर्ड्स (एईडब्लूए)' के तहत 'क्रिटिकली एंडेंजर्ड' श्रेणी में है।

पक्षी प्रेमी और प्रकृतिविद किशन मीना ने यह पक्षी 8 फरवरी को पहली बार बरखेड़ा में देखा और अगले 4 दिन तक पक्षीविद् किशन मीना, कर्नल प्रदीप सांगवान और फोटोग्राफर मृदुल वैभव ने इस पक्षी को ऑब्जर्व किया और तस्वीरें ली। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि यह वाक़ई दुर्लभ पक्षी है और यह जयपुर में पहली बार और प्रदेश में तीसरी बार देखा गया है। यह ग्रेटर वाइट फ्रंटेड गूज़ जैसा ही है। यह यूरोप के जंगलों में ही अधिकतर रहता है और कभी-कभार बाहर आता है, लेकिन फिर भी भारत या पाकिस्तान की तरफ भूले भटके या मन में लहर उठने पर आ जाए, तो आ जाए।

Tags: duck

Post Comment

Comment List

Latest News

उच्च गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए राज्य बजट में शामिल किए जाएंगे शिक्षकों के सुझाव: भजनलाल उच्च गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के लिए राज्य बजट में शामिल किए जाएंगे शिक्षकों के सुझाव: भजनलाल
राजस्थान के मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने शिक्षकों को विद्यार्थियों के मित्र एवं मार्गदर्शक तथा उनकी राष्ट्रनिर्माण में अहम भूमिका बताते...
Upcoming Week of Stock Market : जीएसटी परिषद के नतीजों का बाजार पर रहेगा असर
भजनलाल सरकार 5 साल में नहीं कर पाएगी एक भी भर्ती, भाजपा-आरएसएस की सोच घातक: डोटासरा
गौ रक्षार्थ 11 कुंडीय गायत्री महायज्ञ का हुआ आयोजन
NEET Paper Leak Conflict : सीबीआई ने दायर की पहली FIR, शिक्षा मंत्रालय की शिकायत पर हुई दर्ज
केन्या में कर वृद्धि के विरोध में प्रदर्शन, 2 लोगों की मौत
दो समुदाय के बीच पथराव के बाद सन्नाटा, 5 लोग गिरफ्तार