आप भी हैं सुबह से रात तक टेंशन के शिकार, तो ट्राय करें ये उपाय

संगीत बजा दें और करें अपने रोजमर्रा के कामों की शुरुआत

आप भी हैं सुबह से रात तक टेंशन के शिकार, तो ट्राय करें ये उपाय

सुबह उठते ही चाय से लेकर नाश्ते की टेंशन। आॅफिस जाना है तो समय पर पहुंचने की टेंशन, दिनभर आॅफिस में काम की टेंशन। बिजनस है तो मंदी की टेंशन। हाउस वाइफ हैं तो गर्मियों की छुट्टी में बच्चों की धमाचौकड़ी की टेंशन,ऐसे में एक बार सुबह की शुरुआत संगीत के साथ कर के देखें ।

आप भी हैं सुबह से रात तक टेंशन के शिकार, तो  ट्राय करें ये उपाय सुबह उठते ही चाय से लेकर नाश्ते की टेंशन। आॅफिस जाना है तो समय पर पहुंचने की टेंशन, दिनभर आॅफिस में काम की टेंशन। बिजनस है तो मंदी की टेंशन। हाउस वाइफ  हैं तो गर्मियों की छुट्टी में बच्चों की धमाचौकड़ी की टेंशन,ऐसे में एक बार सुबह की शुरुआत संगीत के साथ कर के देखें ।

संगीत और सुकून  

इतिहास की दृष्टि से देखें तो संगीत सिंधु घाटी सभ्यता काल से है, ऐसे प्रमाण मिलते हैं। वेदों में भी संगीत का उल्लेख है।यहां मुद्दा संगीत कब से है, न हो कर ये है कि जहां है, वहां सुकून है।  किसी को क्लासिकल बहुत पसंद है, तो कोई बिलुकल नहीं सुन पाता। किसी को वेस्टर्न म्यूजिक अपनी ओर खींचता है तो कोई सूफी का दीवाना है। फंडा ये कि आपको जिस भी तरह का म्यूजिक पसंद है उसे सुनिए। कोशिश कीजिए की सुबह उठते ही मध्यम आवाज के साथ अपने म्यूजिक सिस्टम या फोन पर संगीत बजा दें और उसके साथ अपने रोजमर्रा के कामों की शुरुआत करें।

Read More दिमाग के धनी पर बने गुब्बारे (एन्यूरिज्म) का क्लिपिंग द्वारा सफल ऑपरेशन

हार्मोन्स और म्यूजिक 

समय-समय पर इसे लेकर क्लीनिकल एक्सपेरिमेंट होते रहे हैं, जिसके रिजल्ट बताते हैं कि संगीत तनाव को दूर करने में मददगार साबित होता है।  सुबह उठकर अगर संगीत सुना जाए तो हमारे ब्रेन में एंडोर्फिन, डोपामिन और सिरोटीलिन नाम के हार्मोन सीक्रेट होते हैं। इन हार्मोन्स के स्त्रावित होने से हम चुस्त रहते हैं। इने हैप्पीनेस के हार्मोन से भी जाना जाता है। ये हार्मोन्स हमें खुश भी बनाए रखते हैं और काम दिल से करने की प्रेरणा देते हैं।

सुबह की शुरुआत 

Read More आयुर्वेदिक, यूनानी दवाओं के लिए भी अब प्रिस्क्रिप्शन जरूरी: बिना चिकित्सक की पर्ची के ऑनलाइन भी नहीं मंगा सकेंगे ये दवाई

संगीत से जुड़े कलाकार संतोष पांडे का कहना है कि सुबह संगीत सुनने से सारा दिन सुरमई हो जाता है। वैसे कहा जाता है कि अंत भला तो सब भला लेकिन संगीत इससे उलट है। विशेषकर हिंदुस्तानी संगीत में दिन की शुरुआत भैरव थाट के रागों से होती है। अध्यात्म से परिपूर्ण प्रार्थना और मंगलकामना के भावों से भरा संगीत आपको नए दिन की शुरुआत के लिए अपार ऊर्जा और विश्वास देता है।

Post Comment

Comment List

Latest News