कोटा दक्षिण वार्ड 71- पानी की किल्लत से जूझ रहे वार्डवासी

टूटी सड़कें, बदहाल नालियां बन रही वार्ड की पहचान

 कोटा दक्षिण वार्ड 71- पानी की किल्लत से जूझ रहे वार्डवासी

शहर के कोटा दक्षिण वार्ड 71 में टूटी सड़के, बदहाल नालियां वार्ड की पहचान बन रही हैं। वार्ड में लोग बुनियादी सुविधाओं से जूझ रहे हैं।

कोटा । शहर के कोटा दक्षिण वार्ड 71 में टूटी सड़के, बदहाल नालियां वार्ड की पहचान बन रही हैं। वार्ड में लोग  बुनियादी सुविधाओं से जूझ रहे हैं।  वार्ड में जलनिकासी की समुचित  व्यवस्था तक नहीं हैं। वार्ड के लोग पानी की भारी किल्लत से जूझ रहे हैं। वार्ड में लंबे समय से पानी की सप्लाई भी नहीं दी जा रही। जिसके चलते यहां के लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा हैं। वार्ड के अनेक लोग महंगे दामों पर पानी के टैेंकर मंगवा रहे हैं। लेकिन आर्थिक रुप से कमजोर लोगों को पानी के लिए इधर-उधर भटकना पड़ रहा  हैं। स्थानीय लोगों का कहना हैं की वार्ड में 15 मिनट भी पानी नहीं आता। स्थानीय लोगों का कहना  हैं की अधिकारियों-कर्मचारियों की लापरवाही  की लापरवाही के कारण पानी सप्लाई नहीं हो रही । इस समस्या को लेकर वार्ड के लोगों ने कई बार जलदाय विभाग को लिखित और मौखिक रूप से शिकायत भी की जा चुकी हैं।

जगह-जगह कर रखी है खुदाई
स्थानीय लोगों ने बताया हैं की आरयूआईडीपी द्वारा वार्ड क्षेत्र में जगह-जगह खुदाई करवाकर छोड़ी गई हैं। वार्ड में हर जगह गहरे गड्ढे बने हुए हैं। बारिश के समय इन गड्ढों में पानी भर जाता हैं, जिसके कारण आए दिन हादसे होते रहते हैं। इन गड्डों की वजह से बारिश का पानी लोगों के मकानों तक पहुंच जाता हैं, जिससे मकानों में सीलन आ जाती हैं और मकान गिरने का खतरा भी बना रहता हैं।

घरों में घुसने लगा पानी
स्थानीय लोगों का कहना हैं की पानी निकासी की नालियां अवरुद्ध होने से गंदा पानी घरों में घूसने लगा हैं। बारिश के समय में वार्ड की गलियां पानी से लबालब हो जाती हैं। जिसकी वजह से स्थानीय लोगों का घरों से निकलना भी मुश्किल हो जाता हैं। और लोग घरों में दुबके रहते हैं। पूरे वार्ड क्षेत्र में जलभराव होने से यहां गली मोहल्लों में कीचड़ पसरा रहता हैं। इसके चलते लोगों को खासी परेशानी होती हैं। लोगों ने बताया की जलनिकासी की वयवस्था समुचित कराने को काफी बार कहा गया हैं, लेकिन कोई सुनने को तैयार नहीं हैं।

क्षतिग्रस्त सड़कों से हो रहे हादसे
वार्ड की सड़के पूरी तरह से जगह-जगह से क्षतिग्रस्त होकर टूट चूकी हैं। अब यह टूटी सड़के हादसों का कारण बन रही हैं। वार्ड की सड़को की हालत इतनी खराब हैं की अब इन पर पैदल चलना भी मुश्किल हो गया हैं। सड़के बनवाने के लिए कई बार प्रशासन व जनप्रतिनिधियों को पत्र लिखे जा चुके हैं और अवगत भी करवाया जा चुका हैं। लेकिन आज तक किसी ने भी इसकी और कोई ध्यान नहीं दिया। वार्ड के साथ राजनितिक भेदभाव किया जा रहा हैं।

यह हैं वार्ड क्षेत्र
तलवंडी सेक्टर 02 व 03, आधा इन्द्र विहार, जवाहर नगर थाने के पीछे का क्षेत्र।

वार्डवासी परेशान
सम्पूर्ण वार्ड क्षेत्र में बिजली पानी की समस्या से स्थानीय लोग परेशान हैं। वार्ड के साथ राजनितिक भेदभाव किया जाता हैं। वार्ड के लोग पानी के लिए दर-दर भटक रहे हैं। लेकिन प्रशासन कुंभकर्णीय नींद सौ रहा हैं। वार्ड में अनेक जगह गहरे गड्ढें खोदकर छोड़ दिए गए हैं जो अब हादसों को न्यौता दे रहे हैं।
- विवेक राजवंशी, पार्षद

प्रशासन नहीं दे रहा ध्यान
वार्ड क्षेत्र अनेक समस्याओं से भरा पड़ा हैं। लेकिल प्रशासन कोई ध्यान नहीं दे रहा। वार्ड विकास से कोसों दूर हैं। वार्ड में पीने तक का पानी नहीं मिल पाता। कचरे का नियमित रुप से उठाव नहीं हो पाता। टूटी सड़के हादसों को न्यौता दे रही हैं। लेकिन सूध लेने वाला कोई नहीं हैं।
- दुर्गेश शर्मा, स्थानीय निवासी

बिजली की कटौती से परेशानी
दिन में लगभग 6 से 7 बार बिजली की कटौती होती है। बिजली कटौती के कारण नियमित होने वाले कार्य भी पूरे नहीं हो पाते। बिजली किल्लत के साथ-साथ पीने के पानी की समस्या भी उत्पन्न हो जाती हैं।
- ताराचंद खत्री, स्थानीय निवासी
 

Post Comment

Comment List

Latest News