इंडिया समूह का घोषणा पत्र देखकर हताश हो रही है भाजपा : महबूबा

किसानों को ऋण माफी देने का वादा किया है

इंडिया समूह का घोषणा पत्र देखकर हताश हो रही है भाजपा : महबूबा

भाजपा इंडिया समूह के घोषणापत्र पर लोगों का समर्थन देखकर घबरा रही है, जिसमें उन्होंने 30 लाख नौकरियां, महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण और किसानों को ऋण माफी देने का वादा किया है।

श्रीनगर। पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष एवं जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने दावा किया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) इंडिया समूह के घोषणापत्र को देखने के बाद हताशा महसूस कर रही है, जिसमें गरीब लोगों, बेरोजगारी और किसानों के मुद्दों को जोरदार ढंग से उठाया गया है। अनंतनाग संसदीय सीट से लोकसभा चुनाव लड़ रहीं मुफ्ती दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले में अपने रोड शो के दौरान संबोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि भाजपा इंडिया समूह के घोषणापत्र पर लोगों का समर्थन देखकर घबरा रही है, जिसमें उन्होंने 30 लाख नौकरियां, महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण और किसानों को ऋण माफी देने का वादा किया है।

यह पूछे जाने पर कि क्या भाजपा भारत गठबंधन के घोषणापत्र की आलोचना कर रही है, उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने पिछले 70 वर्षों के दौरान पहली बार जन समर्थक घोषणापत्र जारी किया है जिसमें गरीबों, बेरोजगारी और किसानों के मुद्दों को उठाया गया है और इतने अच्छे घोषणापत्र के साथ भाजपा और इसके नेता घबराहट महसूस कर रहे हैं, इसलिए हताशा में हिंदू-मुस्लिम कार्ड खेल रहे हैं। एक अन्य सवाल के जवाब में पीडीपी अध्यक्ष ने कहा कि मैंने नेशनल कॉन्फ्रेंस (नेकां) की आलोचना नहीं की है। मैंने सिर्फ इतना कहा कि यह नेकां और पीडीपी के बीच की लड़ाई नहीं है। यह जम्मू-कश्मीर के लोगों के अस्तित्व की लड़ाई है। अगर हमने समझदारी से ऐसी आवाज संसद में नहीं भेजी, जो बिना किसी डर के वहां अपनी बात रखे तो हमारा अस्तित्व खतरे में है। मुफ्ती ने नेकां, कांग्रेस, माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी और अन्य दलों से उनका समर्थन करने का आग्रह किया। उन्होंने दावा किया कि पहाड़ी, गुजर और बकरवाल भी इस बार पीडीपी को अपना समर्थन दे रहे हैं।

 

Tags: addressed

Post Comment

Comment List

Latest News