एचआईवी महिला मरीज की सफल नी रिप्लेसमेंट सर्जरी

रिप्लेसमेंटन सर्जरी का यह पहला मामला है

एचआईवी महिला मरीज की सफल नी रिप्लेसमेंट सर्जरी

शहर के दुर्गापुरा स्थित निजी अस्पताल में 136 किलो वजन वाली एचआईवी पॉजिटिव महिला मरीज की नी रिप्लेसमेंट सर्जरी की।

जयपुर। शहर के दुर्गापुरा स्थित निजी अस्पताल में 136 किलो वजन वाली एचआईवी पॉजिटिव महिला मरीज की नी रिप्लेसमेंट सर्जरी की। डॉक्टर्स ने दावा किया है कि शहर में इतने वजन के साथ एचआईवी पॉजिटिव मरीज की सफल नी रिप्लेसमेंटन सर्जरी का यह पहला मामला है। सीके बिरला हॉस्पिटल के सीनियर जॉइंट रिप्लेसमेंट सर्जन डॉ. आशीष शर्मा ने बताया कि विदेश से आई एक मरीज के घुटने में दर्द की समस्या, अत्यधिक बढ़ा हुआ वजन और उसके अलावा वह एचआईवी पॉजीटिव थी। जयपुर में वे पहले अपने एक घुटने की समस्या से निजात पाने के लिए नी रिप्लेसमेंट सर्जरी करवा चुकी थी। इस केस में सबसे बड़ी चुनौती उनका एचआईवी पॉजिटिव होना भी था। एड्स के कारण लो इम्यूनिटी होने से कई दूसरे संक्रमण मरीज को घेर लेते हैं। इन मरीजों को बाद में भी संक्रमण होने का खतरा अधिक रहता है। इसके लिए अल्ट्रा क्लीन ओटी, रूम, वार्ड की व्यवस्था होनी आवश्यक है।

पैरामेडिकल स्टॉफ को अपना बचाव करना भी जरूरी है
डॉ. आशीष ने बताया कि ऐसे मरीजों का उपचार करते समय चिकित्सकों, नर्सिंग और पैरामेडिकल स्टॉफ को अपना बचाव करना भी जरूरी है। अगर किसी को यह संक्रमण हो जाता है तो इसका उपचार लंबा और बहुत स्लो होता है। कोरोना की तरह ही ऐसे में मरीजों का उपचार करते समय पीपीई किट और अन्य कई तरह कि सावधानिया भी रखी गई।

Post Comment

Comment List

Latest News